• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Jabalpur
  • NSA's Warrant Issued, Police Took Out Procession, 22 Crimes Are Registered, Reward Of 10 Thousand Was

11 महीने से फरार भू-माफिया कज्जू गिरफ्तार:NSA का जारी हुआ वारंट, पुलिस ने निकाला जुलूस, 22 अपराध हैं दर्ज, 10 हजार का था इनाम

जबलपुर10 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
शातिर बदमाश और भू-माफिया का पुलिस ने निकाला जुलूस। - Dainik Bhaskar
शातिर बदमाश और भू-माफिया का पुलिस ने निकाला जुलूस।

शातिर बदमाश और भू-माफिया कज्जू उर्फ कदीर को अधारताल पुलिस ने 11 महीने बाद गिरफ्तार किया। आरोपी पर 22 अपराध दर्ज हैं। उसकी गिरफ्तारी पर 10 हजार रुपए का इनाम था। शनिवार काे जिला दंडाधिकारी ने एनएसए का भी वारंट जारी किया। पुलिस ने जुलूस निकाला, इसके बाद कोर्ट में उसे पेश किया गया।

अधारताल पुलिस के मुताबिक शातिर बदमाश कज्जू उर्फ अब्दुल कदीर खान निवासी आदर्श कालोनी कुरैशी मार्बल के पीछे अधारताल पिछले 11 महीने से फरार था। इस भू-माफिया पर 22 अपराध हत्या प्रयास, विस्फोटक पदार्थ अधिनियम, अवैध वसूली, आर्म्स एक्ट, मारपीट और धोखाधड़ी आदि के दर्ज हैं। मूल अपराध में गिरफ्तार करने के बाद पुलिस ने शनिवार 11 दिसंबर को उसका एनएसए का प्रतिवेदन एसपी सिद्धार्थ बहुगुणा की अनुशंसा पर जिला दंडाधिकारी कर्मवीर शर्मा के सामने पेश कराया था। वहां से एनएसए का वारंट जारी करने के बाद पुलिस ने इस मामले में भी उसे गिरफ्तार किया।

शातिर बदमाश कज्जू उर्फ अब्दुल कदीर खान
शातिर बदमाश कज्जू उर्फ अब्दुल कदीर खान

अवैध कॉलोनी बनाकर लोगों को बेच डाला था प्लॉट

आरोपी ने गुरदा में खसरा न. 17/1 , 17/2, 27, 52, 56/1, 56/3, 57/1, 58/2, 59, 65, 88/1, 89/1, 117, 121/1, 125, 148 की जमीन पर अवैध कॉलोनी बनाकर प्लाटिंग की जा रही थी। आरोपी के पास मप्र नगर पालिका कालोनायजर रजिस्ट्रीकरण निर्बंधन एवं शर्तों नियत 1998 का लाइसेंस भी नहीं था। इसके अलावा उसने नजूल सीलिंग विभाग से एनओसी भी प्राप्त नहीं की थी। न ही आरोपी ने कॉलोनी विकास की अनुमति ली थी। आरोपी के खिलाफ 10 जनवरी 2021 को अधारताल में प्रकरण दर्ज कराया गया था।

30 मार्च को तोड़ा गया था कब्जा

कलेक्टर के निर्देश पर कज्जू उर्फ कदीर खान द्वारा रद्दी चौकी निवासी मुन्ना लाल रजक की दो करोड़ कीमती 21 हजार 520 वर्गफीट जमीन पर कब्जा कर बनाए जा रहे 10 ड्यूप्लैक्स को तोड़ा गया। लगभग एक करोड़ की लागत से इस पर निर्माण कराया गया था। आरोपी के खिलाफ धोखाधड़ी, धमकी सहित विभिन्न धाराओं में प्रकरण दर्ज हुआ था। जनवरी से आरोपी की तलाश जारी थी। दो प्रकरणों में आरोपी पर पांच-पांच हजार रुपए का इनाम घोषित हुआ था।

कज्जू उर्फ कदीर को पुलिस जुलूस की शक्ल में ले गई कोर्ट।
कज्जू उर्फ कदीर को पुलिस जुलूस की शक्ल में ले गई कोर्ट।

जुलूस निकाल कर कोर्ट में पेश किया गया

अधारताल में आरोपी की गुंडई और दहशत को देखते हुए पुलिस ने कोर्ट में पेश करने से पूर्व जुलूस निकाला। इसके बाद उसे कोर्ट में पेश किया गया। जहां से उसे जेल भेज दिया गया। हालांकि पुलिस ने अधिकृत तौर पर जुलूस निकालने की बात को नकारा है। पुलिस का तर्क था कि वाहन सड़क पर खड़ी रहती है। वहां तक पैदल लाए थे।

खबरें और भी हैं...