पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Jabalpur
  • 20 Boxes Of English Liquor Worth 1.5 Lakh Rupees Seized In Jabalpur, Police Chased 10 Km, Smugglers Fled The Vehicle

एंबुलेंस में शराब की तस्करी:जबलपुर में डेढ़ लाख रुपए कीमत की 20 पेटी अंग्रेजी शराब जब्त, 10 किमी पीछा करती रही पुलिस, तस्कर वाहन छोड़ भागे

जबलपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
इस एंबुलेंस में मरीज की बजाए शराब की तस्करी हो रही थी। - Dainik Bhaskar
इस एंबुलेंस में मरीज की बजाए शराब की तस्करी हो रही थी।

एंबुलेंस में मरीज ले जाते हुए सुना होगा, लेकिन जबलपुर में शराब भी ढोह रही थी। पुलिस ने घेराबंदी कर एक एंबुलेंस को पकड़ा। पुलिस ने 10 किमी पीछा कर एंबुलेंस को रोक लिया, लेकिन तस्कर हाथ नहीं आ पाए। भागने के दौड़ान ड्राइवर की लापरवाही से एक सब्जी वाला रास्ते में घायल भी हाे गया। इस एंबुलेंस में 20 पेटी अंग्रेजी शराब जब्त हुई। इसकी कीमत डेढ़ लाख रुपए बताई जा रही है। वहीं दो और स्थानों पर पुलिस की शराब को लेकर कार्रवाई हुई है।

संभागीय रात्रि गस्त अधिकारी सीएसपी गोरखपुर आलोक शर्मा को इसकी सूचना मिली थी। ओमती और ग्वारीघाट पुलिस ने सुबह पांच बजे एंबुलेंस की घेराबंदी की। यह शराब भरतीपुर में शिव पार्वती मंदिर के पास बेचा जाना था। बड़ी ओमती के पास एंबुलेंस को रोका गया तो वह कट कारते हुए गाड़ी लहराते हुए ओमती की ओर भागा।

कंट्रोल रूम को काॅल कर शहर में कराई गई घेराबंदी
एंबुलेंस को लेकर ड्राइवर द्वारा भागने पर पुलिस को संदेह हुआ। कंट्रोल रूम को तुरंत सूचना देकर इसकी घेराबंदी कराई गई। एक टीम पीछा पहले से कर रही थी। ड्राइवर एंबुलेंस लेकर तहसील चौक, पुल नंबर एक, इलाहाबाद चौक, पेंटीनाका, गोराबाजार होते हुए, गौर चौराहे तक पहुंचा। वहीं एंबुलेंस को खड़ा कर चालक भाग गया। तलाशी में 20 पेटी अंग्रेजी गोवा शराब रखी मिली। इसकी कीमत डेढ़ लाख रुपए बताई जा रही है।

एम्बुलेंस से जब्त शराब।
एम्बुलेंस से जब्त शराब।

निजी अस्पताल में संचालित होती है एंबुलेंस
ओमती पुलिस ने एम्बुलेंस वाहन एमपी 20 डीए 2170 को जब्त कर लिया। रजिस्ट्रेशन के माध्यम से पता लगाया तो यह सर्वोदय नगर रानीताल निवासी सुखदेव पिता आनंद लाल पटेल के नाम पर रजिस्टर्ड होना मिला। यह एंबुलेंस समाधान हॉस्पिटल में चलाने के लिए अनुबंधित है। इसकी तस्दीक की जा रही है। ओमती पुलिस ने आबकारी एक्ट का प्रकरण दर्ज का मामले को जांच में लिया है।
भागते समय एक सब्जी वाले काे मार दी थी टक्कर
पुलिस से बचने के लिए शराब तस्कर तेज रफ्तार में एंबुलेंस भगा कर ले जा रहे थे। गोराबाजार थाने में धोबीघाट निवासी राजकुमार गोटिया ने एंबुलेंस ड्राइवर पर टक्कर मारकर घायल करने की शिकायत दर्ज कराई। बताया कि वह सब्जी बेचता है। सुबह वह सब्जी लेने साइकिल से एकता मार्केट जा रहा था। तिलहरी पापुलर फैक्ट्री के पास एंबुलेंस ने उसे टक्कर मार दी। उसके सिर व हाथ-पैरों में चोटें आई हैं।

एक्टिवा से शराब की तस्करी
उधर, ग्वारीघाट पुलिस ने शुक्रवार 18 जून को एकता मार्केट के पास से ग्वारीघाट आ रहे एक्टिवा एमपी 20 एस 6199 को भटौली के पास रोका। एक्टिवा पर पुरानी बस्ती ग्वारीघाट निवासी वेदप्रकाश उपाध्याय था। उसने एक बैग रखा था। जांच में बैग के अंदर से 83 पाव देशी शराब जब्त हुए। इसकी कीमत 8 हजार 500 रुपए है।

खेत में गड्‌ढा खोदकर कच्ची शराब बना रहे थे
बरेला पुलिस ने घुघ्घुटोला के जंगल और जैतपुरी में दबिश दी। दोनों ही स्थानाें पर खेतों में गड्‌ढा खोदकर महुआ लहन सड़ाया जा रहा था। दोनों स्थानों पर 2500 लीटर महुआ लाहन नष्ट किया गया। वहीं 20 लीटर कच्ची शराब के साथ आरोपी सिद्धनगर निवासी प्रेम लाल यादव को गिरफ्तार कर लिया। वहीं घमापुर पुलिस ने शराब तस्करी मामले में दो माह से फरार चल रहे पांच हजार के इनामी बिन्नू उर्फ निखिल श्रीवास को गिरफ्तार कर लिया।

खबरें और भी हैं...