प्रताड़ना से तंग आकर दी थी जान:विवाहित युवक ने लड़की को प्रेम में फंसाया, गर्भवती होने पर पंचायत के दबाव में कर ली शादी, डिलीवरी से दो महीने पहले खा लिया जहर

जबलपुर8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
प्रतीकात्मक फोटो। - Dainik Bhaskar
प्रतीकात्मक फोटो।
  • पनागर क्षेत्र की घटना, आत्महत्या के पांच महीने बाद पुलिस ने दर्ज किया मामला
  • आरोपियों ने लड़की की उम्र भी छिपाई, उसे अस्पताल में बालिग बता कराया था भर्ती

शादीशुदा युवक ने नाबालिग को प्रेम जाल में फंसाया। लड़की के गर्भवती होने पर पंचायत के दबाव में उसके साथ शादी कर दी। बावजूद सौतन और प्रेमी ने उसे पत्नी का दर्जा नहीं दिया। प्रताड़ना से दुखी होकर लड़की ने डिलीवरी से दो महीने पहले ही जहर खाकर जान दे दी। घटना के बाद आरोपी प्रेमी और सौतन ने अस्पताल में भर्ती कराने के दौरान भी उसकी उम्र को लेकर भी झूठ बोला। लड़की की उम्र 20 वर्ष बताई थी। अब पांच महीने बाद पनागर पुलिस ने प्रेमी और सौतन के खिलाफ मामला दर्ज करते हुए जांच में लिया है।

23 सितंबर 2020 को सुबह 17 वर्षीय लड़की को बालिग बता कर मेडिकल में भर्ती कराया गया था। उसने जहर खा लिया था। दूसरे दिन 24 सितंबर को उसकी मौत हो गई थी। पुलिस ने मर्ग कायम कर जांच में लिया था। पुलिस की जांच आगे बढ़ी, तो मामले ने यू-टर्न ले लिया। पता चला कि किशोरी को उसकी सौतन नंदनी भूमिया और प्रेमी से पति बने शनि कुमार भूमिया प्रताड़ित करते थे।

पंचायत के फैसले पर हुई थी शादी
शनि शादीशुदा था, बावजूद किशोरी को प्रेमजाल में फंसाया। गर्भवती होने पर पंचायत बैठी। शनि ने किशोरी से भी शादी कर ली। फिर भी उसे घर में पत्नी का दर्जा कभी नहीं मिला। सौतन नंदनी भूमिया (20) अक्सर उसे यह कहते हुए प्रताड़ित करती थी कि वे उसे साथ नहीं रखेंगे। शनि भी नंदनी का ही पक्ष लेता था। दोनों मिलकर लड़की से झगड़ा करते थे। दोनों के व्यवहार से दुखी होकर लड़की ने जहर खा लिया था।

दो महीने बाद होने वाली थी डिलीवरी
लड़की गर्भवती थी। चिकित्सकों ने उसे 12 नवंबर 2020 को डिलीवरी की तारीख दी थी। उससे दो महीने पहले ही वह प्रेमी और सौतन की प्रताड़ना से तंग आकर जान दे दी। पांच महीने बाद पुलिस ने शनि भूमिया व सौतन नंदनी भूमिया के खिलाफ धारा 305, 34 भादवि और 5, 6 पाॅक्सो एक्ट का प्रकरण दर्ज करते हुए दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया।

खबरें और भी हैं...