छग में MP पुलिस ने पकड़ा जालसाज:उमरिया के भाई-बहन को नौकरी लगवाने का कहकर 2 लाख से ज्यादा ठगे, खुद को बताया था CBI का डिप्टी कमिश्नर

उमरिया3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पुलिस हिरासत में आरोपी। - Dainik Bhaskar
पुलिस हिरासत में आरोपी।

मध्य प्रदेश के उमरिया जिले में भाई-बहन से 2 लाख से ज्यादा ठगने वाला जालसाज रायपुर (छत्तीसगढ़) से पकड़ा गया। दोनों को नौकरी लगवाने का झांसा देकर ठगा। आरोपी ने खुद को CBI का डिप्टी कमिश्नर बताया था।

आरोपी ने अपना नाम अनिरुद्ध सिंह परस्ते बताकर लीलावती यादव और उसके भाई शिवकुमार के साथ ठगी की है। लीलावती के अनुसार, आरोपी से उसकी मुलाकात सहेली शीलू सिंह श्याम ने कराई थी। ठगी होने के बाद उसने पुलिस में शिकायत की। घटना को गंभीरता से लेते हुए पुलिस अधीक्षक विकास कुमार ने एक टीम गठित की। आरोपी पर 5 हजार का इनाम भी घोषित किया। टीम ने आरोपी को रायपुर जाकर गिरफ्तार किया। पुलिस के मुताबिक आरोपी का असल नाम अनिल सिंह पिता गणपत सिंह निवासी डिंडोरी है। वह रायपुर में पुलिस हाउसिंग कॉलोनी में रह रहा था।