निगम से जनता को केवल आश्वासन ही मिले:नाम महाराजपुर... बस्ती की सड़कों में इतना कीचड़ कि चलना मुश्किल

जबलपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • मुख्य पहुँच मार्ग के दोनों ओर नालियाँ नहीं बनीं जिससे सड़कों पर बह रहा है गंदा पानी

पहली नजर में महाराजपुर के मुख्य मार्ग के हाल देखकर ऐसा लगता है जैसे सीवर लाइन के कार्य के चलते सड़कों की दुर्दशा हो गई और लोग गिरते-पड़ते आवाजाही कर रहे हैं लेकिन असलियत यह है कि यहाँ सीवर लाइन का कार्य हुआ ही नहीं और सड़कों पर हर तरफ कीचड़ है।

कहने को तो यह क्षेत्र नगर निगम सीमा में है लेकिन निगम ने कभी इसे अपना माना ही नहीं और यही कारण है कि आज महाराजपुर सुविधाओं के मामले में एकदम गरीब है। महाराजपुर सरकारी स्कूल के पास से ही मुख्य मार्ग की हालत खराब हो जाती है, यहाँ सड़क केे दोनों ओर नालियों का निर्माण नहीं कराया गया है जिससे गंदा पानी मुख्य मार्ग पर ही बहता है। आम दिनों में तो फिर भी आवाजाही आसान होती है लेकिन बारिश के इन दिनों में तो लोग पैदल चल ही नहीं पाते हैं। यह मार्ग आगे गाँव तक जाता है और वहाँ सड़क नाम की कोई चीज ही नहीं है जिससे पूरे साल लोगों को परेशानी झेलनी पड़ती है। सड़क पर इतना कीचड़ जमा हो जाता है कि कई बार दो पहिया वाहन उसमें फँस जाते हैं और वाहन सवार गिरकर घायल हो न हो उसके कपड़े खराब हो ही जाते हैं।

हजारों लोग झेल रहे हैं मुसीबत
महाराजपुर में 2 से 3 हजार मकानों का निर्माण हो चुका है और यहाँ की आबादी लगातार बढ़ रही है। कई काॅलोनियाँ भी बस रही हैं जिससे सुविधाओं की माँग तो हाे रही है लेकिन निगम अधिकारी ध्यान ही नहीं देते हैं। स्थानीयजन हमेशा ही माँग करते हैं लेकिन उनकी कोई सुनवाई नहीं होती है। अब हालत ऐसी हो गई है कि सड़कों पर निकलने से पहले लोगों को कई बार सोचना पड़ता है।

बारिश में फिलहाल तो जहाँ गड्ढे हैं वहाँ मरम्मत का कार्य कराया जा रहा है लेकिन जो सड़कें बेहद खराब हो चुकी हैं उनको नए सिरे से बनाने की निगम की योजना है। नालियों आदि के कार्य भी कराए जाएँगे।
-गसंतोष अग्रवाल, संभागीय अधिकारी नगर निगम

खबरें और भी हैं...