पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Jabalpur
  • New Age Virus Outnumbered, 18 Percent Of Infected Elderly, While Youth Up To 37 Percent, More Than Doubled!

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

पॉजिटिविटी ट्रेंड:नई उम्र पर भारी पड़ा वायरस, संक्रमितों में 18 फीसदी बुजुर्ग, जबकि युवा 37 प्रतिशत तक, दोगुने से ज्यादा!

जबलपुर2 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
संक्रमण की अंधाधुंध रफ्तार के बाद भी लोग मानने तैयार नहीं। - Dainik Bhaskar
संक्रमण की अंधाधुंध रफ्तार के बाद भी लोग मानने तैयार नहीं।
  • कमांड कंट्रोल सेंटर के आँकडे़ में कम उम्र वालों पर ज्यादा खतरनाक साबित हुआ संक्रमण

अब तक कहने सुनने में आने वाली बात आँकड़ों में भी सच साबित हो रही है। कोरोना की दूसरी लहर ने बुजुर्गों से ज्यादा युवाओं को अपनी गिरफ्त में लिया है। इसकी वजह जो भी रही हो लेकिन पॉजिटिविटी का ट्रेंड यही कह रहा है कि पिछले एक महीने में आए नए संक्रमितों में 16 फीसदी बुजुर्ग रहे, जबकि नई उम्र के मरीजों का आँकड़ा 35 प्रतिशत के आँकड़े तक जा पहुँचा।

कोविड-19 की सेकेण्ड वेव इसलिए भी ज्यादा खतरनाक मानी गई क्योंकि इसने अच्छी खासी इम्युनिटी रखने वालों का भी भ्रम तोड़ा। कोविड कमांड एंड कंट्रोल सेंटर जबलपुर ने अप्रैल के महीने में जो आँकड़े जुटाए उसमें तकरीबन 20,000 नए संक्रमितों पर अध्ययन किया गया। इससे यह पहलू निकलकर आया है कि कोरोना वायरस इस बार बुजुर्गों से ज्यादा युवाओं के लिए खतरनाक साबित हुआ है।

18 से कम सिर्फ 6%

शुरुआती दौर से ही कहा जाता रहा है कि बच्चों का इम्युन सिस्टम ज्यादा स्ट्रॉन्ग होता है। हाल के आँकड़े भी यही कहते हैं। दूसरी लहर के ट्रेंड से पता चलता है कि 18 वर्ष से कम उम्र वाले सिर्फ 6 प्रतिशत बच्चे-किशोर ही पॉजिटिव हुए। इससे यह भी सामने आया कि टीन एजर्स की एम्युनिटी भी यंगस्टर्स से ज्यादा बेहतर होती है।

20,270 कुल नए संक्रमित

कमांड सेंटर ने अपने डाटा कलेक्शन में नए सिरे से 20270 संक्रमित जुटाए हैं। इसमें 18 वर्ष तक के 1210 पॉजिटिव सामने आए। 19 से 35 आयु वर्ग के संक्रमितों की संख्या 7420 (37%) रही। इसके अलावा 36 से 60 वर्ष की उम्र वालों में 8 हजार पॉजिटिव निकले लेकिन इसमें भी 45 से कम उम्र वालों की ही संख्या ज्यादा रही। 60 से अधिक उम्र वाले संक्रमितों की संख्या सबसे कम 3,640 (18%) रही।

सीधे संपर्क से 4 हजार पॉजिटिव

दूसरी लहर के तकरीबन 4 हजार पॉजिटिव केस ऐसे रहे जो अपने किसी खास (पहले से संक्रमित) परिचित और परिजन के सीधे संपर्क में आए। बाकी का ब्यौरा हासिल नहीं हो पाया है कि उन्हें संक्रमण कहाँ और किस लापरवाही से मिला।

ज्यादा संक्रामक

पिछली बार की मुकाबले इस बार संक्रमण का असर युवाओं में ज्यादा असर दिखाई दे रहा है, ज्यादा इफेक्ट भी डाल रहा है।
-संजय जैन, आरएम, विक्टोरिया अस्पताल

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- दिन सामान्य ही व्यतीत होगा। कोई भी काम करने से पहले उसके बारे में गहराई से जानकारी अवश्य लें। मुश्किल समय में किसी प्रभावशाली व्यक्ति की सलाह तथा सहयोग भी मिलेगा। समाज सेवी संस्थाओं के प्रति ...

    और पढ़ें