व्यथा / नहीं मिल रहा पानी, खुद कुआं खोद रहे ग्रामीण 

No water, villagers are digging wells themselves
X
No water, villagers are digging wells themselves

  • भरी गर्मी में बंद पड़ी नल-जल योजना की सप्लाई
  • कुंडम में आवास योजना के वाशिंदों ने खुद शुरू की पहल

दैनिक भास्कर

May 24, 2020, 05:00 AM IST

कुुंडम. कुंडम की आवास योजना में रहने वाले ग्रामीण इन दिनों पानी के लिए परेशान हो रहे हैं। आवास योजना में नलजल योजना से 4-6 दिनों में एक बार पानी की सप्लाई की जाती थी, जो अब बोर खराब होने से पूरी तरह बंद हो गई है। इससे भीषण गर्मी में ग्रामीण पानी के लिए तरस रहे हैं। हालत यह हो गई है कि ग्रामीण अब खुद मिलकर कुआं खोद रहे हैं, ताकि निस्तार के लिए पानी मिल सके।
जानकारी के अनुसार आवास योजना में सैकड़ों परिवार रह रहे हैं। इनके लिए नलजल योजना से पानी की व्यवस्था की गई है। लेकिन पंचायत की लापरवाही के कारण इन्हें केवल 4 से 6 दिनों में ही पानी मिल पाता है। अब बोर बंद हो गया तो ग्रामीणों को पूरी तरह पानी मिलना बंद हो गया है। इससे जल संकट इस तरह गहरा गया है कि ग्रामीण सुबह से ही पानी के इंतजाम में जुट जाते हैं। अब ग्रामीण पास के तालाब के पास कुआं खोदकर निस्तार के लिए पानी का जुगाड़ कर रहे हैं।
तालाब में अटी गंदगी
आवास योजना के पास ही एक तलाब है, जो चोई और गंदगी से अटा हुआ है। इसकी सफाई को लेकर कई बार पंचायत से मांग की गई, लेकिन इस पर कोई ध्यान नहीं दिया गया। हालत यह है कि यहां पानी निस्तार के योग्य नहीं है। ग्रामीणों ने बताया कि यदि तलाब की सफाई हो जाए तो ग्रामीण तालाब के पानी का उपयोग निस्तार के लिए कर सकते हैं। ग्रामीणों ने बताया कि कई बार तालाब की सफाई के लिए राशि भी स्वीकृत की गई लेकिन पंचायत ने कोई ध्यान नहीं दिया।
इनका कहना है 
नल-जल योजना का संचालन उप नल-जल योजना समिति द्वारा किया जा रहा है।  इस संबंध में पीएचई विभाग को शिकायत भेजी गई है, जहां से आश्वासन मिला है कि जल्द ही नया बोर कराया जाएगा।
गुलाब बर्मन, सरपंच कुंडम

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना