पिंक स्टेशन का प्लेटफार्म -1 चार माह रहेगा बंद:जबलपुर के मदनमहल स्टेशन पर चल रहा निर्माण कार्य, 8 ट्रेनों का ठहराव किया निलंबित

जबलपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
मदनमहल स्टेशन का प्लेटफार्म नंबर एक चार महीने के लिए बंद हो रहा है। - Dainik Bhaskar
मदनमहल स्टेशन का प्लेटफार्म नंबर एक चार महीने के लिए बंद हो रहा है।

जबलपुर रेल मंडल के पिंक स्टेशन मदन महल के प्लेटफार्म नंबर एक को अगले चार महीने के लिए बंद किया जा रहा है। ऐसा निर्णय यहां प्लेटफार्म नंबर एक पर चल रहे निर्माण के चलते लिया गया। स्टेशन पर अगले आदेश तक ओवरनाइट सहित 8 ट्रेनों के ठहराव को निलंबित कर दिया गया है। रेलवे प्रशासन की ओर से बताया गया कि मदन महल रेलवे स्टेशन का विकास किया जा रहा है। प्लेटफार्म नंबर एक पर नया कंट्रक्शन चालू हुआ है। इसके चलते जबलपुर से मदन महल होकर इटारसी जाने वाली 8 ट्रेनों का ठहराव रोका गया है।

मदनमहल स्टेशन पर निर्माण कार्य जारी है।
मदनमहल स्टेशन पर निर्माण कार्य जारी है।

मंडल वाणिज्य प्रबंधक देवेश कुमार सोनी ने बताया कि प्लेटफार्म क्रमांक एक से जुड़ी एक कार्य योजना बनाई है। इसका फायदा ये होगा कि इस स्टेशन का विकास तीव्र गति से होगा और यहां पर यात्रियों को अधिक सुविधाएं मिल सकेंगी। दो अक्टूबर से 29 जनवरी तक इन ट्रेनों का ठहराव बंद रहेगा।
इन ट्रेनों का ठहराव किया गया निलंबित

  • जबलपुर यशवंतपुर ट्रेन नंबर 02140
  • पटना से कुर्ला जाने वाली 03201 जनता एक्सप्रेस
  • जबलपुर-निजामुद्दीन 02174 श्रीधाम एक्सप्रेस
  • जबलपुर-नागपुर ट्रेन नंबर 02160,
  • बिलासपुर-इंदौर ट्रेन नंबर 08234 नर्मदा एक्सप्रेस
  • जबलपुर-इंदौर ट्रेन नंबर 02292 ओवरनाइट एक्सप्रेस
  • गोरखपुर से कुर्ला जाने वाली ट्रेन नंबर 05018 काशी एक्सप्रेस
  • दुर्ग से भोपाल जाने वाली ट्रेन नंबर 02853 अमरकंटक एक्सप्रेस

प्लेटफार्म दो और तीन चालू रहेगा
मंडल वाणिज्य प्रबंधक सोनी के मुताबिक मदन महल के प्लेटफार्म क्रमांक 02 और 03 पर ट्रेनों का आवागमन जारी रहेगा। यहां से जबलपुर और कटनी की दिशा में जाने वाली गाड़ियों का पूर्व की तरह रुकेंगी। 01 अक्टूबर से मदन महल के प्लेटफार्म क्रमांक 1 का मुख्य द्वार बंद कर दिया जाएगा। यात्रियों को प्लेटफार्म के बाहर स्थित फुट ओवर ब्रिज द्वारा प्लेटफार्म क्रमांक 02 और 03 पर आने-जाने की सुविधा मिलेगी।
टर्मिनल एक नजर में

  • कुल लागत: 120 करोड़ रुपए
  • फंड मिला: करीब 30 करोड़ रुपए
  • काम पूरा करने का लक्ष्य: वर्ष 2024
  • 15 करोड़ रुपए की लागत से कोचिंग कॉम्प्लेक्स के लिए मिला है।
प्लेटफार्म सहित कई सारे काम एक साथ चल रहे हैं।
प्लेटफार्म सहित कई सारे काम एक साथ चल रहे हैं।

टर्मिनल बनाने के लिए हो रहे ये काम

  • मदन महल में बिछेगी नई लूप लाइन नया एफओबी बनेगा।
  • प्लेटफॉर्म नं. 1 की ओर बनेगी आकर्षक बिल्डिंग।
  • यात्रियों की सुविधा के लिए एस्केलेटर और लिफ्ट लगाई जाएगी।
  • यात्रियों के लिए शेड से कवर किए जा रहे हैं सभी प्लेटफॉर्म।

चलेंगी डाउन दिशा की ओर जाने वालीं गाड़ियां
रेलवे के मुताबिक मदन महल के टर्मिनल स्टेशन बनने के बाद जबलपुर से निजामुद्दीन जाने वाली तीनों ट्रेनों को यहां से चलाया जा सकता है। इसके अलावा डाउन दिशा (कटनी की ओर जाने वाली) की अन्य ट्रेनें भी मदन महल स्टेशन से शुरू की जा सकेंगी। रेल अफसरों के अनुसार मदन महल टर्मिनल बनने के बाद डाउन दिशा की ही कुछ ट्रेनों का संचालन यहां से होगा।

खबरें और भी हैं...