• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Jabalpur
  • Police Captain In Action Mode In The Robbery Scandal In Katni; Departmental Investigation Of ASI, Head Constable Suspense, TI Begins

FIR लिखने में देरी पर कार्रवाई:कटनी में लूट कांड में एक्शन मोड में पुलिस कप्तान; ASI, हेड कांस्टेबल संस्पेंड, TI की विभागीय जांच शुरू

कटनीएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
लुटेरों का सुराग लगाने के लिए पुलिस क्षेत्र स्थित पेट्रोल पंप में लगे CCTV  फुटेज खंगाली रही है। - Dainik Bhaskar
लुटेरों का सुराग लगाने के लिए पुलिस क्षेत्र स्थित पेट्रोल पंप में लगे CCTV फुटेज खंगाली रही है।

कटनी के कुठला में बड़ेरा मोड़ स्थित वाहन सजावटी सामग्री दुकान संचालक युवक के साथ चार नकाबपोश बदमाशों द्वारा मारपीट करते हुए कट्टा अड़ाकर की गई लूट की वारदात की सूचना पर चार दिनों तक FIR नहीं लिखने के मामले में एक ASI और एक हेड कांस्टेबल को निलंबित कर दिया गया है। मामले की जानकारी मिलते ही एक्शन मोड में आए SP मयंक अवस्थी ने कुठला थाने के TI विपिन सिंह की विभागीय जांच के आदेश भी दिए हैं।

SP का कहना है कि गंभीर अपराध होने के बावजूद FIR नहीं दर्ज की गई। साथ ही वरिष्ठ अधिकारियों को जानकारी भी नहीं दी गई। इस तरह की लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी। मामले की जांच कराई जा रही है। शुरुआती जांच में दोषी पाए जाने पर दो पुलिसकर्मियों को सस्पेंड किया गया। आपको बता दें कि 20 मई की रात लूट की वारदात हुई थी। 21 मई को लूट की सूचना पुलिस थाने में दी गई थी, लेकिन 24 मई की शाम तक FIR नहीं लिखी गई थी।

बयान लेने के बाद FIR

लूट जैसे गंभीर मामले में FIR दर्ज नहीं करने की जानकारी वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों को मिली। तत्काल उनके द्वारा कुठला थाना पुलिस को FIR दर्ज करने के लिए कहा गया। कुठला पुलिस द्वारा लूट का शिकार हुए युवक शुभम साहू के बयान दर्ज किए और फिर 24 मई की देर रात करीब पौन 12 बजे चार अज्ञात लुटेरों के खिलाफ लूट की धारा के तहत FIR दर्ज की गई। पुलिस टीम को अज्ञात लुटेरों की गिरफ्तारी करने के लिए लगाया गया है। पुलिस टीम क्षेत्र में लगे CCTV फुटेज खंगालने में लगे हुए हैं। हालांकि अब तक पुलिस को लुटेरों के संबंध में कोई सुराग नहीं मिला है।

ये है मामला

पठरा गांव निवासी शुभम साहू ने बताया कि 20 मई की रात वह बड़ेरा मोड़ स्थित अपनी दुकान की तकवारी करने के लिए गया था। रात करीब साढ़े 11 बजे वह दुकान से टॉयलेट करने के लिए निकला। दुकान वापस जाते समय एक युवक वहां पर आया और पान मसाला गुटका मांगने लगा। जिस पर उसने कहा कि गुटका नहीं है। तभी तीन युवक और आ गए। सभी चेहरे पर नकाब लगाए हुए थे। चारों युवक उसके साथ मारपीट करने लगे और दुकान के अंदर लेकर चले गए। एक युवक ने उस पर कट्टा अड़ा दिया। दुकान में रखे लगभग साढ़े 9 हजार रुपए और दो होम थिएटर सहित उसका मोबाइल लूट लिया। मारपीट करते हुए उसे दुकान अंदर बंद कर भाग गए थे।

शुभम साहू ने बताया कि शटर बाहर से बंद होने के कारण वह रात भर दुकान में ही रहा। किसी तरह उसने दुकान की शटर खोली और वारदात की जानकारी अपने भाई मनीष साहू को दी। इसके बाद कुठला थाने में शिकायत दर्ज कराई गई। शुभम ने बताया कि शिकायत के बाद शाम को पुलिस वाले भी दुकान आए थे। उसके द्वारा शिकायत की कॉपी भी पुलिस से मांगी गई थी, जिस पर पुलिस ने बाद में देने की बात कहकर नहीं रवाना कर दिया था। इस मामले में पुलिस ने पहले FIR दर्ज नहीं की थी।
रिपोर्ट: रवि पांडेय

खबरें और भी हैं...