जयमाला पड़ते ही धमक गई पुलिस:लाॅकडाउन में चुपके से कर रहे थे शादी, भीड़ जुटाई थी; दूल्हा-दुल्हन के पिता और भाई के खिलाफ FIR

जबलपुर2 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
प्रतिबंध के बाद भी जबलपुर के शहपुरा क्षेत्र में बीजा हिनौता गांव में जयमाल का कार्यक्रम हुआ। - Dainik Bhaskar
प्रतिबंध के बाद भी जबलपुर के शहपुरा क्षेत्र में बीजा हिनौता गांव में जयमाल का कार्यक्रम हुआ।

लॉकडाउन में शादियों पर पूरी तरह से प्रतिबंध है। बाावजूद ग्रामीण क्षेत्रों में लोग चोरी-चुपके से शादी करने से बाज नहीं आ रहे हैं। जबलपुर के शहपुरा क्षेत्र में बीजा हिनौता गांव में ऐसी ही एक शादी समारोह में पुलिस धमक गई। पुलिस ने लड़की के पिता और लड़के के भाई के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर लिया। इसी तरह की एक कार्रवाई बरेला में एक रिसोर्ट में भीड़ जुटाने पर संचालक के खिलाफ की गई।

शहपुरा टीआई आसिफ इकबाल के मुताबिक बीजा हिनौता गांव में कमलेश बर्मन टेंट एवं साज सज्जा का सामान लगाकर शादी समारोह की सूचना मिली थी। शादी समारोह में बड़ी संख्या में लोगों को एकत्र किया गया था, जबकि कलेक्टर ने 1 जून की सुबह 6 बजे तक सभी तरह की गतिविधियों व सार्वजनिक समारोह शादियों पर रोक लगा रखी है। पुलिस पहुंची तो वहां जयमाला का कार्यक्रम चल रहा था।

लॉकडाउन का नहीं दिखा पालन
कार्यक्रम में कोई भी लॉकडाउन का पालन नहीं करता मिला। बिना मास्क और सोशल डिस्टेंसिंग का भी पालन नहीं दिखा। पूछताछ में पता चला कि बीजा हिनौता निवासी कमलेश बर्मन की बेटी की शादी हो रही है। और बारात गोसलपुर से आई है। दूल्हे के बड़े भाई राजेश बर्मन और लड़की के पिता के खिलाफ धारा 188, 269, 270,34 भादवि एवं 51 आपदा प्रबंधन अधिनियम के तहत प्रकरण दर्ज किया गया।

निसर्ग रिसोर्ट में स्वीमिंग पूल में लगी थी भीड़
इसी तरह की कार्रवाई बरेला पुलिस ने सरौरा गांव स्थित निसर्ग रिसोर्ट में की। शहर से दूर गांव के इस रिसोर्ट में बड़ी संख्या में लोग मौजूद मिले। कोई भी मास्क नहीं पहना था। स्वीमिंग पूल में कई लोग नहा रहे थे। पुलिस के पहुंचत ही रिसोर्ट का मैनेजर भागने लगा। हालांकि टीम ने उसे दबोच लिया। मैनेजर विजय दाहिया निवासी रक्षा नगर रांझी के खिलाफ धारा 188, 269, 270 भादवि एवं 51 आपदा प्रबंधन अधिनियम के तहत प्रकरण दर्ज कर जांच में लिया है।

खबरें और भी हैं...