पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

रज्जाक के बेटे सरताज की करतूत:अंजुमन ट्रस्ट की 120 दुकानें नियम विरूद्ध तरीके से अनुबंध कर कब्जा कर लिया, एसआईटी की पास पहुंची शिकायत

जबलपुर5 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
अब्दुल रज्जाक के बेटे सरताज के खिलाफ भी एसआईटी के पास पहुंची। - Dainik Bhaskar
अब्दुल रज्जाक के बेटे सरताज के खिलाफ भी एसआईटी के पास पहुंची।

कुख्यात हिस्ट्रीशीटर ओमती रिपटा निवासी अब्दुल रज्जाक और उसके बेटों के दहशत से बनाई गई संपत्तियों का खुलासा एक-एक कर होने लगा है। एसआईटी की पास पहुंची एक शिकायत में पता चला है कि रसूख के दम पर विदेश भाग चुके रज्जाक के बेटे सरताज ने अंजुमन ट्रस्ट की 120 दुकानें नियमों को ताक पर रखकर अनुबंध करते हुए कब्जा कर लिया।

सूत्रों के मुताबिक एसआईटी के पास गोपनीय तौर पर शिकायत पहुंची है। इस शिकायत में बताया गया कि रज्जाक के बेटे सरताज ने अंजुमन इस्लामिया ट्रस्ट से 2007 में मार्केट बनवाने का अनुबंध किया था। उस समय सरताज के खिलाफ कई आपराधिक प्रकरण दर्ज हो चुके थे। बावजूद सरताज पर दरियादिली दिखाई गई। तत्कालीन अध्यक्ष ने सरताज से अनुबंध किया। ट्रस्ट ने कुल तीन अनुबंध किए थे।

दुकानें बनाई, 120 को आज तक नहीं सौंपा ट्रस्ट को

सरताज ने अंजुमन इस्लामिया स्कूल की जमीन पर दुकानें बनाई। अनुबंध के मुताबिक सभी दुकानों को ट्रस्ट को सौंप देना था। पर सरताज ने आज भी 120 दुकानों पर कब्जा कर रखा है। इस दौरान अंजुमन इस्लामिया के ट्रस्टी बदलते गए, लेकिन किसी ने उसे खाली कराने की कोशिश नहीं की। सूत्र बताते हैं कि रज्जाक की दहशत के चलते कोई दुकानों को खाली कराने की हिम्मत भी नहीं जुटा पाया। हालांकि ट्रस्ट ने तीन अनुबंध में एक को हाल ही में निरस्त कर दिया है।

एनआई से कराए रज्जाक की जांच

एसआईटी की मिली इस शिकायत में पीड़ित ने रज्जाक के इस पूरे प्रकरण की एनआईए से जांच कराने की मांग की। दावा किया गया है कि जांच हो तो रज्जाक के कई देश विरोधी कृत्य उजागर हो सकते हैं। रज्जाक ने देशी विरोधी कृत्य करके भी अकूत संपत्ति बनाई है। एसआईटी ने विजय नगर में दर्ज हत्या के प्रयास व बलवा के प्रकरण में फरार 14 और ओमती थाने में दर्ज जिला कोर्ट में बवाल के प्रकरण में 13 फरार आरोपियों पर 5-5 हजार रुपए का इनाम घोषित किया जा चुका है।

अब्दुल रज्जाक के घर से जब्त हथियार की फाइल फोटो
अब्दुल रज्जाक के घर से जब्त हथियार की फाइल फोटो

ये था मामला-

27 अगस्त की रात में विजय नगर में सरताज के भतीजे शहबाज और उसके गुर्गों ने अभ्यूदय चौबे पर जानलेवा वार किया था। इस प्रकरण में रज्जाक की साजिश भी उजागर हुई थी। 28 की तड़के पुलिस ने रज्जाक के घर दबिश दी। उसके घर से इटली मेड सहित 5 रायफल व बंदूकें, बड़ी मात्रा में बका नुका चाकू, कारतूस आदि जब्त हुए।

दोनों को कोर्ट में पेश किया गया तो विदेश में बैठे सरताज ने समर्थकों के साथ पिता को छुड़ाने के लिए बवाल करा दिया। एसआईटी अब तक रज्जाक और उसके परिवार के नाम पर कटनी से जारी 14 शस्त्र लाइसेंस निरस्त करा चुकी है।

रज्जाक सहित परिवार के 18 लोग निशाने पर:प्रशासन ने सभी की संपत्तियों की नाप-जोख कराई, एसडीएम से इनके नाम पर दर्ज प्रॉपर्टी की मांगी जानकारी, SP ने 14 और पर इनाम घोषित किए

खबरें और भी हैं...