पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

अन्नपूर्णा योजना:गरीब की थाली में अन्न पहुँचना एक उत्सव जैसा

जबलपुर11 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

महामारी के दौर में गरीबों की चिंता करना सबसे ज्यादा जरूरी है। यही वजह है कि प्रदेश सरकार ने प्राथमिकता से इस दिशा में काम किए और 4 महीने के अंदर 37 लाख पात्र व्यक्तियों के नाम जोड़े गए। अन्न उत्सव पर बतौर मुख्य अतिथि विधायक अजय विश्नोई ने उक्त संबोधन देते हुए कहा कि अब समाज के गरीब वर्ग की चिंता करके उनकी समस्याओं का समाधान किया जा रहा है।

हर गरीब की थाली में अन्न पहुँचना एक उत्सव जैसा ही है। मुख्यमंत्री अन्नपूर्णा योजना के तहत मानस भवन में आयोजित किये गये कार्यक्रम में सार्वजनिक वितरण प्रणाली में नये जुड़े 200 परिवारों को पात्रता पर्ची और राशन किट प्रदान की गई। इनमें से दस हितग्राहियों को पात्रता पर्ची और राशन के पैकेट प्रदान किये। कार्यक्रम में राजधानी भोपाल में आयोजित राज्य स्तरीय कार्यक्रम से सीएम शिवराज सिंह चौहान के संबोधन का सीधा प्रसारण भी किया गया।

क्वालिटी खराब तो खुलकर बताएँ
इस दौरान संभागायुक्त महेश चंद्र चौधरी ने अन्न उत्सव की बधाई देते हुए कहा कि अन्न जीवन का आधार है इसीलिए पात्र व्यक्तियों को अन्य की कमी ना रहे। कोई परिवार अन्य के अभाव में परेशान ना हो। उन्होंने कहा कि अगर खाद्यान्न की क्वालिटी खराब होती है तो उसकी शिकायत की जा सकती है। अन्न उत्सव कार्यक्रम में कलेक्टर कर्मवीर शर्मा ने जिले में अपात्र व्यक्तियों के नाम हटाने तथा पात्र व्यक्तियों के नाम जोड़ने के बारे में जानकारी दी। इस अवसर पर जिला पंचायत के सीईओ प्रियंक मिश्रा, निगमायुक्त अनूप कुमार एवं अपर कलेक्टर संदीप जीआर भी मौजूद थे।

कार्डधारी पर राशन नहीं
इस मौके पर वक्ताओं ने कहा कि बहुत से राशन कार्ड धारी हितग्राही हैं पर उन्हें राशन नहीं मिल पाता था, क्योंकि उनके पास पात्रता पर्ची नहीं थी। बहुत से अपात्र व्यक्तियों के नाम हटाए गए और नए नाम जोड़े गए। केंट विधायक अशोक रोहाणी का कहना रहा कि पात्र और गरीब व्यक्तियों के नाम जुड़वाने का प्रयास किया।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज का दिन परिवार व बच्चों के साथ समय व्यतीत करने का है। साथ ही शॉपिंग और मनोरंजन संबंधी कार्यों में भी समय व्यतीत होगा। आपके व्यक्तित्व संबंधी कुछ सकारात्मक बातें लोगों के सामने आएंगी। जिसके ...

और पढ़ें