• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Jabalpur
  • Jabalpur Police Arrested Brother in law In The Murder Of A Young Man Who Had Gone To His In laws' House, Admitted The Murder As An Accident.

हत्या दर्ज करने, नए साल का इंतजार:पुलिस ने ससुराल में गए युवक की हत्या मामले में साले-ससुर को किया गिरफ्तार, मर्डर को एक्सीडेंट बता कराया था मेडिकल में भर्ती

जबलपुर9 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पाटन एसडीओपी हत्या का खुलासा करते हुए। - Dainik Bhaskar
पाटन एसडीओपी हत्या का खुलासा करते हुए।

हत्या जैसे संगीन प्रकरण में FIR दर्ज करने, जबलपुर पुलिस नए साल का इंतजार करती रही। ससुराल में गए युवक की विवाद के बाद साले ने सिर में रॉड से वार कर कोमा में पहुंचा दिया। ससुर ने एक्सीडेंट बता मेडिकल में भर्ती कराया और फरार हो गए। बेलखेड़ा पुलिस ने आरोपियों को भोपाल से दबोचने के बाद खुलासा किया।

पाटन एसडीओपी देवी सिंह ने रविवार को हत्याकांड का खुलासा किया। बताया कि 08 दिसंबर को धमनी पाटन निवासी संतोष चौधरी (29) ससुराल मनकेड़ी आया था। उसकी पत्नी व बेटा ससुराल में थे। पत्नी से उसका कुछ विवाद हो गया था। वह बेटे आर्यन को ससुराल से लेकर घर जा रहा था। इसे लेकर ससुर पुन्नूलाल चौधरी से कहासुनी हो गई। संतोष ने ससुर पुन्नूलाल पर खपरा से हमला कर दिया।

साले ने बदला लेने सिर पर किया रॉड से वार

संतोष बेटे आर्यन को लेकर मनकेड़ी के सरपंच के घर बाइक से निकल गया। पीछे ससुर पुन्नूलाल भी पत्नी सियाा बाई और बेटी कुसुम के साथ सरपंच के घर जाने को निकला। उधर, जीजा द्वारा पिता पुन्नूलाल को सिर पर खपरा से चोट पहुंचाने की खबर सुनकर तोफान भी आक्रोशित हो गया। वह गांव के हिम्मू लोधी के घर काम करने गया था। वहीं से रॉड लेकर वह जीजा को तलाशते हुए निकला। मां नर्मदा इलेक्ट्रिकल्स दुकान के सामने संतोष बाइक के साथ दिख गया। तोफान ने सिर पर रॉड से वार कर मरणासन्न हालत में पहुंचा दिया।

पत्नी व ससुर देखते रहे तमाशा

संतोष के सिर पर तोफान रॉड से वार करता रहा और उसकी पत्नी कुसुम व ससुर पुन्नूलाल तमाशा देखते रहे। संतोष बेहोश होकर बाइक सहित गिर गया। तब तोफान वहां से भागा। ससुर पुन्नूलाल संतोष को लेकर मेडिकल कॉलेज पहुंचा और एक्सीडेंट में चोट बताकर भर्ती करा दिया। इसके बाद वहां से फरार हो गया। उधर, मेडिकल में भर्ती संतोष ने 15 दिसंबर की सुबह दम तोड़ दिया।

वारदात के बाद से परिवार हो गया था फरार

संतोष पर जानलेवा वार करने के दिन से ही ससुर पुन्नूलाल, साला तोफान और परिवार के अन्य लोग घर में ताला लगाकर भोपाल भाग गए थे। संतोष की मौत के बाद गढ़ा पुलिस ने मर्ग कायम कर शव का पीएम कराया। पीएम रिपोर्ट में डॉक्टर ने मौत की वजह सिर पर गंभीर चोट पहुंचाना बताया। मर्ग डायरी बेलखेड़ा पहुंची। एक जनवरी को बेलखेड़ा पुलिस ने आरोपियों को भोपाल से दबोच लिया। मामले में साले तोफान पर हत्या का और ससुर पुन्नूलाल पर साक्ष्य छुपाने का प्रकरण दर्ज करते हुए गिरफ्तार कर लिया।

खबरें और भी हैं...