• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Jabalpur
  • Retired From GCF, Accused Murdered By Strangulation With Charger Wire Of Mobile Phone, Suspected Involvement Of An Acquaintance, Two Mobiles Also Missing

रिटायर्ड फैक्टी कर्मी की हत्या:GCF से हुए थे रिटायर्ड, आरोपी ने मोबाइल फोन के चार्जर से गला कस कर की हत्या, किसी परिचित के शामिल होने का अंदेशा, दो मोबाइल भी गायब

जबलपुर5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
इसी बिस्तर पर रामदास कठेरिया की वायर से गला दबाकर हत्या की गई थी। - Dainik Bhaskar
इसी बिस्तर पर रामदास कठेरिया की वायर से गला दबाकर हत्या की गई थी।

जबलपुर में 65 वर्षीय जीसीएफ से रिटायर्ड वृद्ध की हत्या कर दी गई। उनकी हत्या मोबाइल चार्जर के तार से की गई प्रतीत हो रही है। बिस्तर पर ही ये चार्जर वाला तार भी मिला है। अविवाहित बुजुर्ग की देखभाल उसकी छोटी बहन करती थी। सप्ताह में दो दिन वह पति के घर तो पांच दिन भाई के घर रहती थीं। हत्यारे ने घर में रखा कोई भी कीमती सामान नहीं छुआ है। सिर्फ दो मोबाइल गायब हैं। अब पुलिस इन दो गायब मोबाइल से इस हत्या के तार जोड़ने में जुटी है।

अधारताल पुलिस के मुताबिक गन कैरिज फैक्ट्री (जीसीएफ) से रिटायर्ड रामदास कठेरिया (65) शारदा नगर न्यू कंचनपुर में रहते थे। अविवाहित होने के चलते छोटी बहन दीक्षितपुरा निवासी रश्मि नामदेव उनकी देखभाल करती थी। रश्मि के साथ ही उसकी बीकॉम कर रही बेटी और 8वीं में पढ़ रहा बेटा भी रहते हैं। सप्ताह के पांच दिन रश्मि भाई के साथ तो दो दिन वह ससुराल में पति अनुराग नामदेव के घर रहती थी। बीते शनिवार 11 जुलाई को रश्मि दोनों बच्चों को लेकर दीक्षितपुरा चली गई थी।

शनिवार नौ जुलाई से घर में थे अकेले।
शनिवार नौ जुलाई से घर में थे अकेले।

सोमवार शाम को लौटी तो बिस्तर पर शांत पड़े थे रामदास कठेरिया

रश्मि बच्चों के साथ सोमवार की शाम पांच बजे के लगभग भाई के घर पहुंची। बाहर का दरवाजा खुला था। जबकि रामदास कठेरिया कभी बाहर वाले दरवाजे की जाली नहीं खोलते थे। अंदर बिस्तर पर वह शांत पड़े थे। कई बार आवाज देने के बाद भी वह कुछ नहीं बोले। इसके बाद रश्मि ने पति अनुराग को बुलाया। पति ने मुंह से सांस देने की कोशिश की, लेकिन कुछ नहीं हुआ। इसके बाद 108 को बुलाकर रांझी अस्पताल ले गए। जहां डॉक्टर ने जांच के बाद मृत घोषित कर दिया।

महिला डॉक्टर ने गले में निशान देख पुलिस को सूचित किया

रांझी में पदस्थ महिला डॉक्टर बिंदु मेश्राम ने रामदास कठेरिया के गले में कसास का निशान देखा। इसकी खबर अधारताल पुलिस काे दी। पुलिस इसके बाद सक्रिय हुई। शव को मेडिकल कॉलेज भिजवाते हुए कमरे की सर्चिंग शुरू की गई। मौके पर एफएसएल टीम भी पहुंची थी। टीम को रामदास के बिस्तर पर एक चार्जर का तार मिला। आशंका व्यक्त की जा रही है कि इसी वायर से उनका गला कसा गया है। गले में निशान भी तार के ही कसाव का बना है। फिलहाल पुलिस ने उक्त वायर को जब्त कर लिया है।

मौत के बाद रोती-बिलखती बहन और अन्य परिजन।
मौत के बाद रोती-बिलखती बहन और अन्य परिजन।

किचन में चाय तैयार मिला

पड़ोसियों से पता चला कि रामदास कठेरिया सुबह सब्जी खरीदने निकले थे। इसके बाद किसी ने कुछ नहीं देखा। रश्मि पहुंची को किचन में गैस पर चाय का भगौना चढ़ा मिला। चाय तैयार थी, लेकिन किसी ने उसे पी नहीं। वहीं दो गिलास भी सिंक में मिला है। इसे देखकर अनुमान लगाया जा रहा है कि कोई करीबी या परिचित घर में आया था। उसे पानी पिलाने के बाद चाय पिलाई गई थी। इसके बाद हत्या की गई होगी। हत्या दोपहर में दो से शाम पांच बजे के बीच की गई होगी। दिन दहाड़े बुजुर्ग की हत्या कर दी गई, लेकिन पड़ोसी चीख तक नहीं सुन पाए।

पालतू कुत्ता था बंधा

रामदास ने एक कुत्ता भी पाल रखा है। ये कुत्ता हमेशा खुला रहता था। पर जब रश्मि पहुंची तो यह बंधा मिला। इससे भी साफ है कि हत्यारे ने रामदास से कहकर या खुद ही उसे बांधा होगा। कुत्ता भौंका नहीं। मतलब साफ है कि हत्यारे का घर में पहले भी आना-जाना रहा होगा। पुलिस इस एंगल को भी खंगाल रही है।

मंगलवार को हुआ पीएम

अधारताल पुलिस ने मर्ग कायम कर मामले को जांच में लिया है। मंगलवार दोपहर काे शव का पीएम कराया गया। पीएम में भी दम घुटने से मौत की प्रारंभिक जानकारी डॉक्टरों द्वारा दी गई है। हालांकि पुलिस शार्ट-पीएम मिलने का इंतजार कर रही है। इसके बाद इस प्रकरण में आगे की कार्रवाई होगी। पुलिस का पूरा फोकस रामदास के कमरे से गायब दो मोबाइल पर टिक गया है। आखिर उनके मोबाइल में ऐसे कौन से राज थे, जो कातिल बाहर नहीं आने देना चाहता था। जबकि घर में रश्मि के जेवर, रामदास के पैसे सहित कई कीमती सामान थे, लेकिन उन्हें हाथ तक नहीं लगाया गया है।

एफएसएल के साथ एसपी सिद्धार्थ बहुगुणा भी मौके पर पहुंचे।
एफएसएल के साथ एसपी सिद्धार्थ बहुगुणा भी मौके पर पहुंचे।

घटनास्थल पर पहुंचे थे एसपी

वारदात की खबर पाकर मौके पर एसपी सिद्धार्थ बहुगुणा और एफएसएल की टीम पहुंची थी। एसपी बहुगुणा के मुताबिक प्रारंभिक जांच में प्रकरण मर्डर का प्रतीत हो रहा है। शार्ट पीएम रिपोर्ट का इंताजार है। घर से दो मोबाइल के अलावा कुछ भी गायब नहीं है। ऐसे में प्रतीत हो रहा है कि मोबाइल में कुछ सिक्रेट रहा होगा, जो कातिल सामने नहीं आने देना चाह रहा होगा। जांच जारी है, जो भी सच होगा सामने आ जाएगा।

खबरें और भी हैं...