रिटायर प्राचार्य का छलका दर्द:जिला शिक्षा कार्यालय से 9 साल से सेवा पुस्तिका गायब, अधिकारी ने साधी चुप्पी

जबलपुर6 महीने पहले
रिटायर्ड प्राचार्य की सेवा पुस्तिका 9 वर्षों से गायब्।

कलेक्ट्रेट कार्यालय में जनसुनवाई के दौरान शिकायत लेकर पहुंची रिटायर्ड प्राचार्य का दर्द छलक उठा। 9 साल से भटकने के बाद भी जिला शिक्षा कार्यालय के द्वारा सेवा पुस्तिका की खोज नहीं की जा सकी।

केंद्रीय ग्रंथालय की रिटायर पूर्व प्राचार्य गोरखपुर निवासी पुष्पा राजपूत के मुताबिक शिक्षा विभाग से फरवरी 2012 में सेवानिवृति हुई। जिसके बाद जिला शिक्षा कार्यालय की ऑडिटर पुष्पा दुबे के द्वारा सेवा पुस्तिका को गायब कर दिया गया। 9 वर्ष बीतने के बाद भी विभाग के द्वारा किसी भी प्रकार की कार्यवाही नहीं की जा रही हैं। जिसके कारण 33 वर्ष की नौकरी करने के बावजूद सेवानिवृति व क्रमोन्नति का लाभ नहीं मिल पा रहा हैं।

ऑडिटर के द्वारा की जाती रही है 10 हजार की मांग

प्राचार्य का आरोप है ऑडिटर पुष्पा दुबे के द्वारा सेवा पुस्तिका के लिए पूर्व में अन्य लोगो से सेवानिवृति के दौरान 10 हजार की मांग की जाती रही है। प्राचार्य होने के कारण ऑडिटर के द्वारा उनकी सेवा पुस्तिका को गायब कर दिया गया। वहीं जिला शिक्षा कार्यालय के द्वारा 9 वर्षों से सिर्फ भटकाया जा रहा है। प्राचार्य ने कलेक्टर से ऑडिटर के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने की भी मांग की है।