पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Jabalpur
  • Married To Punjab's Navjyoti Trap In Jabalpur, Husband Gave Life In Germany After Hearing The News, Married Four Months Ago

नवविवाहित दंपती ने किया सुसाइड:जबलपुर में लड़की घर में फंदे से झूली, खबर सुन जर्मनी में इंजीनियर पति ने दे दी जान; चार महीने पहले हुई थी शादी

जबलपुर3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

चार महीने पहले पंजाब के होशियारपुर से ब्याह कर आई नवजोत मक्कड़ (28) ने शुक्रवार सात मई को सुसाइड कर लिया। शव बंद कमरे में साड़ी के फंदे में पंखे से लटका मिला। उधर, जर्मनी में इंजीनियर पति को जैसे ही इसकी खबर लगी, तो उसने भी पंखे से झूल कर सुसाइड कर ली।

जानकारी के अनुसार होशियारपुर-पंजाब निवासी नवजोत मक्कड़ की शादी चार महीने पहले जनवरी 2021 में जबलपुर निवासी सिमरन मक्कड़ (32) से हुई थी। नवजोत का ससुराल गोरखपुर क्षेत्र के रामपुर तिराहा स्थित पंजाब नेशनल बैंक के पीछे है। पति सिमरन जर्मनी में इंजीनियर था। शादी के कुछ समय बाद वह जर्मनी चला गया था। नवजोत के पिता व भाई सेना में हैं। भाई वर्तमान में महू में तैनात है। नवजोत के ससुराल में सास-ससुर के अलावा ननद है। ननद का तलाक हो चुका है। 10 दिन पहले ही नवजोत अपने पिता के घर से ससुराल लौटी थी।

सुसाइड से पहले नवज्योति ने मां से की थी बात
गोरखपुर टीआई सारिका पांडे के मुताबिक सुसाइड से पहले नवजोत ने होशियापुर में अपनी मां से बात की थी। तड़के चार से पांच बजे के बीच में बेटी की बात सुनकर मां ने समझाने की कोशिश की, लेकिन उसने एक न सुनी। इसके बाद वह लगातार बेटी को कॉल करती रही। फिर जर्मनी में रह रहे दामाद सिमरन को कॉल कर बताया। सिमरन ने पिता हरमिंदर सिंह को फोन कर बताया। हरमिंदर पहुंचे तो बहू का कमरा बंद था। आवाज देने दरवाजा नहीं खुला तो खिड़की से झांक कर देखा। अंदर नवजोत पंखे में साड़ी बांध कर लटकी थी।

पिता की बात सुनकर बेटा बोला- पापा कुछ भी हो नवज्योति को बचा लो
बताते हैं कि पिता द्वारा नवजोत के फंदे से लटके होने की खबर सुनते ही सिमरन बदहवास सा हो गया था। उसने मोबाइल पर ही रोते हुए पिता से कहा कि पापा कुछ भी हो जाए, कितना भी पैसा लग जाए, नवजोत को बचा लीजिए। इसके बाद उसने दोस्त कुलदीप को जगा कर घर भेजा। दरवाजा तोड़कर हरमिंदर ने फंदे से बहू को उतारा और उसे निजी अस्पताल ले गए। वहां से विक्टोरिया रेफर कर दिया गया। जहां चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया।

डेढ़ घंटे बाद पता चला सिमरन भी फंदे से झूल गया
छह बजे के लगभग सिमरन को उसके दोस्त कुलदीप ने फोन कर बताया कि उसके जीवन की ज्योति नहीं रही। कुलदीप के मुताबिक मोबाइल पर ही रोते हुए उसने कहा कि अब वह भी जी कर क्या करेगा। इसके बाद फोन काट दिया। कुलदीप ने फिर कॉल लगाया तो उसने नहीं उठाया। कुलदीप ने सिमरन के साथ रहने वाले रूम पार्टनर को बताया। कुछ देर बाद रूम पार्टनर द्वारा बताया गया कि सिमरन ने पंखे से झूल कर सुसाइड कर लिया है।

जर्मनी पुलिस ने गोरखपुर पुलिस को खबर कर सुसाइड की पुष्टि की
गोरखपुर टीआई सारिका पांडे के मुताबिक नवजोत के मायके वाले जबलपुर के लिए निकल गए हैं। अभी उसका कमरा सील कर दिया गया है। उसका मोबाइल आदि भी कमरे में है। मायके वालों के आने के बाद कमरे को एफएसएल की मौजूदगी में खोला जाएगा। सिमरन के भी सुसाइड की पुष्टि करते हुए बताया कि जर्मनी पुलिस अधिकारी का फोन आया था। वहां से सिमरन के परिजनों को अवगत कराने के लिए कहा गया है।

पिता की सदर में है स्टेशनरी की दुकान
हरमिंदर सिंह की सदर में रवि पुस्तक भंडार नाम से स्टेशनरी की बड़ी दुकान है। पहले बहू और फिर बेटे की सुसाइड की खबर पाकर उनके परिवार में कोहराम मचा हुआ है। शादी के चार महीने के अंदर इस तरह सुसाइड करने का कारण अभी सामने नहीं आ पाया है। गोरखपुर टीआई के मुताबिक मायके वालों के आने और उनके बयान के आधार पर ही कारणों का पता चल पाएगा। नवजोत का भाई महू से रात तक आ जाएगा। जबकि अन्य परिजन शनिवार तक आएंगे। शव को पीएम के बाद परिजनों के सुपुर्द कर दिया गया है। मामले में मर्ग कायम कर जांच में प्रकरण लिया गया है।

खबरें और भी हैं...