• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Jabalpur
  • Doctor Daughter Said That Now Papa Is Not Tolerated, I Am Tired Of Suffering For Seven Years, Why Did I Erase The Memory Card

सुसाइड करने वाली भोपाल की डॉक्टर बेटी का ऑडियो:कहा- मैं थक गई हूं पापा, सात साल में कोई परिवर्तन नहीं हुआ; दिन में भी घर नहीं आता

जबलपुर8 महीने पहले
हंसता-खेलता परिवार बिखर गया।

जबलपुर में सुसाइड करने वाली डॉक्टर कीर्ति जैन का एक ऑडियो सामने आया है। इसमें डॉ. कीर्ति अपने पापा महेश जैन और मां से बात कर रही हैं। वह कह रही हैं, पापा अब बर्दाश्त नहीं हो रहा। सात साल से सहते-सहते थक चुकी हूं। आखिर कोई बात नहीं है तो उन्होंने (पति) अस्पताल में लगे सीसीटीवी की मेमोरी को इरेज क्यों किया?

जबलपुर ग्रीन सिटी माढ़ोताल निवासी डॉ. कीर्ति केमौरी कटनी में शासकीय डॉक्टर थीं। उन्होंने 17 जनवरी को पंखे में दुपट्‌टे का फंदा बांधकर सुसाइड कर लिया। डॉ. कीर्ति ने इससे पहले परिवार के सोशल मीडिया ग्रुप में अपना दर्द बयां किया था। अब परिवार वालों ने डॉ. कीर्ति से बातचीत के ऑडियो जारी किए गए हैं। इन ऑडियो में डॉ. कीर्ति ने रोते हुए आपबीती माता-पिता को सुनाई थी।

डॉ. कीर्ति के पति डॉ. स्वप्निल जैन का प्राइवेट अस्पताल है। इसमें सीसीटीवी लगाए गए हैं। डॉ. कीर्ति को पति के चरित्र पर शक था। उनको लगता था कि पति के नर्सों से संबंध हैं। वह सीसीटीवी कैमरे से नजर रखती थीं। स्वप्निल ने पांच दिन की सीसीटीवी रिकॉर्डिंग को इरेज कर दिया तो डॉ. कीर्ति का शक और गहरा गया। इसी का जिक्र ऑडियो में किया है।

देर रात आता है, सुबह निकल जाता है...
ऑडियो में डॉ. कीर्ति कह रही हैं कि वह बच्चों का भी ख्याल नहीं रखता है। वह देर रात घर आता है और सुबह ही निकल जाता है। इतना कौन सा काम करता है? मैं अस्पताल गई और डाटा इरेज करने की वजह पूछी तो नर्सों के सामने ही फोन पर गालियां दीं। मैं थक गई हूं पापा, सात साल में कोई परिवर्तन नहीं हो रहा। मुझसे अब नहीं बर्दाश्त हो रहा। उसको कोई मतलब ही नहीं रहता है। दिन में भी नहीं आता, बोलता है कि दिमाग खाऊंगी।

ये है मामला

भोपाल की डॉक्टर बेटी कीर्ति ने जबलपुर में सुसाइड कर लिया। आरोप है कि उसने अपने डॉक्टर पति की बेवफाई से तंग आकर ये कदम उठाया। फांसी लगाने से तीन घंटे पहले फैमिली ग्रुप में मैसेज छोड़ा- '7 साल हो गए सहते-सहते। अब और बर्दाश्त नहीं होता।' डॉ. कीर्ति के पिता एमके जैन, पशुपालन विभाग के ACS कंसोटिया के पीए हैं। परिजनों ने डॉ. स्वप्निल पर कीर्ति को परेशान करने का आरोप लगाया है।

5 दिन पहले मां से फोन पर की शिकायत, कहा- भोपाल ट्रांसफर करा दो
डॉ. कीर्ति ऑडियो में कह रही हैं... पति अस्पताल से देर रात लौटता है। बीमार होने पर भी ध्यान नहीं देता। बच्चों और मुझसे उन्हें मतलब नहीं है। क्लीनिक में तीन CCTV लगे हैं, जिनमें से एक बंद है। एक का मेमोरी कार्ड निकाल दिया गया है। पांच दिन के फुटेज भी डिलीट कर दिए हैं। यह सब क्या है? किसका डर है? मुझसे क्या छिपाया जा रहा? बहुत हो गया। सात साल हो गए सहते-सहते। अब बर्दाश्त नहीं होता। आप मेरा भोपाल ट्रांसफर करा दो। वहीं नौकरी करूंगी।

डॉक्टर दंपती में 5 साल से चल रहा था विवाद
जबलपुर की माढ़ोताल पुलिस के मुताबिक ग्रीन सिटी निवासी डॉ. स्वप्निल जैन मूलत: कटंगी के रहने वाले हैं। उनकी शादी 2015 में भोपाल निवासी होम्योपैथिक डॉक्टर कीर्ति जैन (32) से हुई थी। कीर्ति कैमोरी में पदस्थ थीं। दोनों के दो बच्चे वंश (6) और वंशिका (18 माह) हैं। स्वप्निल इससे पहले जबलपुर हॉस्पिटल में काम कर चुके हैं। अभी उनका खुद का अस्पताल है। डॉक्टर दंपती में करीब पांच साल से विवाद चल रहा था। महिला के परिजनों ने डॉ. स्वप्निल और डॉ. स्वप्निल ने पत्नी के परिवार वालों पर परेशान करने के आरोप लगाए हैं। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

ये भी पढ़ें-

सुसाइड करने वाली भोपाल की डॉक्टर बेटी का दर्द:डॉक्टर पति पर था बेवफाई का शक; ग्रुप में लिखा- 7 साल हो गए सहते-सहते, अब बर्दाश्त नहीं होता

खबरें और भी हैं...