पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Jabalpur
  • The Case Of Gosalpur, Jabalpur, The Boy Had Mysteriously Disappeared On May 28, The Body Was Found Two Days Later, The Dog Was Scratching The Body Of The Innocent

लापता 12 वर्षीय बालक की हत्या:जबलपुर के गोसलपुर का मामला, 28 मई को रहस्यमय तरीके से गायब हो गया था बालक, दो दिन बाद मिली लाश, कुत्ते नोंच रहे थे मासूम का शव

जबलपुर21 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
लापता बालक का जीवित अवस्था का फोटो। - Dainik Bhaskar
लापता बालक का जीवित अवस्था का फोटो।

जबलपुर जिला मुख्यालय से 40 किमी दूर गोसलपुर से दिल दहला देने वाली घटना सामने आई है। दो दिन से लापता 12 वर्षीय बालक की मान मंदिर के पीछे छत-विक्षत हालत में शव मिला। बालक के शव को चार कुत्ते नोंच खा रहे थे। बालक की हत्या कर वहां शव फेंके जाने की बात कही जा रही है। दो दिन से परिवार बेटे की तलाश में परेशान था। रविवार रात 10 बजे शव मिलने की खबर मिलते ही परिवार में कोहराम मच गया। देर रात एसपी सिद्धार्थ बहुगुणा, एएसपी शिवेश सिंह बघेल और एफएसएल टीम भी पहुंची थी।

गोसलपुर के हृदयनगर निवासी बालकृष्ण काछी के दो बेटों दीपक (17) व दीपेश काछी (12) थे। 28 मई को दोपहर तीन बजे दीपेश काछी उसी मोहल्ले में थोड़ी दूरी पर रहने वाली दादी के घर गया था। शाम लगभग सात बजे के लगभग बालकृष्ण से उसकी मां ने दीपेश के बारे में पूछा कि क्या वह घर आ गया है, तो उसने कहा कि नहीं आया। इस पर बालकृष्ण को उसकी मां ने बताया कि वह खाना खाकर निकला था। पूछने पर कि कहां जा रहे हो, बोला कि थोड़ी देर में आता हूं। काफी देर तक नहीं लौटा। इसके बाद बालकृष्ण, उसकी पत्नी व मां ने आसपास गांव में दीपेश की तलाश किए। पता नहीं चलने पर देर रात तीन बजे के लगभग वे गोसलपुर थाने पहुंचे और अपहरण का मामला दर्ज कराया।

दस्तयाबी पर एसपी ने घोषित किया था 10 हजार का इनाम

गोसलपुर में इससे पहले 12 साल की प्रिया नाम की बालिका भी गायब है, जो अभी तक नहीं मिली है। अब 12 साल के दीपेश के गायब होने से पुलिस भी सकते में आ गई। एसपी सिद्धार्थ बहुगुणा ने उसकी दस्तयाबी पर 10 हजार का इनाम घोषित करते हुए जल्द ढूंढ़ने के लिए टीम को निर्देश दिए थे। इधर दीपेश के पिता सहित मां, दादी व बड़ा भाई सहित पूरे गांव के लोग तलाश में परेशान थे। दो दिन तक उसका कुछ पता नहीं चला।

घटनास्थल पर जांच करती पुलिस टीम।
घटनास्थल पर जांच करती पुलिस टीम।

मान मंदिर के पीछे मासूम के शव को कुत्ते नोंच रहे थे

रविवार 30 मई को हृदयनगर निवासी चाय-पान की दुकान चलाने वाला पवन कुमार विश्वकर्मा अपने दोस्तों के साथ रात लगभग 9 बजे घूमने निकला था। वह घूमते हुए मान मंदिर की ओर रात 10 बजे के लगभग पहुंचा तो वहां मैदान की तरफ से बहुत तेज बदबू आ रही थी। झाड़ियों के पास चार कुत्ते एक बच्चे के शव को नोंच खा रहे थे। बच्चे का पेट फटा था और कीड़े लगे हुए थे। पास जाकर देखा तो शव गांव के दीपेश काछी का था। उसने दीपेश के पिता बालकृष्ण को और पुलिस को खबर दी।

घर में मच गया कोहराम

दीपेश का शव मिलने की खबर मिलते ही उसके परिवार में कोहराम मच गया। मां तो सदमें में बेहोश हो गई। पिता चिल्लाते हुए घटनास्थल पर पहुंचा। यही हाल परिवार के अन्य सदस्यों का था। मौके पर गोसलपुर पुलिस के बाद एसपी सिद्धार्थ बहुगुणा, एसडीओपी सिहोरा श्रुतिकीर्ति सोमवंशी, एएसपी शिवेश सिंह बघेल और एफएसएल टीम की प्रभारी डॉक्टर नीता जैन पहुंची। घटनास्थल का बारीकी से निरीक्षण करते हुए शव को पीएम के लिए भिजवाया गया। सोमवार को मासूम के शव का पीएम कराने के बाद परिजनों के सुपुर्द किया गया। एसपी ने बालक की मौत का जल्द खुलासा करने के निर्देश दिए हैं।

खबरें और भी हैं...