पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Jabalpur
  • Caught From Nagpur Toll Plaza, Jabalpur Police Had Been Camping For Four Days, Two Accused Have Already Been Arrested

दोहरे हत्याकांड का मुख्य आरोपी गिरफ्तार:नागपुर टोल प्लाजा से दबोचा गया, चार दिन से डेरा जमाए बैठी थी जबलपुर की पुलिस, दो आरोपी पहले ही हो चुके हैं गिरफ्तार

जबलपुर3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
दोहरे हत्याकांड का मुख्य आरोपी विनय कुशवाहा गिरफ्तार। - Dainik Bhaskar
दोहरे हत्याकांड का मुख्य आरोपी विनय कुशवाहा गिरफ्तार।

नाली विवाद में BJP बूथ अध्यक्ष और उसकी पत्नी की हत्या करने वाले मुख्य आरोपी विनय कुशवाहा को जबलपुर की गोरखपुर पुलिस ने नागपुर टोल प्लाजा से 5 जुलाई की शाम को गिरफ्तार कर लिया। आराेपी ट्रक लेकर मुम्बई भाग गया था। आरोपी मुम्बई से ओड़िशा जाने की फिराक में था। गोरखपुर पुलिस सायबर सेल के साथ पिछले चार दिनों से वर्धा, सिवनी व नागपुर के बीच डेरा जमाए बैठी थी। आरोपी की गिरफ्तारी पर 10 हजार रुपए का इनाम था।

गोरखपुर टीआई सारिका पांडे के मुताबिक 14 जून की रात में साईं नगर रामपुर में नाली विवाद में BJP के बूथ अध्यक्ष पुष्पराज कुशवाहा (24) की हत्या कर दी गई थी। आरोपियों ने उसकी पत्नी नीलम कुशवाहा (23) पर चाकू से 15 वार किए थे। 24 जून को उसने मेडिकल कॉलेज में दम तोड़ दिया था। वहीं रिश्तेदार गोलू कुशवाहा (22) उसकी पत्नी रूचि (22) और बेटे प्रतीक उम्र (5) पर भी चाकू से वार किए थे। रूचि अब भी मेडिकल में भर्ती है। रवि की शिकायत पर आरोपी विनय कुशवाहा, उसके रिश्तेदार राजा व रवि कुशवाहा खिलाफ हत्या का प्रकरण दर्ज हुआ था। गोरखपुर पुलिस ने 30 जून को राजा व रवि को बरगी टोल नाका के पास से गिरफ्तार लिया था।

बीजेपी बूथ अध्यक्ष पुष्पराज कुशवाहा (24) और उसकी पत्नी नीलम कुशवाहा (23) की चाकू से गोदकर हत्या कर दी थी।
बीजेपी बूथ अध्यक्ष पुष्पराज कुशवाहा (24) और उसकी पत्नी नीलम कुशवाहा (23) की चाकू से गोदकर हत्या कर दी थी।

BJP बूथ अध्यक्ष के बाद अब पत्नी की भी मौत:जबलपुर में नाली विवाद में 10 दिन पहले हुआ था खूनी संघर्ष, आरोपियों ने दंपती पर चाकू से 40 वार किए, गिरफ्तारी पर 10 हजार का इनाम घोषित
विनय लगातार बदल रहा था ठिकाना
मुख्य आरोपी विनय कुशवाहा की तलाश जारी थी। विनय ट्रक ड्राइवर है। उसने राजा व रवि की नौकरी रायपुर में लगवा कर चला गया था। दोनों गिरफ्तार हो गए, इसकी जानकारी भी उसे नहीं थी। वहीं ये भी पता नहीं था कि पुष्पराज की पत्नी नीलम की भी मौत हो चुकी है। विनय को दबोचने के लिए गोरखपुर थाने के एसआई कौशल किशोर, रत्नेश राय, नवनीत व संतोष जाट की टीम चार दिनों से वर्धा, सिवनी व नागपुर में डेरा जमाए बैठी थी। विनय का लोकेशन मुम्बई में मिला। फिर पता चला कि वह मुम्बई से ओड़िशा जाने वाला है।
नागपुर टोल प्लाजा पर आरोपी को दबोचा
पर वह औरंगाबाद में रुक गया। टीम वर्धा में उसका इंतजार ही करती रह गई। फिर उसके मुम्बई जाने की सूचना आई। हालांकि वह उसी ट्रक से वापस नागपुर आने लगा। यहां से होकर ओड़िशा के लिए उसे निकलना था। भुसावल में आरोपी का लोकेशन मिलने पर टीम सक्रिय हो गई। टीम नागपुर टोल प्लाज पर पहुंच गई। 5 जुलाई की शाम को जैसे ही आरोपी एक ट्रक से पहुंचा, वहां मौजूद टीम ने उसे दबोच लिया। आरोपी को 6 जुलाई मंगलवार की सुबह लेकर जबलपुर पहुंची। यहां आरोपी को लेकर गोरखपुर पुलिस घटनास्थल पर ले गई। इसके बाद उसकी निशानदेही पर हत्या में प्रयुक्त चाकू जब्त किया।

हत्या के दो आरोपी राजा व रवि को पहले ही पुलिस गिरफ्तार कर चुकी है।
हत्या के दो आरोपी राजा व रवि को पहले ही पुलिस गिरफ्तार कर चुकी है।

हत्या के बाद रायपुर भाग गए थे आरोपी
विनय कुशवाहा के घर की नाली का पानी पुष्पराज के घर के सामने बहता था। इसी बात को लेकर उनके बीच 18 मई को विवाद हुआ था। तब पुष्पराज, अनिल, शैलेन्द्र कुशवाहा, नीलम कुशवाहा के खिलाफ गोरखपुर थाने में विनय के परिवार के विष्णु कुशवाहा ने शिकायत दर्ज कराई थी। इसी रंजिश में विनय ने राजा व रवि के साथ मिलकर 14 जून की रात में खूनी खेल खेला था। विनय ने पूछताछ में बताया कि वह हत्या नहीं करता तो उसकी हत्या हो जाती। हत्या के बाद आरोपी रायपुर और फिर नागपुर चले गए थे। दो आरोपी नागपुर में रुक गए थे। वहीं मुख्य आरोपी मुम्बई भाग गया था।

डबल मर्डर के आरोपी गिरफ्तार:नाली विवाद में तीन आरोपियों ने दंपती सहित पांच चाकू से किया था हमला, BJP बूथ अध्यक्ष की मौके पर तो पत्नी ने मेडिकल में तोड़ दिया था दम

खबरें और भी हैं...