जबलपुर में CM ने किया ध्वजारोहण:शिवराज बोले; रांझी में बसाया जाएगा औद्योगिक क्षेत्र, दूसरा ग्लोबल स्किल पार्क संस्कारधानी में बनेगा

जबलपुर9 दिन पहले

देश का 74 वां गणतंत्र दिवस जिले भर में हर्षोल्लास और उत्साह से मनाया जा रहा है। गणतंत्र दिवस का जिले का मुख्य समारोह पहली बार सदर स्थित गैरिसन ग्राउंड में आयोजित किया जा रहा है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान इस समारोह के मुख्य अतिथि के रूप में शामिल हुए है। समारोह में मुख्यमंत्री ने राष्ट्रीय ध्वज फहराया। इस दौरान उन्होंने कहा-

भारत को स्वतंत्र कराने के लिए जिन क्रांतिकारियों ने अपना सबकुछ न्यौछावर कर दिया, उनको बारंबार प्रणाम। भारत प्राचीन और महान राष्ट्र है। हजारों साल पुराना इतिहास हमारा है। जब दुनिया के विकिसत राष्ट्रों में सभ्यता का सूर्य उदय नहीं हुआ, तब हमारे यहां वेदों की रचना हो गई थी। दुनिया को ज्ञान, प्रेम, आत्मीयता का संदेश भारत ने दिया।

मुझे बचपन याद आ रहा है। तब हम एक गाना सुनते थे- कल का हिंदुस्तान जमाना देखेगा...। आज मैं कह रहा हूं कि कल यह गीत था, आज गर्व के साथ कहता हूं कि कल का यह गीत आज जमाना देख रहा है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में भारत का निर्माण हो रहा है। भारत तेज गति से प्रगति कर रहा है।आज वसंत पंचमी भी है, मैं मां सरस्वती को प्रणाम करते हुए आपको वसंत पंचमी की भी शुभकामनाएं देता हूं। मेरा सौभाग्य है कि आज गणतंत्र दिवस के दिन मैं संस्कारधानी जबलपुर से आप सबको संबोधित कर रहा हूं।

  • सीएम ने कहा कि प्रिय प्रदेशवासियो, भारत को स्वतंत्र कराने के लिए जिन क्रांतिकारियों ने, स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों ने सर्वस्व न्यौछावर कर दिया, आइए पहले उन्हें नमन करें, प्रणाम करें, जिनके कारण देश स्वतंत्र हुआ।
  • नेता जी सुभाषचंद्र बोस जिन्होंने कहा था ‘तुम मुझे खून दो मैं तुम्हें आजादी दूंगा’ यहां जबलपुर जेल में कई दिनों तक रहे हैं। हजारों क्रांतिकारियों ने आजादी के लिए सर्वस्व न्यौछावर कर दिया। मैं उनको प्रणाम करता हूं।
  • प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में वैभवशाली, गौरवशाली, संपन्न भारत, समृद्ध भारत, एक शक्तिशाली भारत का निर्माण हो रहा है। भारत अब दुनिया की पांचवी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था है, 2030 तक हम दुनिया की तीसरी बड़ी अर्थव्यवस्था बन जाएंगे।
  • प्रधानमंत्री के नेतृत्व में भारत तेज गति से प्रगति कर रहा है, ये भारत है। कोविड के कठिन काल में दुनिया में सबसे पहले और सबसे प्रमाणिक दो- दो वैक्सीन भारत ने ही बनाईं।
  • गर्व होता है मुझे आज के भारत पर। हमारा संकल्प है कि प्रधानमंत्री के नेतृत्व में आत्मनिर्भर भारत बनाने के लिए हम आत्मनिर्भर मध्यप्रदेश का निर्माण कर रहे हैं।
  • भारत को स्वतंत्र कराने के लिए जिन क्रांतिकारियों ने अपना सबकुछ न्यौछावर कर दिया, उनको बारंबार प्रणाम। भारत प्राचीन और महान राष्ट्र है। हजारों साल पुराना इतिहास हमारा है। जब दुनिया के विकिसत राष्ट्रों में सभ्यता का सूर्य उदय नहीं हुआ, तब हमारे यहां वेदों की रचना हो गई थी। दुनिया को ज्ञान, प्रेम, आत्मीयता का संदेश भारत ने दिया।
  • मुझे बचपन याद आ रहा है। तब हम एक गाना सुनते थे- कल का हिंदुस्तान जमाना देखेगा...। आज मैं कह रहा हूं कि कल यह गीत था, आज गर्व के साथ कहता हूं कि कल का यह गीत आज जमाना देख रहा है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में भारत का निर्माण हो रहा है। भारत तेज गति से प्रगति कर रहा है।
  • मध्यप्रदेश की विकास दर 19.76 प्रतिशत है। प्रचलित दरों पर हिन्दुस्तान में सबसे तेज विकास की दर हमारे प्रदेश की है। देश की अर्थव्यवस्था में कभी प्रदेश का योगदान 3.6 प्रतिशत होता था, जो बढ़कर 4.6 फीसदी हो गया है।
  • इंदौर में आयोजित ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट में भारत सहित विश्व भर से आए उद्योगपतियों ने ₹15.42 लाख करोड़ से अधिक के निवेश की घोषणा की है। यह उद्योग पूरे मध्यप्रदेश सहित महाकौशल क्षेत्र में भी आएंगे।
  • गांवों में भी गुणवत्तापूर्ण शिक्षा देने के लिए 20 से 25 किमी के दायरे में सीएम राइज स्कूल बना रहे हैं। बेहतर इंफ्रास्ट्रक्चर, स्मार्ट क्लास, लैब, लाइब्रेरी तथा प्ले ग्राउंड यहां सब होगा। बच्चे बस से स्कूल पढ़ने आएंगे।
  • संस्कारधानी जबलपुर में यह बताते हुए मुझे प्रसन्नता है कि एक औद्योगिक क्षेत्र जबलपुर में भी बसाया जाएगा।
  • गारमेंट्स और टेक्सटाइल की यूनिट बनेगी, रहवासी प्लॉट्स भी होंगे, यहां होटल, हॉस्पिटल और मॉल के लिए भी जगह होगी।
  • देश आजाद हुआ, अंग्रेज चले गए, लेकिन अंग्रेजी बनी रही। जब दूसरे देश अपनी भाषा में उच्च शिक्षा की व्यवस्था कर सकते हैं, तो हम क्यों नहीं? मध्यप्रदेश में ऐतिहासिक कदम बढ़ाया और मेडिकल व इंजीनियरिंग की पढ़ाई की हिंदी में शुरुआत की।
  • हमारा संकल्प है कि हर घर सोलर पैनल लगे और धीरे-धीरे घर की जरूरत की बिजली घर में ही बनने लगे। पानी, बिजली, सड़क या शिक्षा हो, मध्यप्रदेश बेहतर कार्य कर रहा है।
  • बिजली के क्षेत्र में मध्यप्रदेश सरप्लस स्टेट बन रहा है। अब कोयले और पानी से ही नहीं, हम सौर ऊर्जा से भी बिजली बनाने की दिशा में लगातार आगे बढ़ हैं। ओंकारेश्वर में फ्लोटिंग सोलर प्लांट स्थापित किया जाएगा।
  • मुझे बताते हुए प्रसन्नता है कि मध्यप्रदेश सभी क्षेत्रों में ऐतिहासिक प्रति कर रहा है। हमारी विकास दर सतत बढ़ रही है, कृषि में हमारे किसानों ने चमत्कार कर दिया है। वादा करता हूं कि मध्यप्रदेश सबसे बेहतरीन सड़कों का राज्य बनेगा।
  • प्रधानमंत्री के ऐतिहासिक नेतृत्व में भारत प्रगति के पथ पर गतिमान है। कोविड-19 के संकट काल में मोदी जी ने न सिर्फ भारतवासियों के जीवन की रक्षा की, बल्कि भारत ने स्वयं वैक्सीन तैयार की और कई देशों को भेजी भी।
  • आज हम सभी भारतवासियों को यह दिन उन अमर शहीद बलिदानियों के सर्वस्व न्यौछावर करने से मिला, जिन्होंने मां भारती की स्वतंत्रता के लिए जीवन बलिदान कर दिया। हम सभी अमर शहीदों को नमन करते हैं।

गणतंत्र दिवस समारोह में शामिल होने मुख्यमंत्री चौहान के जबलपुर आगमन के मद्देनजर इस बार जिले भर में विशेष तैयारियां की गई हैं। शहर की प्रमुख सड़कों, चौक-चौराहों, शासकीय भवनों, राष्ट्रीय और ऐतिहासिक महत्व की इमारतों को रंग बिरंगी रोशनी से सजाया गया है। गली और मोहल्लों में विशेष अभियान चलाकर साफ-सफाई की गई है। जिले के ग्रामीण क्षेत्र में भी आंगनबाड़ी केंद्रों, स्कूलों, छात्रावासों और स्वास्थ्य केंद्रों को सजाया-सँवारा गया है। तहसील मुख्यालयों और नगरीय निकायों में भी जन सहयोग से सड़कों और चौराहों को विद्युत से सजावट की गई है।

गणतंत्र दिवस की 73 वीं वर्षगांठ पर गैरीसन ग्राउंड में आयोजित जिले के मुख्य समारोह में स्कूलों एवं कॉलेजों के छात्र -छात्राओं के साथ-साथ बड़ी संख्या में नागरिक शामिल हुए है। जिले के ग्रामीण क्षेत्र से भी लोग गणतंत्र दिवस समारोह में शामिल होने जबलपुर आ रहे हैं। समारोह स्थल पर दर्शकों के बैठने के लिये अलग-अलग स्टैंड बनाये गये हैं। स्कूल और महाविद्यालयों के विद्यार्थियों के लिये भी अलग स्टैंड्स बनाये गये हैं। विद्यार्थी इन स्टैंड्स पर राष्ट्रीय ध्वज तिरंगा के तीन रंगों की कैप पहनकर बैठें हुए हैं।

समारोह में आकर्षक मार्च पास्ट होगा और सांस्कृतिक कार्यक्रम हुए। स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों और लोकतंत्र रक्षक सेनानियों को भी आमंत्रित किया गया। समारोह में मुख्य अतिथि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों का सम्मान किया। समारोह में विकास कार्यों एवं कल्याणकारी योजनाओं पर केंद्रित आकर्षक झांकियां प्रदर्शित की गई। गणतंत्र दिवस समारोह में रंगीन आतिशबाजी भी कीकी गई। इस समारोह में सेना के बैंड ने भी अपनी प्रस्तुतियां दी।

सीएम के प्रस्तावित कार्यक्रम

  • सुबह 7.45 बजे शारदा नगर उद्यान रांझी में पौधारोपण
  • सुबह 9 बजे गैरिसन ग्राउंड सदर में गणतंत्र दिवस समारोह
  • दोपहर 11.45 बजे मॉडल स्कूल में व्ही आर लेब का उद्घाटन
  • दोपहर 12.15 बजे मॉडल स्कूल में प्रधानमंत्री पोषण शक्ति निर्माण योजना के तहत विशेष भोज
  • दोपहर 1 बजे जबलपुर से भोपाल प्रस्थान
  • शाम 6.30 बजे भोपाल से डुमना आगमन
  • शाम 7.10 बजे आयुर्वेद कॉलेज में भारत पर्व का कार्यक्रम, सोनू निगम होंगे शामिल।
  • रात 8.10 बजे आयुर्वेद कॉलेज से डुमना प्रस्थान

कार्यक्रमों के समय में कुछ परिवर्तन भी हो सकता है।