पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Jabalpur
  • 82 Year Old Woman Going For Treatment With Son Dies After Falling From Bike In Chain Snatching Incident Of Jabalpur GCF Hospital

लुटेरे ने ले ली बुजुर्ग की जान:बेटे के साथ इलाज कराने जा रही 82 साल की वृद्धा के गले से बदमाश ने खींची चेन, झुमका छीनने में बाइक पलटी, मौत; बेटा भी घायल

जबलपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
रानी मिश्रा (82) की जीवित अवस्था की फोटो। - Dainik Bhaskar
रानी मिश्रा (82) की जीवित अवस्था की फोटो।

जबलपुर में लॉकडाउन के बीच क्राइम अनकंट्रोल हो गया है। गन कैरिज फैक्टरी (जीसीएफ) अस्पताल के सामने लुटेरे ने 82 वर्षीय बुजुर्ग महिला की जान ले ली। बुजुर्ग महिला अपने 62 वर्षीय बेटे के साथ बाइक से सीजीएस अस्पताल इलाज करने जा रही थी। लुटेरे ने पहले चेन छीनी फिर झुमका। इस दौरान पल्लू भी झुमके साथ खिंचता चला गया। तभी मां-बेटे बाइक से गिर पड़े और लुटेरा सतपुला से रांझी की ओर फरार हो गया। घायल मां-बेटे को जीसीएफ अस्पताल से घमापुर थाने और विक्टोरिया अस्पताल भेजा गया। यहां बुजुर्ग महिला की मौत हो गई।

शहर के लालमाटी गोपाल होटल के पास रहने वाले 62 वर्षीय दिनेश मिश्रा सीओडी से रिटायर्ड हैं। उनके साथ उनकी 82 वर्षीय मां रानी मिश्रा भी रहती थीं। उनकी तबीयत कुछ खराब थी। शुक्रवार को दिनेश मिश्रा मां काे दिखाने वीकल के आगे सीजीएस अस्पताल जा रहे थे। दिनेश मिश्रा के मुताबिक वह जीसीएफ अस्पताल के सामने पहुंचे थे। तभी पीछे से एक बाइक सवार नकाबपोश आया।

झपट्‌टा मारकर पहले चेन, फिर झुमका खींचा

आरोपी ने दिनेश मिश्रा के बगल में बाइक लगाकर झपट्‌टा मारकर पहले रानी मिश्रा के गले में पहने गए चेन को खींचा और फिर कानों में पहने गए झुमका को छीनने का प्रयास किया पर झुमके के साथ उनकी साड़ी का पल्लू आ गया। इस झटके से बाइक अनियंत्रित हो गई। दिनेश मिश्रा बाइक लेकर मां के साथ गिर गए। उनकी मां का सिर फट गया।

अस्पताल के लोग मदद को दौड़े

घटना जीसीएफ अस्पताल के ठीक सामने हुआ था। चीख सुनकर अस्पताल के लोग मदद को दौड़े। मां-बेटे को अस्पताल में ले गए। मां-बेटे को एम्बुलेंस से पहले घमापुर थाने और फिर वहां से विक्टोरिया अस्पताल भिजवाया। विक्टोरिया जिला अस्पताल में रानी मिश्रा को डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया।

शनिवार को होगा पीएम
शहर में दिन दहाड़े हुए इस दुस्साहस भरी घटना को पुलिस छुपाने में जुटी रही। रानी मिश्रा के शव को का पीएम कराकर परिजनों के सुपुर्द दिया गया। इसके बाद उनका अंतिम संस्कार हुआ। दिनेश मिश्रा के अलावा उनका एक बेटा नरेंद्र मिश्रा सिहोरा में रहते हैं। इस घटना काे लेकर मिश्रा परिवार सहित आसपास के लोगों में गहरा आक्रोश है। परिवार के जगमोहन मिश्रा ने आरोपी की जल्द गिरफ्तार करने की मांग की है।

पुलिस का दोहरा चरित्र उजागर

चेन स्नेचिंग के दौरान महिला की मौत की सनसनीखेज वारदात के बाद पुलिस का रवैया और शर्मनाक रहा। लूट व हत्या का प्रकरण दर्ज करने की बजाए पुलिस ने अभी मर्ग कायम कर जांच में लिया है। घमापुर पुलिस के मुताबिक वरिष्ठ अधिकारियों के संज्ञान में मामला है।टीआई का दावा है कि घटना को लेकर सीसीटीवी फुटेज सामने आया है, जिसमें यह पता नहीं लग पा रहा है कि वृद्धा कैसे गिरी। जबकि गढ़ा में आरक्षक पर हमला हुआ तो आरोपी पर धाराएं लादते हुए आनन-फानन में एनएसए तक कर डाला।

खबरें और भी हैं...