• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Jabalpur
  • There Will Be A Reading Of The Meter Outside The House, Where It Is Not Possible, Billing According To The Reading Of The Previous Month

मीटर रीडिंग:घर के बाहर लगे मीटर की होगी रीडिंग, जहाँ संभव नहीं वहाँ पिछले माह की रीडिंग के हिसाब से बिलिंग

जबलपुर6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

कोरोना काल में मीटर रीडिंग को लेकर असमंजस की स्थिति है। मीटर रीडर जहाँ कहीं घर के बाहर मीटर लगे हुए हैं वहाँ तो आसानी से रीडिंग ले रहे हैं, मगर जहाँ मीटर भीतर हैं वहाँ अधिकांश लोग कोरोना के खौफ से मीटर वाचक को रीडिंग के लिए भीतर नहीं आने दे रहे हैं। जिन क्षेत्रों में कोरोना संक्रमित ज्यादा हैं, वहाँ भी मीटर रीडर जाने से कतरा रहे हैं।

इस स्थिति में अब अप्रैल माह की रीडिंग संभव नहीं हो पा रही है। बताया जाता है कि मीटर रीडिंग को लेकर अधिकारियों द्वारा सभी रीडर्स को निर्देश दिए गए हैं कि वे स्पॉट रीडिंग करें। लेकिन मीटर रीडर संक्रमित होने के कारण हर जगह जाने से डर रहे हैं।

वहीं दूसरी ओर बिजली कंपनी प्रबंधन ने मीटर रीडिंग में आ रहीं दिक्कतों को देखते हुए यह भी तय किया है कि जिन उपभोक्ताओं के यहाँ कोरोना संक्रमण के चलते मीटर रीडिंग नहीं हो रही है, ऐसे उपभोक्ता 5 मई तक की रीडिंग की फोटो खींचकर बिजली कंपनी के स्मार्ट बिजली एप पर भेज सकते हैं।

घर के बाहर लगे मीटर में जहाँ तक संभव हो रीडिंग की जाएगी। घर के भीतर या फिर कोरोना संक्रमित क्षेत्र में जहाँ रीडिंग संभव नहीं हो पा रही है उन उपभोक्ताओं को पिछले माह की खपत के आधार पर बिल दिया जाएगा।
-व्हीकिरण गोपाल, एमडी, पूर्व क्षेत्र बिजली कंपनी

खबरें और भी हैं...