• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Jabalpur
  • Union Minister Giriraj Singh, Who Reached Jabalpur, Targeted The Congress, Said That He Could Not Even Open The Collector's Office In Amethi, The Family Seat.

जिन्ना की राह चलने वालों की खैर नहीं:जबलपुर में गिरिराज सिंह का कांग्रेस पर भी तंज, खानदानी सीट अमेठी में कलेक्टर ऑफिस तक नहीं खोल पाए थे

जबलपुर7 महीने पहले
प्रगतिशील किसान सुभाष भाटिया से बात करते हुए केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह।

केन्द्रीय ग्रामीण विकास व पंचायती राज मंत्री गिरिराज सिंह आज जबलपुर में थे। उन्होंने यूपी चुनाव को लेकर सपा, बसपा और कांग्रेस पर जमकर निशाना साधा। बोले यूपी में अब जिन्ना-औरंगजेब की राह चलने वालों की खैर नहीं। यूपी की जनता को विकास, अमन-चैन और शांति चाहिए, वो योगी ने स्थापित कर दिया है। खानदानी सीट अमेठी में विकास का आलम ये था कि वहां कलेक्टर का ऑफिस तक नहीं खोल पाए थे, स्मृति ईरानी ने खुलवाया।

यूपी में कांग्रेस और प्रियंका पर बिना तंज कसते हुए बोले कि अब घर-घर घूमे या दर-दर घूमे। देश और यूपी का भरोसा अब बीजेपी, मोदी व योगी पर है। यूपी में बीजेपी 2017 से भी भारी बहुमत में आएगी। 2007 में मायावती आईं थीं। 2012 में उन्होंने 100 सीट मुसलमानों को देने की बात कही। यूपी की जनता ने नए चेहरे के रूप में सपा से उतारे गए अखिलेश यादव पर भरोसा जताया। पर गुंडागर्दी और डकैती का ही राज चलता रहा। योगी के पांच साल में जिन्ना, औरंगजेब, दहशतगर्दी और आतंकवाद की राह चलने वालों का खैर नहीं।

जबलपुर में बेम्बू नर्सरी देखने पहुंचे केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह।
जबलपुर में बेम्बू नर्सरी देखने पहुंचे केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह।

किसान के बांस नर्सरी को देखने पहुंचे थे केंद्रीय मंत्री

केन्द्रीय ग्रामीण विकास व पंचायती राज मंत्री गिरिराज सिंह, रविवार को केन्द्रीय खाद्य व प्रसंस्करण उद्योग एवं जलशक्ति राज्यमंत्री प्रहलाद पटेल के साथ घाना तिलवारा स्थित प्रगतिशील किसान सुभाष भाटिया के ग्रीन बेम्बू नर्सरी का भ्रमण करने पहुंचे थे। यहां बांस के पौधे और उससे बनने वाले 100 तरह के उत्पाद के उपक्रम को देखा। इसके बाद पत्रकारों से बातचीत में मंत्रालय की योजनाओं के बारे में जानकारी दी।

किसानों की आमदनी दुगना करने का प्रयास

किसानों की आमदनी दुगना करने का पीएम ने संकल्प लिया है। इसी संकल्प को आजीविका मिशन से हम आगे बढ़ा रहे हैं। 2014 से पहले देश में 2.35 करोड़ ही इसके मेम्बर थे। अब 8.50 करोड़ हो गए हैं। इसे 10 करोड़ पर ले जाना है। 2014 से पहले 2.35 लाख महिलाओं के 80 हजार करोड़ का ही बैंक लिंकेज था।

अब 4.50 लाख करोड़ के लगभग का बैंक लिंकेज हो गया। तब एनपीए 9.5% था, जो घटकर 9.2 पर आया है। आजीविका मिशन से जुड़ी बहनों की आय 8 से 12 हजार करने की कोशिश में जुटे हैं। 2022 के अंत तक एक तिहाई महिलाओं को पहले फेज में वन मिशन से जोड़ने का लक्ष्य है। और 2025 तक सभी को इस योजना से जोड़ देंगे।

किसानों के समूह ने 211 दिनों में एक करोड़ का टर्न ओवर पार किया

कृषक उत्पादक समूह व स्वंय सहायता समूहों के माध्यम से देश के गांव अब आत्मनिर्भर बन रहे हैं। ऐसा ही एक गांव है पाटन का कंतोरा। किसानों का उत्पादक समूह मैकलसुता फार्मर प्रोडूसर कंपनी लिमिटेड ने 211 दिनों में एक करोड़ टर्न ओवर पार कर दिया। केन्द्रीय मंत्री गिरिराज सिंह और केंद्रीय राज्यमंत्री प्रहलाद पटेल ने एफपीओ के निदेशक मंडल को शुभकामनाएं दी और उद्यम प्रमाण पत्र व एफएसएसएआई का राज्य लाईसेंस प्रदान किया। इस अवसर पर पाटन विधायक अजय विश्नोई, अपर कलेक्टर राजेश बाथम, जिला पंचायत के अतिरिक्त मुख्य कार्यपालन अधिकारी मनोज सिंह व अरूण सिंह सहित अन्य अधिकारी मौजूद थे।

खबरें और भी हैं...