• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Jabalpur
  • Fake Journalists Had Formed Gang To Earn Money By Extortion, Cheating And Blackmail, Remand Taken In Gwarighat Robbery Case

ब्लैकमेलर गैंग के तीन गुर्गों को रिमांड पर लिया:वसूली, ठगी और ब्लैकमेल कर पैसे कमाने के लिए फर्जी पत्रकारों ने बनाया था गैंग, ग्वारीघाट लूट प्रकरण में लिया गया रिमांड

जबलपुरएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
ग्वारीघाट पुलिस ने ब्लैकमेलर गैंग के तीन गुर्गों को रिमांड पर लिया। - Dainik Bhaskar
ग्वारीघाट पुलिस ने ब्लैकमेलर गैंग के तीन गुर्गों को रिमांड पर लिया।

जबलपुर पुलिस द्वारा गिरफ्तार कर जेल भेजे जा चुके ब्लैकमेलर गैंग के नौ आरोपियों में तीन को रिमांड पर लिया गया है। बुधवार को ग्वारीघाट पुलिस ने अपने यहां दर्ज लूट और वसूली के प्रकरण में पंकज गुप्ता, जेपी सिंह और विवेक मिश्रा को 6 अगस्त तक रिमांड पर लिया है। उक्त तीनाें से पूछताछ में पता चलेगा कि उनके साथ तीन और कौन आरोपी थे। इसके बाद पीड़ित से जेल में उक्त आरोपियों की शिनाख्त करने के बाद उनकी भी रिमांड ली जाएगी।

ग्वारीघाट टीआई विजय सिंह परस्ते के मुताबिक उनके यहां फर्जी पत्रकारों के ब्लैकमेलर गैंग के खिलाफ 30 जुलाई को एफआईआर दर्ज हुई थी। मामले में ब्लैकमेल कर पैसे वसूलना और लूट का प्रकरण दर्ज हुआ था। इस मामले के तीनों नामजद आरोपियों को 29 जुलाई को ही मदनमहल पुलिस अपने यहां के एक प्रकरण में गिरफ्तार कर चुकी थी। बुधवार को नंदन विहार दमोहनाका निवासी जेपी सिंह, कृष्णा नगर माढ़ोताल निवासी पंकज गुप्ता और पटेल नगर महाराजपुर निवासी विवेक मिश्रा को रिमांड पर लेकर पूछताछ की जा रही है।

ब्लैकमेलर गैंग का गुर्गा मकान पर किया था कब्जा:गैंग के खिलाफ जबलपुर पुलिस ने और कसा शिकंजा, गढ़ा थाने में भी दूसरी FIR

आरोपियों ने क्राइम ब्रांच का पुलिस कर्मी बनकर की थी लूट

ग्वारीघाट पुलिस के मुताबिक तीनों नामजद आरोपियों ने अपने तीन अन्य साथियों के साथ मिलकर मूलत: नरसिंहपुर निवासी आशु उर्फ आशीष (23) से चार जुलाई को 36 हजार 500 रुपए ऐंठ लिए थे। आशु भीमनगर ग्वारीघाट में किराए से रहकर ऑटो चलाता है। वह 4 जुलाई को महिला मित्र के साथ कमरे में था। तभी खुद को क्राइम ब्रांच का पुलिस कर्मी बताकर आरोपी आशु के कमरे पर पहुंचे और धमकाते हुए उसके दो एटीएम कार्ड से 24000 रुपए, पास रखे 1500 रुपए और फोन-पे में जमा 11000 रुपए छोटी लाइन स्थित एक दुकानदार के खाते में ट्रांसफर कराकर नकद वसूल लिया था।

ब्लैकमेलर गैंग के खिलाफ अब तक 6 एफआईआर

एएसपी सिटी रोहित काशवानी के मुताबिक ब्लैकमेलर गैंग के खिलाफ मदनमहल में दो, माढ़ोताल, ग्वारीघाट में एक-एक और गढ़ा में भी दो एफआईआर दर्ज हो चुके हैं। इन मामलों में कुल 15 आरोपी बने हैं। अब तक नौ आरोपी संतोष जैन, पंकज गुप्ता, विवेक मिश्रा, जेपी सिंह, अंकित श्रीवास्तव, बादल पटेल, दिलीप थोरात उर्फ बबला, प्रेम सिंह लोधी, कोमल पटेल गिरफ्तार हाे चुके हैं। वहीं 6 आरोपी शैलेंद्र गौतम, उसकी बहन मोना उर्फ भारती गौतम, मां चंद्रवती, अर्पित ठाकुर, रवि बेन और गौरव सोनी फरार हैं।

आरोपियों के खिलाफ ये एफआईआर दर्ज-

मदनमहल में-

  • शास्त्रीनगर तिलवारा निवासी 28 वर्षीय महिला को निर्वस्त्र कर वीडियो बनाकर वायरल करना और एक लाख की मांग करना।
  • महिला मैनेजर की मौजूदगी में क्राइम ब्रांच बनकर होटल में रेड करना और 20 हजार रुपए महीने न देने पर हिंदू-मुस्लिम दंगा करा कर आग लगवाने की धमकी देना।

ग्वारीघाट में-

  • क्राइम ब्रांच बनकर भीमनगर में किराए से रहने वाले नरसिंहपुर निवासी आशू से धमका कर 36 हजार 500 रुपए ऐंठना।

माढ़ोताल में-

  • गढ़ा निवासी अभिषेक दीक्षित को करमेता में 500 वर्गफीट का प्लाट 6.50 लाख रुपए में बेचने का सौदा कराकर पैसे हड़प लेना।

गढ़ा में-

  • गढ़ा निवासी अभिषेक दीक्षित को हेल्थ या पुलिस में जॉब दिलाने का झांसा देकर 4 लाख रुपए ऐंठ लेना।
  • गौतम मढ़िया निवासी सिया बाई के मकान में जबरन कब्जा जमाना और एसडीएम कोर्ट के आदेश के बावजूद खाली न करने को लेकर धमकाना।
खबरें और भी हैं...