• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Jabalpur
  • In Jabalpur, The Relatives Caught The Minor And The Accused Was In A Compromising Position In The Middle Of The Night

रेप के बाद नाबालिग की रहस्यमयी मौत!:जबलपुर में प्रेमी और बेटी को घर में साथ देखा, डरकर प्रेमी भाग गया, कुछ देर बाद लड़की मृत मिली; परिवार बोला- खुद ही गला घोंट लिया

जबलपुर4 महीने पहले

जबलपुर में रेप के बाद 17 साल की लड़की की रहस्यमय मौत का मामला सामने आया है। दरअसल, लड़की के परिजनों ने आधी रात पड़ोस में रहने वाले 25 साल के युवक के साथ देखा। उस समय युवक भाग गया। करीब ढाई घंटे बाद लड़की के परिजन थाने पहुंचे। यहां शिकायत दी कि उनकी बेटी के साथ रेप किया गया है। पुलिस ने बेटी को बुलाने के लिए भेजा तो वह घर में मृत मिली। उसके गले में चुनरी लिपटी थी। हालांकि, सुसाइड का ये तर्क किसी के गले नहीं उतर रहा। अभी तक लड़की हत्या का राज पहेली बना हुआ है।

हनुमानताल क्षेत्र के बाबा टोला की रहने वाली 17 साल की लड़की तीन भाई-बहनों में सबसे बड़ी थी। टीआई हनुमानताल उमेश गोल्हानी के मुताबिक, सोमवार तड़के 4.30 बजे लड़की के पिता, मां और दोनों भाई बदहवास हालत में थाने पहुंचे। यहां उसने बताया कि पड़ोसी देवेंद्र चौधरी (21) ने घर में घुसकर लड़की के साथ रेप किया। चीख सुनकर वे पहुंचे तो आरोपी ने पीड़िता की मां के भी कपड़े फाड़ दिए और फिर बाउंड्रीवॉल कूद कर भाग गया।

पड़ोस में रहने वाले देवेंद्र चौधरी के साथ लड़की को परिवार वालों ने देख लिया था।
पड़ोस में रहने वाले देवेंद्र चौधरी के साथ लड़की को परिवार वालों ने देख लिया था।

बेटी को पेश करने के लिए कहा तो दूसरी कहानी निकली
पुलिस ने परिजनों को पीड़िता को साथ लाने के लिए कहा। परिजनों के साथ पुलिस की टीम भी गई। वहां कमरे में लड़की रहस्यमय हालत में मृत मिली। उसके गले में चुनरी लिपटी थी। परिजनों का दावा है कि उसने चुनरी से खुद का गला कस लिया। इसके बाद पुलिस ने परिजनों की मदद से आरोपी देवेंद्र चौधरी को दबोच लिया। परिजनों की शिकायत पर उसके खिलाफ रेप व पॉक्सो एक्ट का केस दर्ज किया गया है।

दो घंटे के विलंब में छुपा है मौत का राज
पुलिस सूत्रों की मानें तो परिजनों ने आरोपी को लड़की के साथ रविवार देर रात ढाई बजे देखा था। इसके बाद वह भागने में सफल हो गया था। परिजन हनुमानताल थाने तड़के 4.30 बजे पहुंचे। इस दो घंटे के विलंब में ही लड़की की मौत की पूरी गुत्थी सुलझी है। मेडिकल कॉलेज में पीएम करने वाले डॉक्टरों के पैनल ने भी निशान देख बताया कि ये सुसाइड नहीं हो सकता। सीएसपी अखिलेश गौर के मुताबिक मामला संदिग्ध है। रेप, पॉक्सो सहित मर्ग कायम कर मामले की जांच की जा रही है। पीएम रिपोर्ट और परिजनों के बयान के आधार पर आगे की कार्रवाई होगी।

खबरें और भी हैं...