पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

हद है:जहाँ लग रही कोरोना की वैक्सीन, वहीं हो रहे टेस्ट

जबलपुर8 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • शासकीय सिविल डिस्पेंसरी शंकर शाह नगर में नियमों को ताक पर रखकर हो रहा टीकाकरण, संक्रमण का खतरा, लोगों ने कहा - यहाँ न हो कोरोना की जाँच

एक ओर जहाँ टीका लगवाने लोगों की भीड़ है, वहीं दूसरी ओर कोरोना संक्रमण की जाँच के लिए सैंपल देने आए लोगों की लाइन। यह नजारा है शासकीय सिविल डिस्पेंसरी शंकर शाह नगर का, जहाँ नियमों को ताक पर रखते हुए कोरोना टीकाकरण हो रहा है।

प्रोटोकॉल के मुताबिक टीकाकरण के लिए 3 कमरे अनिवार्य हैं, लेकिन यहाँ 2 कमरों में डिस्पेंसरी चल रही है, वहीं बरामदे में लोगों की भीड़ जमा होती है। एक ही गेट से सभी लोगों को आना-जाना होता है। कोरोना की वैक्सीन लगवाने आए व्यक्ति के सामने ही अगर कोरोना के सैंपल लिए जा रहे हों तो आप समझ सकते हैं वह किस मानसिक डर से गुजरेगा, वहीं दूसरी ओर उसके संक्रमित होने की आशंका भी बढ़ जाएगी। शहर में ऐसे और भी स्वास्थ्य केंद्र हैं, जहाँ इस तरह की गड़बड़ी की शिकायत स्थानीय जनों ने की है।
सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं
कोरोना संदिग्धों की जाँच के लिए लाइन और कोरोना का टीका लगवाने आए लोगाें के बीच में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं हो रहा है। लोग एक दूसरे से सटकर खड़े हो रहे हैं। टीका लगवाने अाए व्यक्ति के करीब से कब कौन संक्रमित निकल जाए कहा नहीं जा सकता।

स्थानीय लोगों का कहना है कि डिस्पेंसरी पीडब्ल्यूडी के क्वार्टर में चल रही है, जोकि बेहद छोटा है। यहाँ पर काेरोना का टीकाकरण ही होना चाहिए और कोरोना की सैंपलिंग बंद कर देनी चाहिए। डिस्पेंसरी के स्टॉफ का भी यही कहना है कि यहाँ दोनों चीजें एक साथ नहीं होनी चाहिए।
वैक्सीनेशन की गाइडलाइन्स
वैक्सीनेशन के लिए कुछ गाइडलाइन बनाई गई हैं। इसमें 3 कमरे होना अनिवार्य है। पहला प्रतीक्षा कक्ष होगा, जहाँ टीका लगवाने आया व्यक्ति प्रतीक्षा करेगा। इसके बाद दूसरे कक्ष में टीका लगेगा। टीका लगने के बाद तीसरे कक्ष में कम से कम आधा घंटा ऑब्जर्वेशन में रखा जाएगा, ताकि स्वास्थ्य खराब होने पर तुरंत उपचार दिया सके।

  • इस पर नजर रखी जा रही है कि जहाँ कोरोना सैंपलिंग हो रही है, वहाँ टीकाकरण न हो। अगर ऐसा है तो सुधार किया जाएगा। - डॉ. एसएस दाहिया, जिला टीकाकरण अधिकारी

लगभग 22 हजार को लगी वैक्सीन
जिले में चल रहे कोरोना टीकाकरण अभियान के अंतर्गत सोमवार को लक्ष्य से अधिक टीके लगे। टीके के लिए बनाए गए 150 केंद्रों पर 19080 हितग्राहियों को टीका लगाने का लक्ष्य था और इसके मुकाबले 21737 हितग्राहियों ने टीका लगवाया। हालाँकि वैक्सीन कम होने के चलते पिछले हफ्ते के मुकाबले कम केंद्र और कम लक्ष्य के साथ टीकाकरण हुआ। जबलपुर शहर के 24 निजी केंद्रों पर 1903 और 43 शासकीय केंद्रों पर 8339 टीके लगे। वहीं इसके अलावा सोमवार को टीके के 62 हजार नए डोज भी मिले हैं।

इसके साथ ही स्वास्थ्य विभाग द्वारा भोपाल से आदेश जारी किया गया है कि किसी भी केंद्र पर 45 वर्ष से कम उम्र के नागरिकों को टीकाकरण न किया जाए। जिला टीकाकरण अधिकारी डॉ. एसएस दाहिया ने बताया कि आज मंगलवार को जिला अस्पताल समेत सभी सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों में टीका लगेगा, वहीं मेडिकल कॉलेज एवं प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों में टीके नहीं लगेंगे। निजी अस्पतालों के केंद्रों में कोई बदलाव नहीं किया गया है।

औद्योगिक क्षेत्र रिछाई में वैक्सीनेशन कैम्प आज
औद्योगिक क्षेत्र रिछाई में कोरोना वैक्सीनेशन शिविर का आयोजन किया जा रहा है। इस संबंध में महाकौशल उद्योग संघ के डीआर जेसवानी ने बताया कि 6 अप्रैल को प्रात:10 बजे से शाम 5 बजे तक स्वास्थ्य विभाग की टीम यहाँ टीकाकरण करेगी।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- ग्रह स्थिति अनुकूल है। मित्रों का साथ और सहयोग आपकी हिम्मत और हौसले को और अधिक बढ़ाएगा। आप अपनी किसी कमजोरी पर भी काबू पाने में सक्षम रहेंगे। बातचीत के माध्यम से आप अपना काम भी निकलवा लेंगे। ...

    और पढ़ें