• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Jabalpur
  • When The Khel Ratna Award In The Name Of BJP State President Major Dhyan Chand Was Called Historic, Then Former Finance Minister Bhanot Said That It Is A Sign Of Frustration, Prejudice And Sick Mentality.

खेल पुरस्कार के नाम पर सियासत:BJP प्रदेश अध्यक्ष बोले- मेजर ध्यानचंद के नाम पर खेल रत्न पुरस्कार का नाम करना ऐतिहासिक फैसला, पूर्व वित्त मंत्री भनोट ने कुंठा और पूर्वाग्रह बताया

जबलपुर4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
खेल पुरस्कार का नाम बदलने पर आमने-सामने बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा और कांग्रेस नेता पूर्व वित्त मंत्री तरुण भनोट। - Dainik Bhaskar
खेल पुरस्कार का नाम बदलने पर आमने-सामने बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा और कांग्रेस नेता पूर्व वित्त मंत्री तरुण भनोट।

राजीव गांधी खेल रत्न पुरस्कार का नाम बदलकर मेजर ध्यानचंद खेल रत्न अवॉर्ड किए जाने को लेकर अब सियासी बयानबाजी तेज हो गई है। गांधी परिवार या बड़े नेताओं की ओर से भले ही अभी इस पर कोई टिप्पणी नहीं आई हो, लेकिन मध्य प्रदेश में कांग्रेस नेता और पूर्व मंत्री तरुण भनोट ने केंद्र सरकार के इस फैसले का विरोध किया। भनोट ने नाम बदलने के फैसले को भाजपा की कुंठा, पूर्वाग्रह और छोटी मानसिकता बताया। बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा ने इसे ऐतिहासिक निर्णय बताकर इस कदम का समर्थन किया।

जबलपुर दौरे पर पहुंचे ‌BJP के प्रदेश अध्यक्ष एवं सांसद विष्णुदत्त शर्मा ने कहा कि देश का राष्ट्रीय खेल हॉकी है। हॉकी के जादूगर मेजर ध्यानचंद इस खेल में भारत का नाम दुनिया में रोशन करने वाले पहले खिलाड़ी थे। उनके नाम पर खेल रत्न पुरस्कार का नाम करना ऐतिहासिक फैसला है।

बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा पदाधिकारियों से चर्चा करते हुए।
बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा पदाधिकारियों से चर्चा करते हुए।

वीडी शर्मा ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने देशवासियों का मान बढ़ाया है। इस फैसले से ओलिंपिक में कांस्य पदक जीतने वाली टीम इंडिया के सभी खिलाड़ियों का मनोबल ऊंचा हुआ है। इस फैसले से कांग्रेस के नेताओं को इस बात की पीड़ा है कि खेल पुरस्कार से कैसे गांधी सरनेम हटा दिया गया, पर उनकी मुश्किल ये है कि वे खुलकर इसका विरोध भी नहीं कर पा रहे हैं।

तरुण भनोत ने शनिवार को सोशल मीडिया के जरिए से इस फैसले का विरोध किया था। उन्होंने कहा कि यह बीजेपी की कुंठा, पूर्वाग्रह और कुत्सित मानसिकता का परिचायक है। उन्होंने अपनी पोस्ट को कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ, पूर्व सीएम दिग्विजय सिंह और राज्य सभा सदस्य विवेक तन्खा को भी टैग किया है। सोशल मीडिया में भनोट ने लिखा है कि केंद्र में भाजपा की सरकार ने पूर्व पीएम राजीव गांधी के नाम पर दिया जाने वाले खेल रत्न पुरस्कार का नाम बदलकर महान हाॅकी खिलाड़ी मेजर ध्यानचंद के नाम पर कर दिया। मेजर ध्यानचंद महान हॉकी खिलाड़ी हैं, लेकिन राजीव गांधी का बलिदान देश कभी नहीं भुला सकता।

खबरें और भी हैं...