पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

शिकायत:15 दिन पहले हुआ फसलों को नुकसान, अब तक नहीं पहुंचा राजस्व अमला, सर्वे शुरू कराने की मांग

बड़वानी12 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • नायब तहसीलदार से किसान बोले- मिर्च पर वायरस, बारिश व हवा से आड़ी पड़ी मक्का, ज्वार-बाजरा की फसल

ग्राम रेहगून निवासी किसान गोपाल परमार ने 4 एकड़ में मक्का फसल लगाई थी। लेकिन 8 दिन पहले तेज हवा चलने से फसल आड़ी पड़ गई। इसी तरह जिले में मिर्च फसल पर वायरस का अटैक हुआ था। इसके चलते किसानों को मिर्च के पौधे उखाड़ना पड़े। अतिवृष्टि से सोयाबीन फसल को नुकसान हुआ। लेकिन अभी तक अफसरों ने सर्वे शुरू नहीं किया है। इसको लेकर किसानों व भारतीय किसान संघ के सदस्यों ने मंगलवार को कलेक्टोरेट के बाहर नारे लगाकर विरोध जताया। नायब तहसीलदार जगदीश बिलगांवे से अभी तक सर्वे शुरू न होने पर शिकायत की। संघ के जिला उपाध्यक्ष श्याम कछावा व तहसील अध्यक्ष ओमप्रकाश काग ने बताया अतिवृष्टि व आंधी के कारण 15 दिन पहले फसलें आड़ी पड़ी थी। लेकिन राजस्व अमले ने अभी तक सर्वे शुरू नहीं किया है। उन्होंने बताया मिर्च पर फिर से वायरस का अटैक होने से किसानों को पौधे उखाड़ना पड़ी। ज्वार व मक्का की फसल आड़ी पड़ गई। उन्होंने बताया ज्यादा बारिश होने से सोयाबीन फसल को भी नुकसान हुआ है। इस बार जिले में 27454 हेक्टेयर में सोयाबीन और 62648 हेक्टेयर में मक्का की बोवनी हुई थी। लेकिन हजारों हेक्टेयर में लगातार बारिश के कारण सोयाबीन की फसल पीली पड़ गई। वहीं कीट लगने से फसल को नुकसान हुआ है। नायब तहसीलदार बिलगांवे से उन्होंने फसल नुकसानी का सर्वे करवाकर किसानों को राहत राशि दिलाने की मांग की है। इस दौरान लक्ष्मण हम्मड़, कैलाश राठौर, भगवान परमार, मांगीलाल बर्फा, किशोर राठौर, हीरालाल राठौर सहित अन्य किसान मौजूद थे।

आरोप... सदस्यों का कहना- पटवारी घर बैठे करते हैं सर्वे
किसान संघ के उपाध्यक्ष कछावा ने आरोप लगाया पटवारी खेतों में जाने की बजाय घर बैठे सर्वे करते हैं। इससे किसानों को परेशानियों का सामना करना पड़ता है। किसान ने अभी मक्का फसल लगाई है। लेकिन पटवारी द्वारा खेत में जाए बिना पूर्व में लगाई अन्य फसल पोर्टल पर इंट्री कर दी जाती है। इससे समर्थन मूल्य पर पंजीयन कराने के अलावा अन्य कार्यों में भी परेशानी होती है।

विरोध... राजपुर में अध्यादेशों के खिलाफ 17 को प्रदर्शन
राष्ट्रीय किसान मजदूर महासंघ द्वारा केंद्र सरकार द्वारा पारित तीन अध्यादेशों के खिलाफ 17 सितंबर को विरोध प्रदर्शन किया जाएगा। महासंघ अध्यक्ष मदन मुलेवा ने बताया हाल ही में केंद्र सरकार के तीनों अध्यादेश किसानों के खिलाफ है। इससे सिर्फ किसानों का शोषण होगा। सरकार विदेशों के किसानों की तर्ज पर हमारे ऊपर यह अध्यादेश लागू करने जा रही है, जो उचित नहीं है।

किसान संघ... लागत के आधार पर लाभकारी मूल्य देने की मांग
किसान संघ के सदस्यों ने किसानों की समस्याओं को लेकर नायब तहसीलदार को पीएम, सीमए व कलेक्टर के नाम आवेदन दिए। इसमें लागत के आधार पर फसलों के लाभकारी मूल्य देने, मक्का, ज्वार, बाजरा, तुअर, मूंग की समर्थन मूल्य पर खरीदी करने, वन क्षेत्र में रहने वाले किसानों को वनोपज का उचित मूल्य पर सरकार द्वारा खरीदी करने, बड़वानी मंडी में सीसीआई द्वारा कपास की खरीदी समर्थन मूल्य पर अक्टूबर से शुरू करने, सीमए अनुदान से बिजली ट्रांसफार्मर योजना चालू करने, जले ट्रांसफार्मर बदलने, एंबुलेंस सेवा शुरू करने की मांग रखी है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज का दिन परिवार व बच्चों के साथ समय व्यतीत करने का है। साथ ही शॉपिंग और मनोरंजन संबंधी कार्यों में भी समय व्यतीत होगा। आपके व्यक्तित्व संबंधी कुछ सकारात्मक बातें लोगों के सामने आएंगी। जिसके ...

और पढ़ें