पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

अब लगा मानसून आया:सेंधवा में 4 इंच बारिश, धनोरा में पुलिया पर बाढ़

बड़वानी9 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
बारिश के बाद बुधवार बारद्वारी पहुंचे सीएमओ व कर्मचारी। - Dainik Bhaskar
बारिश के बाद बुधवार बारद्वारी पहुंचे सीएमओ व कर्मचारी।
  • फसलों को होगा फायदा, गोई नदी में भी बढ़ा जलस्तर, पिछले साल से अब भी 34%कम बारिश

मानसून के सक्रिय होने के बाद क्षेत्र में बारिश हो रही है। शहर सहित गांवों में मंगलवार रात तेज बारिश हुई। रातभर में 4 इंच से अधिक पानी गिरा। धनोरा में नाले पर बने पुलिया के ऊपर से पानी गुजरा। शहर में मंगलवार रात 11 बजे से बारिश शुरू हुई। एक घंटे तक तेज और इसके बाद रिमझिम पानी बरसा। तहसील कार्यालय से प्राप्त जानकारी के अनुसार सेंधवा तहसील में बुधवार सुबह 8 बजे तक 4.4 इंच बारिश हुई। जो इस वर्ष की अब तक की सर्वाधिक बारिश है। इसे मिलाकर 10.64 इंच बारिश हो चुकी है। हालांकि पिछले साल से इस साल बारिश अब भी कम है। इसी तरह धनोरा क्षेत्र में भी रात में पानी गिरा। बारिश से फसलों को भी फायदा होगा। जिन किसानों ने अब तक बोवनी नहीं की थी वो बोवनी में जुट गए हैं।

लंबे अंतराल से बारिश नहीं होने से गोई नदी सूख गई थी। रलावती तालाब में भी पानी खत्म हो गया था। बारद्वारी स्टॉपडेम में 7 दिन का पानी शेष था। शहर में जलसंकट की आशंका लग रही थी। ऐसे में दो-तीन दिन से हो रही बारिश से गोई नदी में पानी आ गया। इससे अब राहत मिलेगी। मंगलवार रात हुई बारिश के बाद नगरपालिका सीएमओ कैलाश वैष्णव बुधवार सुबह 7 बजे बारद्वारी फिल्टर प्लांट गए। गोई नदी का जलस्तर देखा।

धनोरा में उफना नाला, पुलिया के ऊपर से बहा पानी
लंबे इंतजार के बाद धनोरा क्षेत्र में मंगलवार को देररात क्षेत्र में तेज बारिश हुई। मंगलवार रात 1 बजे क्षेत्र में मूसलाधार बारिश हुई। इससे नदी-नाले उफान पर रहे। गांव के मध्य स्थित मुख्य नाला रात में उफान पर रहा नाले के उफान पर आने के कारण पानी पुलिया के ऊपर से गुजरा। रात होने से वाहनों की आवाजाही नहीं होने से जाम की स्थिति नहीं बनी लेकिन नाले के आसपास रहने वाले रहवासी रातभर जागते रहे। नाले के पास खड़े चारपहिया वाहन भी पानी में डूब गए। लंबे इंतजार के बाद क्षेत्र में तेज बारिश होने से मुरझाई फसल में जान आ गई। इससे किसानों के चेहरे खिल उठे।

इधर... नाली में फंसा ट्राले का पहिया, 2 घंटे लगा जाम, जेसीबी की मदद से निकाला बाहर
मुख्य मार्ग पर पाइप लाइन बिछाने के लिए खोदी गई नाली में ट्राला फंसने से करीब 2 घंटे तक जाम लग गया। जेसीबी की मदद से ट्राले को बाहर निकालकर आवागमन सुचारू किया गया। बुधवार सुबह करीब 8 बजे सेंधवा से चाचरिया जा रहा ट्राला मुख्य मार्ग पर पाइप लाइन के लिए खोदी गई नाली में फंस गया। इसके कारण दोनों तरफ जाम लग गया। लोग शिवनिया-चिखली रोड होकर सेंधवा की ओर गए। रोड का निर्माण कार्य चलने के कारण मुख्य मार्ग की एक ही लाइन से आवागमन हो रहा है। वहीं रोड किनारे पाइप लाइन के लिए नाली खोद दी गई।

जिसे मिट्टी डालकर बंद कर दिया गया था लेकिन देररात में हुई तेज बारिश के कारण मिट्टी में नमी आने के कारण मिट्टी धंस गई। ऐसे में भारी-भरकम ट्राले का टायर नाली पर जाने से ट्राले का टायर फंस गया। एक ही लेन से आवागमन होने से रोड पर जाम लग गया। ट्राला फंसने के बाद बड़ी संख्या में लोगों की भीड़ जुट गई। रोड निर्माण कंपनी की जेसीबी बुलाकर ट्राले को कड़ी मशक्कत के बाद बाहर निकाला गया। इससे करीब 2 घंटे बाद आवागमन सुचारू हुआ।

खबरें और भी हैं...