पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

सीबीएसई 12वीं रिजल्ट:4 विषयों के प्राप्तांक का औसत निकाल 5वें विषय में दिए अंक, 100% रहा रिजल्ट

बड़वानी10 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • कोविड-19 के कारण वैकल्पिक प्रश्नपत्र की नहीं हो पाई थी परीक्षा, सेंधवा की हर्षिता ने 97% अंक हासिल किए, पहले तीन स्थान पर कॉमर्स की छात्राएं

सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकंडरी एजुकेशन (सीबीएसई) ने सोमवार को 12वीं कक्षा का रिजल्ट घोषित किया। कोविड-19 के कारण इस बार दो विषयों की परीक्षा नहीं हो सकी थी। बोर्ड ने सेल्फ असेस्मेंट व 4 विषयों में प्राप्त अंकों का औसत निकालकर पांचवें विषय में अंक देकर विद्यार्थियों को पास किया। जिले के सेंधवा निवासी कॉमर्स की छात्रा हर्षिता बंसल प्रथम स्थान पर रही। हर्षिता ने 97 फीसदी अंक हासिल किए। टॉपर ने बताया हर टॉपिक को स्कूल में ही अच्छे से समझ कर घर और आकर दोहराती थी।

केंद्रीय विद्यालय के प्रभारी प्राचार्य कुंदन राठौर ने बताया कोरोना वायरस के कारण हिन्दी आधार व इंफारमेटिक्स प्रैक्टिस विषय का पेपर नहीं हो सका था। इस कारण रिजल्ट में देरी हुई। वहीं बोर्ड ने 4 विषयों में प्राप्त अंकों का औसत प्राप्तांक निकालकर पांचवें विषय में अंक दिए हैं। सीबीएसई की कक्षा 12वीं का परिणाम आने की सूचना दोपहर 12 बजे के बाद मिली। विद्यार्थियों ने सीबीएसई की वेबसाइट और स्कूल के माध्यम से परिणाम पता किया। बोर्ड ने रिजल्ट जारी करने से पहले कोई आधिकारिक जानकारी नहीं दी थी। वहीं इंटरनेट की धीमी गति के कारण जल्द नतीजे सामने नहीं आए। स्कूलों में शिक्षक शाम तक विद्यार्थियों के रिजल्ट निकालने में लगे रहे। टॉप 3 में कॉमर्स की छात्राएं रही। जिले के सेंधवा निवासी छात्रा हर्षिता बंसल ने 97 फीसदी, प्रेरणा अग्रवाल ने 96.8 और उर्वशी अग्रवाल ने 96.4 प्रतिशत अंक हासिल किए है।

कोर्ट फैसला... असेसमेंट से जारी किया रिजल्ट
सीबीएसई की बोर्ड परीक्षाएं 15 फरवरी से शुरू हुई थीं। 10वीं की परीक्षाएं 20 मार्च तक जबकि 12वीं परीक्षाएं 30 मार्च तक चलना थी। सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद सीबीएसई ने शेष परीक्षाओं को निरस्त कर दिया था और असेसमेंट स्कीम के आधार पर रिजल्ट जारी करने का फैसला किया था।

जानिए... तीन टाॅपर्स ने बताई परीक्षा की ऐसे की तैयारी

1. चैप्टर निर्धारित किया
हर्षिता बंसल ने बताया स्कूल से आने के बाद वो रोजाना 2 घंटे पढ़ाई करती थी। स्कूल में जो पढ़ाया जाता था उसे अच्छे से समझ लेती थी और घर आकर दोहरा लेती थी। परीक्षा के समय चैप्टर निर्धारित करके पढ़ाई थी। हर्षिता ने कहा टीवी और मोबाइल से दूरी बना ली थी। आधे घंटे मूड फ्रेश करने के लिए गेम खेलती थी। वे आगे बैंक पीओ की तैयारी करेंगी। नियमित पढ़ाई करें। रिवीजन करें। हर्षिता के पिता अनाज व्यवसायी है और माता ग्रहिणी है।

2. 95% का रखा था लक्ष्य
प्रेरणा अग्रवाल ने बताया जनवरी से पढ़ना शुरू किया। तीन से चार घंटे पढ़ती थी। शिक्षक जैसा बोलते थे वैसे ही पढ़ाई की। परीक्षा के दौरान सिर्फ रिवीजन किया। उन्होंने बताया 95 फीसदी अंक लाने का लक्ष्य था। 96.8 प्रतिशत अंक प्राप्त किए है। पढ़ाई के दौरान टीवी व मोबाइल देखना कम किया। हालांकि पूरी तरह से दूरी नहीं बनाई। भविष्य में एमबीए या सीए करना चाहती है। पिता की ऑटो पार्ट्स की दुकान है और मां ग्रहिणी है। 
3. सोशल मीडिया से रही दूर
उर्वशी अग्रवाल ने बताया स्कूल और बाद में घर पर करीब 3 घंटे पढ़ाई करती थी। दो बार रिवीजन किया। परीक्षा के समय मोबाइल का उपयोग कम कर दिया था। सोशल मीडिया से पूरी तरह से दूरी बना ली थी। टीवी नहीं देखती थी। शिक्षकों को कभी भी कॉल करो, तो वे समस्या का समाधान करते थे। पिता ऑटो मोबाइल व्यवसायी है और मां ग्रहिणी है। आगे सीए बनना है। इसके लिए अभी से पढ़ाई शुरू कर दी है।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- समय कड़ी मेहनत और परीक्षा का है। परंतु फिर भी बदलते परिवेश की वजह से आपने जो कुछ नीतियां बनाई है उनमें सफलता अवश्य मिलेगी। कुछ समय आत्म केंद्रित होकर चिंतन में लगाएं, आपको अपने कई सवालों के उत...

    और पढ़ें