पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

अब तक 727 काेराेना पाॅजिटिव:सीएम ने कहा-कांटेक्ट ट्रेसिंग में लापरवाही से बढ़ी संक्रमितों की संख्या, फिर मिले 27 नए मरीज

बड़वानी14 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • 3 दिनी लॉकडाउन में जहां ज्यादा संक्रमित मिलेंगे, वहां जनप्रतिनिधियों व अफसरों ने लिया था बंद करने का फैसला, जो दोषी होंगे उन पर होगी कार्रवाई

जिले में शनिवार से 3 दिन का लॉकडाउन शुरू हुआ। पहले दिन जिले में सन्नाटा रहा। वहीं शहर में लोग आवाजाही करते रहे। कुछ स्थानों पर रोक-टोक नहीं दिखी, जबकि कुछ पाइंट पर पुलिस ने पूछताछ के बाद लोगों काे जाने दिया। वहीं अब कलेक्टर, शासन की बिना अनुमति के जिले में लॉकडाउन नहीं लगा सकेंगे। शुक्रवार कलेक्टोरेट में जिला क्राइसिस मैनेजमेंट कमेटी की बैठक में कैबिनेट मंत्री, सांसद और अफसरों ने फैसला लिया था 3 दिन में जिस क्षेत्र में ज्यादा संक्रमित मिलेंगे, वहां लॉकडाउन की अवधि बढ़ा सकते हैं। इसको लेकर सीएम शिवराजसिंह चौहान ने प्रदेश के सभी कलेक्टरों से लॉकडाउन लगाने का अधिकार वापस ले लिया है। वहीं जिले में शनिवार देर रात 27 लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई। अब जिले में कुल 727 मरीज हो गए हैं। अब जिले में दो दिन और लॉकडाउन रहेगा। इस बीच ज्यादा संक्रमित मिलने पर नए आदेश भी जा सकते हैं। जानकारी के अनुसार मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान ने जिले में लगातार बढ़ रही कोरोना की संख्या पर चिंता जताई है। उन्होंने कांटेक्ट ट्रेसिंग में लापरवाही को गंभीर माना है। इस लापरवाही काे लेकर दोषियों के खिलाफ कार्रवाई करने को कहा है।

सीएम ने की दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की बात
पिछले कुछ दिनों में कोरोना संक्रमितों की संख्या तेजी से बढ़ी है। जिले में अब तक 700 संक्रमित हैं। यह बढ़ता आंकड़ा कांटेक्ट ट्रेसिंग में हुई लापरवाही का नतीजा है। इसके पीछे मुख्य वजह लोगों द्वारा प्राइवेट जांच को माना जा रहा है। लॉकडाउन में जिले में 53 संक्रमित मिले थे। वहीं अनलॉक-1 में 64 और अनलॉक-2 में 583 कोरोना पाॅजिटिव मिले हैं। अब जिले में कोरोना पॉजिटिव की संख्या 727 हो गई है। कांटेक्ट ट्रेसिंग में लापरवाही के कारण कई लोगों ने प्राइवेट जांच करवाने के साथ इंदौर के निजी अस्पतालों में इलाज करवाया था। दरअसल स्वास्थ्य विभाग ने कोरोना पॉजिटिव रिकार्ड में अब उन 29 लोगों को भी जोड़ा है, जिन लोगों ने प्राइवेट जांच करवाई थी। यह आंकड़े अब स्टेट पोर्टल में दर्ज हुए हैं। इसके बाद सीएम ने कांटेक्ट ट्रेसिंग में लापरवाही और दोषियों के खिलाफ कार्रवाई करने की बात कही है।

सीएम चौहान का आदेश पूरे प्रदेश के लिए है
कलेक्टर शिवराजसिंह वर्मा ने लाॅकडाउन के अधिकार वापस लेने को लेकर बताया कि सीएम ने पूरे मप्र के लिए आदेश दिए हैं। सिर्फ बड़वानी ही मुख्य वजह नहीं है। उन्होंने माना कि कांटेक्ट ट्रेसिंग में चूक हुई है। उन्होंने बताया कि पूर्व में कई लोगों ने इंदौर जाकर इलाज करवाया है। प्राइवेट जांच भी करवाई है। कांटेक्ट ट्रेसिंग होती तो यह स्थिति नहीं बनती।

लापरवाही... लोगों ने की गलियों से आवाजाही
लॉकडाउन के कारण शहर के मुख्य मार्गाें पर पुलिस बल तैनात था। झंडा चौक, बस स्टैंड, कोर्ट चौराहा, कारंजा चौक, चंचल चौराहा पर बेरिकेड्स लगाए थे। बावजूद लोग गलियों से आवाजाही करते नजर आए। वहीं चंचल चौराहे पर बिना किसी रोक-टोक के लोग आवाजाही करते नजर आए।

हेल्थ बुलेटिन

  • 414 लोगों की रिपोर्ट आई निगेटिव
  • 11408 लोगों के सैंपल जांच के लिए भेजे गए
  • 700 लोगों की रिपोर्ट अब तक आई पॉजिटिव
  • 1215 लोगों की रिपोर्ट अाना बाकी
  • 9407 लोगों की रिपोर्ट अब तक आई निगेटिव
  • 351 लोगों को इलाज के बाद मिली अस्पताल से छुट्‌टी
  • 342 कोरोना संक्रमितों का बड़वानी व इंदौर में इलाज जारी

कार्रवाई... 35 चालान, 40 पर दर्ज किए केस
लॉकडाउन के पहले दिन शनिवार को बिना मास्क घूमने पर पुलिस ने 35 लोगों के चालान बनाकर 100-100 रुपए जुर्माना वसूला है। वहीं बिना वजह घूमने पर 40 लोगों के खिलाफ 6 केस दर्ज किए गए। लोगों से लॉकडाउन का पालन कराने के लिए अफसरों सहित राजस्व अमला शहर में भ्रमण करता रहा। टीआई राजेश यादव ने बताया ओलिंपिक सर्कल, नवलपुरा, पाटी नाका, चंचल चौराहा व तिरछी पुलिया पर पाइंट लगाकर लोगों से पूछताछ की गई। इस दौरान बिना वजह घूमने पर 40 लोगों के खिलाफ केस दर्ज किए।

0

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव - धर्म-कर्म और आध्यामिकता के प्रति आपका विश्वास आपके अंदर शांति और सकारात्मक ऊर्जा का संचार कर रहा है। आप जीवन को सकारात्मक नजरिए से समझने की कोशिश कर रहे हैं। जो कि एक बेहतरीन उपलब्धि है। ने...

और पढ़ें