पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

पड़ोसी जिलों में भारी बारिश की चेतावनी:असर बड़वानी में भी, मौसम वैज्ञानिकों का कहना- बंगाल की खाड़ी में फिर सक्रिय हुआ बारिश कराने वाला सिस्टम

बड़वानी21 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
सतपुड़ा की पहाड़ी में बहने लगा झरना। - Dainik Bhaskar
सतपुड़ा की पहाड़ी में बहने लगा झरना।

जिले में पिछले कुछ दिनों से बारिश का दौर थमा है। जो अब फिर शुरू होगा। मौसम विभाग ने पड़ोसी जिले धार, अलीराजपुर, खरगोन में भारी बारिश होने की चेतावनी दी है। इसका असर बड़वानी जिले में भी होने की उम्मीद है। मौसम वैज्ञानिक पीके साहा ने बताया कि बंगाल की खाड़ी में निम्न दबाव का क्षेत्र सक्रिय होने की संभावना है। इस कारण से जिले में अच्छी बारिश होगी।

सोमवार को शहर में सुबह से दोपहर तक मौसम साफ था और तेज धूप निकली। इस कारण लोग गर्मी से परेशान हुए। वहीं शाम करीब 4 बजे मौसम बदला और 10 मिनट तक हल्की बूंदाबांदी हुई। वहीं देररात तक बादल छाए रहे। बूंदाबांदी होने के बाद उमस बढ़ी। मौसम वैज्ञानिकों का कहना है कि आने वाले चार दिन तक जिले में अच्छी बारिश होने की उम्मीद है। वहीं कृषि वैज्ञानिकों के अनुसार फसलों के लिए अभी अच्छी बारिश की जरूरत है। यदि अच्छी बारिश नहीं होती है तो पैदावार प्रभावित हो सकती है।

यह सिस्टम सक्रिय - वर्तमान में मानसून ट्रफ अनूपगढ़, हिसार, दिल्ली, हरदोई, सीधी, कोरबा, बालागीर और कलिंगपट्टनम से होते हुए पूर्व मध्य बंगाल की खाड़ी तक फैली है। पश्चिमोत्तर राजस्थान, पंजाब, कच्छ और मराठवाड़ा के क्षेत्रों में चक्रवातीय एक्टीविटी हैं। वहीं उत्तर मध्य बंगाल की खाड़ी में सक्रिय चक्रवातीय एक्टीविटी के प्रभाव में बंगाल की खाड़ी के उत्तर मध्य क्षेत्र में निम्न दाब क्षेत्र के सक्रिय होने की संभावना बनी हुई है।

सूखे की चपेट में बड़वानी जिला, 16 अन्य जिलों

मौसम विभाग के अनुसार बड़वानी समेत प्रदेश के 17 जिले सूखे की चपेट में आ गए हैं। इन जिलों में 20 से लेकर 47 फीसदी से कम बारिश हुई है। इंदौर, धार, बड़वानी, खरगोन, हरदा, होशंगाबाद, नरसिंहपुर, सागर, दमोह, छतरपुर, पन्ना, कटनी, उमरिया, जबलपुर, मंडला, सिवनी और बालाघाट रेड जोन में है।

खबरें और भी हैं...