पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

मुख्यमंत्री कोविड उपचार योजना में निजी अस्पतालों का होगा पंजीयन:खाद्यान्न पर्ची व परिजन के आयुष्मान कार्ड से भी मिलेगा मुफ्त इलाज

बड़वानीएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

कोरोना महामारी में आर्थिक रूप से कमजोर लोगों के इलाज के लिए मुख्यमंत्री ने मुख्यमंत्री कोविड उपचार योजना शुरू की है। इसके तहत आर्थिक रूप से कमजोर लोगों को नि:शुल्क इलाज मिलेगा। आयुष्मान कार्ड नहीं बना होने की स्थिति में खाद्यान्न पर्ची व परिजन के आयुष्मान कार्ड के आधार पर संबंधित को इलाज मिल सकेगा। वहीं योजना के तहत निजी अस्पतालों को पंजीयन कराना होगा। इसको लेकर शुक्रवार को कलेक्टोरेट में अपर कलेक्टर लोकेश कुमार जांगिड़ ने निजी अस्पताल संचालकों की बैठक ली।

जांगिड़ ने बताया आयुष्मान कार्डधारक के परिवार का कोई सदस्य जिसका आयुष्मान कार्ड नहीं बना है और वह कोविड पॉजीटिव होता होकर अस्पताल पहुंचता है, तो उसे तीन तरह से अस्पताल में प्रवेश मिल सकता है। परिवार के किसी सदस्य का आयुष्मान कार्ड व खाद्यान्न पर्ची, जिसके माध्यम से यह पता चले कि वह आयुष्मान कार्डधारक के परिवार का सदस्य है। आयुष्मान कार्डधारी परिवार के एक सदस्य का आयुष्मान कार्ड व उसके साथ समग्र आईडी, जिसके माध्यम से यह पता चले कि वह आयुष्मान कार्डधारक परिवार का सदस्य है।

आयुष्मान के लिए 20% बेड होंगे आरक्षित
कलेक्टर ने अस्पताल संचालकों को बताया योजना का लाभ जिले के आयुष्मान योजना कार्डधारी परिवार के प्रत्येक सदस्य को मिले। इसके लिए जिले के सभी निजी अस्पताल अपना पंजीयन जल्द से जल्द करवाएं। इसके लिए संस्थान अपना सहमति पत्र जिला प्रशासन को देंगे। इसके आधार पर अगले 48 घंटे में उन्हें इसकी अनुमति मिल जाएगी। अस्पताल में उपलब्ध कुल बेड संख्या का कम से कम 20 प्रतिशत बेड आयुष्मान कार्डधारी को उपलब्ध कराएंगे।

खबरें और भी हैं...