पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Khandwa
  • Barwani
  • Gayatri Parivar And Narmada Samagra Workers Are Giving Online Training To Make Clay Ganesh Idols Online To People Due To Corona Period

नर्मदा शुद्धि अभियान:लोगों को ऑनलाइन दे रहे मिट्‌टी की गणेश प्रतिमा बनाने का प्रशिक्षण, गायत्री परिवार व नर्मदा समग्र के कार्यकर्ता कोरोना काल की वजह से ऑनलाइन दे रहे प्रशिक्षण

बड़वानी10 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
ऑनलाइन प्रशिक्षण लेकर गणेश प्रतिमा बनाते हुए। - Dainik Bhaskar
ऑनलाइन प्रशिक्षण लेकर गणेश प्रतिमा बनाते हुए।

पीओपी से बनी प्रतिमाओं की स्थापना कम से कम हो और नदियों को दूषित होने से बचाया जा सके। इस उद्देश्य को लेकर गायत्री परिवार व नर्मदा समग्र के कार्यकर्ता लोगों को पिछले 11 साल से मिट्‌टी के गणेश की स्थापना करवा रहे हैं। इस बार कोरोना काल की वजह से मिट्‌टी के गणेश बनाने का प्रशिक्षण ऑनलाइन दिया जा रहा है।

कार्यकर्ताओं ने बताया नर्मदा शुद्धि अभियान के तहत लोगों को गणेश प्रतिमा बनाने का प्रशिक्षण दे रहे हैं। 5000 से ज्यादा स्वयंसेवक मिट्टी के गणेश बनाकर व प्रशिक्षण देकर मिट्‌टी के गणेश की स्थापना करा रहे हैं। 10 सितंबर से गणेश उत्सव शुरू होना है।

कोरोना काल में नर्मदा क्षेत्र में अमरकंटक, होशंगाबाद, नेमावर, उज्जैन, देवास, खरगोन, खंडवा, बुरहानपुर, ओंकारेश्वर, महेश्वर, मंडलेश्वर, बड़वानी व गुजरात क्षेत्र के छोटे-बड़े सहित 20 केंद्रों पर ऑनलाइन मिट्टी की प्रतिमा निर्माण की कार्यशाला चल रही है। युवा प्रकोष्ठ के जिला संयोजक लखन विश्वकर्मा ने बताया गायत्री परिवार व कई सामाजिक संस्थाओं की मदद से भी लगातार जागरूकता आ रही है।

प्रशिक्षण में 25 हजार से ज्यादा प्रतिमाएं बनी

कार्यकर्ताओं ने बताया अलग-अलग जगह पर चल रही प्रशिक्षण कार्यशाला से जुड़कर अब तक 25 हजार से ज्यादा प्रतिमाएं बनाई है। प्रतिमा बनाने में औषधियुक्त गाय का गोबर प्रीमियम तैयार करके प्रतिमा बना रहे हैं। इस साल ट्री गणेश जिसमें बेलपत्र, गिलोय, मीठा नीम, पीपल, अशोक, गुलहर, आम, खैर, शमी के पौधों के साथ श्री गणेशजी विराजमान रहेंगे। प्रतिमा में बीज मिलाए हैं। ताकि विसर्जन कर मिट्‌टी को गमले में डालने से पौधे उगें। इस साल 6 इंच से 2 फीट तक की प्रतिमाएं बनाई है।

खबरें और भी हैं...