पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

सीवरेज लाइन:2 साल में 21 किमी डाली पाइप लाइन, यही हाल रहे तो काम पूरा होने में लगेंगे 16 साल

बड़वानी16 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
भीलखेड़ा में ट्रीटमेंट प्लांट का निर्माण कार्य जारी है। - Dainik Bhaskar
भीलखेड़ा में ट्रीटमेंट प्लांट का निर्माण कार्य जारी है।
  • शहर में 158 किमी डलना है पाइप लाइन, 5000 चेंबर में से अब तक 215 ही बने

अंडरग्राउंड सीवरेज लाइन शहरवासियों के लिए मुसीबत का सबब बन गई है। तहल कंपनी को दो साल में काम पूरा करना था। लेकिन अक्टूबर 2019 में शुरू हुआ काम अब भी अधूरा है। हाल ये है कि निर्माण एजेंसी ने 2 साल में मात्र 21 किमी पाइप लाइन ही बिछाई है। जबकि शहर में 158 किमी क्षेत्र में पाइप लाइन डलना है। 5000 चेंबर में से मात्र 215 चेंबर ही बने हैं। ट्रीटमेंट प्लांट व अन्य काम भी अधूरे हैं।

नतीजा यह है कि अब कंपनी ने पेटी कांट्रेक्ट पर मुंबई की जीएमजी ग्रीन इंफ्रा सॉल्यूशन एलएलपी कंपनी को ठेका दिया है। जिसे एक साल में काम पूरा करना है। लेकिन फिलहाल की स्थिति को देखते हुए 16 साल में भी सीवरेज लाइन का काम पूरा होने की उम्मीद नहीं है। अक्टूबर 2019 में 107 करोड़ रुपए की योजना का काम शुरू हुआ। धीमी गति से काम होने के कारण सड़कों का निर्माण नहीं हुआ है। इससे लोगों को परेशान होना पड़ रहा है।

कर्मचारी कॉलोनी में हुआ रेस्टोरेशन का काम

मुंबई की कंपनी ने पिछले महीने काम शुरू किया है। कर्मचारी कॉलोनी, रुक्मणी नगर, मधुबन कॉलोनी में सड़क की मरम्मत की जा रही है। वार्ड क्रमांक 1 के कुशवाह मोहल्ला, चर्च के आगे, सिकलीगर मोहल्ला में सड़क की मरम्मत होना है। व का काम पूरा होने काे है। आशाग्राम रोड, कुशवाह कॉलोनी, कसरावद बसाहट में पाइप लाइन डालने का काम शुरू किया है। आशाग्राम रोड पर चट्टान मजबूत होने से खुदाई में समय ज्यादा लग रहा है। ब्लास्टिंग की मंजूरी मिलने पर काम जल्द होगा। इसके लिए प्रयास जारी है।

लाइन डालने में सुस्ती का नतीजा ये है कि 15-20 सड़कों का काम रूक गया

अब पेटी कांट्रेक्टर एजेंसी का नया दावा: 1 साल में करेंगे काम पूरा

निर्माण एजेंसी के सुपरवाइजर आनंद शर्मा ने बताया पहले हुए काम के बारे में ज्यादा जानकारी नहीं है कि उन्होंने किस तरह काम किया। लेकिन हम एक साल में काम पूरा करेंगे। भीलखेड़ा में पानी साफ करने के लिए सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट (एसटीपी) का काम जारी है। शर्मा ने बताया नवंबर तक एसटीपी का काम पूरा हो जाएगा। प्लांट शुरू होने पर एसटीपी से रोजाना 9 एमएलडी (मिलीयन लीटर पर डे) पानी फिल्टर कर सिंचाई के लिए मिलेगा।

और इधर... सेंधवा में भी 25 प्रतिशत ही हुआ काम

सेंधवा| शहर में अंडर ग्राउंड सीवरेज परियोजना का काम मात्र 25 प्रतिशत हो पाया है। 94 किमी पाइप लाइन बिछाना है। इसमें से 10 किमी पाइपलाइन ही डाली गई है। सेमलिया के पास स्थित सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट के अलावा वरला रोड पर पाइप लाइन डाली जा रही है। इसके अलावा शिव कॉलोनी से रोड की मरम्मत का काम भी शुरू किया गया है। अब मुंबई की एजेंसी को काम दिया है। इससे पहले तहल ने 5 से 6 पेटी कॉन्ट्रेक्टर को काम दिया था। अब एक ही एजेंसी को काम दे दिया है। शिव कॉलोनी, अग्रवाल कॉलोनी सहित अन्य स्थानों पर पाइप लाइन डालने के बाद लोगों को असुविधा हो रही थी।

सीधी बात लक्ष्मण चौहान,
नपाध्यक्ष, बड़वानी

  • सीवरेज लाइन का काम दो साल बाद भी अधूरा क्यों है?
  • एक साल कोरोना के कारण व अनुबंध में देरी के कारण काम पूरा नहीं हुआ है।
  • धीमी गति से काम होने पर आपने क्या किया?
  • निर्माण के लिए एमपीयूडीसी को 4 पत्र लिखे। परिषद की बैठक में ठहराव-प्रस्ताव कर पानसेमल विधायक के जरिए विधानसभा में प्रश्न उठवाया। इसके बाद अब काम शुरू हुआ है।
  • Q.योजना अधूरी रहने से कौन से विकास कार्य नहीं हुए?
  • योजना के कारण शहर में छोटी-बड़ी 15 से 20 सड़कों का निर्माण रुका हुआ है। जिन क्षेत्रों में निर्माण होगा, वहां रोड बनाना शुरू कर देंगे।
  • इसी गति से काम चला, आगे क्या करेंगे?
  • भोपाल में एमपीयूडीसी के अफसरों से चर्चा की है। अफसरों ने दूसरी एजेंसी को काम देकर जून 2022 तक निर्माण कार्य पूरा कराने का भरोसा दिया है। धीमी गति से काम करने पर एक महीने बाद नगरीय प्रशासन मंत्री से भी चर्चा करेंगे।
खबरें और भी हैं...