पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

सुविधा:लोअर गोई बांध के 3 गेट खोलने से नदी में आया पानी

बड़वानी19 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
सिलावद स्थित गोई नदी में बहता पानी। - Dainik Bhaskar
सिलावद स्थित गोई नदी में बहता पानी।
  • बैराज से ओवर फ्लो होकर बह रहा पानी, क्षेत्र के किसानों को सिंचाई में हो रहा फायदा

लोअर गोई बांध के गेट का मरम्मत कार्य होने से 3 गेट खोलकर पानी छोड़ा गया है। इससे सिलावद गोई नदी में बने बैराज के ऊपर से पानी बह रहा है। नदी में पानी आ जाने से किसानों को सिंचाई के लिए पर्याप्त पानी मिल गया। वहीं गर्मी से राहत पाने के लिए नगर के युवा नदी में नहाने का लुत्फ उठा रहे हैं। बांध से पानी छोड़ने के बाद नदी में 4 से 5 फीट तक पानी बह रहा है। पिछले साल मई माह में पूरी नदी सूखी हुई थी। लोअर गोई बांध के गेट का मरम्मत कार्य कराया जा रहा है। इसके चलते गुरुवार को बांध के तीन गेट खोल देने से गोई नदी में पानी आया। यहां पर पानी को रोकने के लिए बैराज बनाया गया था बैराज भरा होने से अब पानी ओवर फ्लो होकर नदी में आगे बह रहा है। गर्मी में कपास बोने वाले किसानों ने इसका फायदा उठा लिया। किसानों ने नदी से पानी लेकर सिंचाई के लिए इसका उपयोग किया।

वहीं दो दिनों से नगर के युवा व बच्चे नदी में नहाने का लुत्फ उठा रहे हैं। वहीं बड़ी संख्या में महिलाएं भी कपड़े धोने के लिए नदी पर पहुंच रही हैं। नदी में बहता पानी देखने के लिए पुल से आने-जाने वाले राहगीर रुककर इसका लुत्फ उठा रहे हैं। पिछले साल मई में नदी सूखी हुई थी। किसान गेंदालाल डावर ने बताया पानी मिलने से कपास की फसल को फायदा हुआ है। वहीं खरीफ सीजन में बोवनी करने के बाद बारिश होने तक दिक्कत नहीं आएगी। नदी में पानी आ जाने से 15 से 20 किसानों को फायदा हुआ है।

खबरें और भी हैं...