पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Khandwa
  • Burhanpur
  • 8135 Active Cases In 4 Districts Of Maharashtra Bordering The Border, Strictness Again From Tomorrow, Investigation Will Be Done On The Borders

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

फिर बढ़ रहा कोरोना:सीमा से लगे महाराष्ट्र के 4 जिलों में 8135 एक्टिव केस, कल से फिर सख्ती, सीमाओं पर होगी जांच

बुरहानपुर/देड़तलाई11 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
अमरावती के भाकरबलड़ी की चौकी। यहां लॉकडाउन के बाद भी आवागमन पर रोक नहीं है। - Dainik Bhaskar
अमरावती के भाकरबलड़ी की चौकी। यहां लॉकडाउन के बाद भी आवागमन पर रोक नहीं है।
  • महाराष्ट्र से फिलहाल रोजाना हजारों लोगों की आवाजाही, अभी कोई जांच नहीं हो रही
  • अमरावती डिविजन के पांच जिलों में 1 मार्च तक लॉकडाउन
  • सतर्क नहीं हुए तो और फैल सकता है संक्रमण

तीन ओर से महाराष्ट्र घिरे बुरहानपुर जिले में कोरोना संक्रमण का खतरा एक बार फिर बढ़ गया है। सीमा से लगे महाराष्ट्र के चार जिलों में कोरोना के 8135 एक्टिव मरीज हैं। बढ़ते संक्रमण के कारण इनमें से तीन जिलों में 1 मार्च तक लॉकडाउन लगा दिया गया है। लेकिन महाराष्ट्र से बुरहानपुर आने-जाने वाली बसों पर रोक नहीं लगाई गई है।

यहां से रोजाना 50 से ज्यादा बसों में तीन हजार से ज्यादा यात्री बुरहानपुर आना-जाना कर रहे हैं। इस कारण खतरा और बढ़ गया है। इसको देखते हुए प्रशासन बुधवार से सख्ती बरतेगा। सीमाओं पर थर्मल स्क्रीनिंग और जांच की जाएगी। शादी-विवाह, त्योहार और मेलों को लेकर भी गाइड लाइन तय की जाएगी। इसको लेकर मंगलवार शाम तक कलेक्टर आदेश जारी करेंगे।

कोरोना को लेकर महाराष्ट्र में हाईअलर्ट है और इसका सीधा असर बुरहानपुर जिले पर पड़ेगा। बुरहानपुर से लगे अमरावती, अकोला, बुलढाणा और जलगांव जिले में संक्रमितों की संख्या लगातार बढ़ रही है। इसको देखते हुए अमरावती डिवीजन के अमरावती, अकोला, बुलढाणा, वाशिम और यवतमाल में 1 मार्च तक लॉकडाउन लगाया गया है। लेकिन यहां से आने वाली बसों पर फिलहाल किसी तरह की रोक-टोक नहीं लगाई गई है। सोमवार को भी आम दिनों की तरह महाराष्ट्र से बसें आईं-गईं। इनमें तीन हजार से ज्यादा यात्री पहुंचे, लेकिन किसी के भी स्वास्थ्य की जांच नहीं की गई।

10 किमी दूर जलगांव बाॅर्डर, महाराष्ट्र जाने के लिए एक दर्जन से ज्यादा रास्ते

बुरहानपुर से 10 किमी की दूरी पर महाराष्ट्र की बॉर्डर शुरू होती है। चार रास्तों के अलावा एक दर्जन से ज्यादा रास्तों से महाराष्ट्र आवागमन होता है। लोणी, इच्छापुर, अंतुर्ली और देड़तलाई जिले में आने के मुख्य रास्ते हैं, लेकिन यहां पर किसी तरह की रोक-टोक नहीं हो रही है। अमरावती में लॉकडाउन है, लेकिन देड़तलाई के पास अमरावती की भोकरबलड़ी चौकी से किसी तरह की रोक नहीं लगाई गई है।

पहले महाराष्ट्र के रास्ते फैला था संक्रमण

जिले में पिछली बार भी महाराष्ट्र के रास्ते संक्रमण तेजी से फैला था। जलगांव, अमरावती, बुलढाना और औरंगाबाद से आवागमन होने के कारण दर्जनों संक्रमित मिले थे। इस बार भी इसी बात का डर है। स्वास्थ्य विभाग भी इस बात को मान रहा है कि महाराष्ट्र में संक्रमण बढ़ने से बुरहानपुर जिले में असर ज्यादा होगा।

हैदराबाद से आया युवक संक्रमित निकला, फरवरी महीने में 21 पॉजिटिव मरीज मिले
सोमवार को हैदराबाद से मामा के यहां बुरहानपुर आया एक युवक संक्रमित मिला। इंदिरा कॉलोनी में 19 वर्षीय युवक को बुखार आने पर खून व अन्य जांच कराई थी। इस समय कोराेना जांच भी हुई। उसकी रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आई है। फरवरी में अब तक कुल 21 संक्रमित मरीज मिले हैं। 14 मरीज अभी एक्टिव हैं। महाराष्ट्र के रास्ते संक्रमण बढ़ता है तो मरीज और बढ़ सकते हैं।

लोग लापरवाह, मास्क लगाना तक छोड़ा

जिले में पिछले कुछ महीनों में संक्रमण में कमी आई है। इस कारण लोग भी लापरवाह हुए हैं। अधिकांश लोगों ने तो मास्क तक लगाना बंद कर दिया है। सोशल डिस्टेंस का भी ध्यान नहीं रखा जा रहा है। पिछली बार की तरह यह लापरवाही भारी पड़ सकती है। इस बात का ध्यान रखना होगा कि अभी मास्क ही वैक्सीन है।

कलेक्टर बोले- बुधवार से बरतेंगे सख्ती, आज शाम तक जारी करेंगे आदेश

जिले में भी बुधवार से कुछ सख्ती बरती जाएगी। सीमाओं पर थर्मल स्क्रीनिंग और जांच की जाएगी। इसके अलावा शादी, त्योहार और मेलों को लेकर भी गाइड लाइन तय की जाएगी। इसके लिए मंगलवार शाम तक निर्देश जारी करेंगे। -प्रवीण सिंह, कलेक्टर बुरहानपुर

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज समय कुछ मिला-जुला प्रभाव ला रहा है। पिछले कुछ समय से नजदीकी संबंधों के बीच चल रहे गिले-शिकवे दूर होंगे। आपकी मेहनत और प्रयास के सार्थक परिणाम सामने आएंगे। किसी धार्मिक स्थल पर जाने से आपको...

    और पढ़ें