पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

शांति समिति:राजनीतिक कार्यक्रमों में प्रशासन ही कर रहा इंतजाम, धर्म के काम में कोरोना आड़े आ रहा, यह कैसा नियम

बुरहानपुर8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • कंट्रोल रूम में आगामी पर्व को लेकर एसडीएम व डीएसपी से सदस्यों ने कहा-

आगामी पर्व को लेकर कोतवाली के कंट्रोल रूम में शांति समिति की बैठक हुई। सदस्याें ने सरकार की कोरोना की गाइडलाइन पर सवाल उठाए और धार्मिक कार्यक्रमों में भेदभाव करने का आरोप लगाया। बुधवार शाम कंट्रोल रूम में बैठक शुरू हुई। एसडीएम केआर बड़ोले ने कहा कोरोना के संक्रमण की वजह से शासन की गाइडलाइन अनुसार पर्व मनाने होंगे। भीड़ वाले कोई भी धार्मिक कार्यक्रम मनाने से इनकार कर दिया है। पांच से ज्यादा लोग कहीं भी एकत्रित नहीं हो सकते। इस पर कुछ सदस्य सरकार की गाइडलाइन पर भड़क गए। अधिवक्ता राजेश कोरोवाला और खलील अंसारी ने कहा सरकार का यह कैसा नियम है। जिस तरह चुनावी कार्यक्रमों को छूट दे रहे हैं। उस तरह धार्मिक पारंपरिक कार्यक्रमों को छूट मिलना चाहिए। एक ओर प्रशासन राजनीतिक कार्यक्रमों के सारे इंतजाम कर रहा है। सिर्फ धर्म के काम में ही कोरोना आड़े आ रहा है। एसडीएम ने कहा जैसे निर्देश मिल रहे हैं, वैसे काम कर रहे हैं। सदस्यों ने कहा जब तक पर्व है, पाइप लाइन के लिए गड्‌ढों की खुदाई बंद कराएं। जितनी जगह खुदा पड़ा है, उस रोड को दुरुस्त कराएं। जगह-जगह गंदगी पड़ी है। सफाई नहीं हो रही है। सहायक आयुक्त सलीम खान ने कहा आधा स्टाफ हटा दिया था। अब वापस बुला लिया है। पहले की तरह सफाई होगी। कुछ ने स्ट्रीट लाइट और बार-बार बिजली जाने की शिकायत की। चर्चा के बीच कंट्रोल रूम की बिजली बंद हो गई। बिजली कंपनी के अफसर बगले झांकने लग गए। एसडीएम के बोलने पर दोबारा बिजली सुचारु की गई।

खबरें और भी हैं...