पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

मगरीब की नमाज:हजरत शाह भिखारी के उर्स पर पांच शताब्दी बाद उतावली नदी में नहीं होगी मगरीब की नमाज

बुरहानपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

हजरत शाह निजामुद्दीन भिखारी (चिश्ती) का शुक्रवार को 535वां उर्स मनाया जाएगा। उतावली तट की नूर बलड़ी पर उन्होंने अंतिम सांसें ली थी। इस उपलक्ष्य में उर्स का आयोजन होता है और तभी से उतावली नदी में उनकी याद में मगरीब की नमाज पढ़ी जाती है लेकिन पांच शताब्दी पुरानी यह परंपरा इस बार टूट रही है। कोरोना संक्रमण के कारण नमाज की अनुमति नहीं दी गई है। हजरत शाह भिखारी इस्लाम धर्म का प्रचार करने निकले थे। हजरत शाह सिंध प्रांत के चिश्ती नगर के रहने वाले थे। पूरे हिंदुस्तान में भ्रमण कर अंतिम दौर में बुरहानपुर आए। उतावली नदी तट पर एकांत में धर्म का प्रचार किया। वे इस्लाम धर्म में बहुत बड़े सूफी कहलाए। 535 साल पहले उनके उर्स पर मगरीब की नमाज सूखी उतावली नदी में पढ़ने की परंपरा शुरू हुई। शताब्दियों पुरानी यह परंपरा अब तक कायम रही। नमाज अदा करने के लिए देश के अलग-अलग हिस्सों से 50 हजार से ज्यादा जायरीन यहां आते हैं लेकिन कोरोना संक्रमण के कारण प्रशासन ने नमाज अदा करने की अनुमति नहीं दी है। दरगाह के सज्जाद नशीन सैय्यद आरिफ मीर ने बताया उनका परिवार 11 पीढ़ी से दरगाह की सेवा में लगा है। हर साल हजारों जायरीन यहां उर्स पर इबादत करने आते हैं और शाम को मगरीब की नमाज अदा करते हैं। इस बार मगरीब की नमाज नहीं होगी लेकिन जायरीन इबादत के लिए आ रहे हैं। मगरीब की नमाज अदा करने की परंपरा उर्स की शुरुआत से ही चली आ रही है।

सूख चुकी उतावली में होती है नमाज
पूरे प्रदेश में इकलौता बुरहानपुर ऐसा शहर है, जहां किसी दरगाह के उर्स पर मगरीब की नमाज में इतनी बड़ी संख्या में जायरीन आते हैं। यहां सूख चुकी उतावली नदी के मैदान में साल में एक बार ही नमाज होती है। देशभर से उर्स पर नमाज अदा करने के लिए विशेष रूप से यहां जायरीन एकत्र होते हैं। उर्स पर प्रदेश के बुरहानपुर सहित इंदौर, उज्जैन, मालवा, गुजरात, महाराष्ट्र और राजस्थान से भी अनुयायी जियारत करने यहां पहुंचेंगे।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज व्यक्तिगत तथा पारिवारिक गतिविधियों के प्रति ज्यादा ध्यान केंद्रित रहेगा। इस समय ग्रह स्थितियां आपके लिए बेहतरीन परिस्थितियां बना रही हैं। आपको अपनी प्रतिभा व योग्यता को साबित करने का अवसर ...

और पढ़ें