पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

निरीक्षण:खेतों में पहुंंचे कृषि अधिकारी, किसानों को जरूरी सलाह दी

बुरहानपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • निंबोला, बसाड़ और मगरूल के खेतों में स्थिति देखी, कहा- दवा का छिड़काव करते रहे

चना फसल पर इल्लियों का प्रकोप बढ़ने के बाद रविवार को कृषि विभाग के अफसर खेतों में पहुंचे। उन्होंने निंबोला, बसाड़ और मगरूल क्षेत्र के खेतों का दौरा कर यहां चना फसल की स्थिति देखी। चना फसल के पत्ते तोड़कर उस पर लगी इल्ली देखी। अधिकारियों ने भी माना कि इल्ली काफी बड़ी हो गई। यह इस साल जनवरी में करीब हफ्ते भर तक मौसम खराब होने के कारण हुआ है। इल्लियों से फसल बचाने के लिए अधिकारियों ने किसानों को कीटनाशक दवा का छिड़काव करने के साथ अन्य जरूरी सलाह दी। किसानों से कहा फसल की देखरेख करते रहे, कोई समस्या हो तो तुरंत हमें बताएं। चना फसल पर इल्लियों का प्रकोप बढ़ने की खबर भास्कर में प्रकाशित होने के बाद कृषि अधिकारियों ने खेतों का रूख किया। फसलों की स्थिति देखने के लिए कृषि विभाग ने बुरहानपुर और खकनार विकासखंड के लिए दो दल बनाए हैं। इनमें दो-दो अधिकारियों को शामिल किया गया है। रविवार को बुरहानपुर विकासखंड के लिए गठित दल में शामिल वरिष्ठ कृषि विकास अधिकारी बीएस सोलंकी और ग्रामीण कृषि सहायक विस्तार अधिकारी महेंद्र चौबे निंबोला, बसाड़ और मगरूल क्षेत्र के खेतों में पहुंचे। रविवार होने के बावजूद उन्होंने सुबह 10 से दोपहर 3 बजे तक बजे तक खेतों में चना फसल की स्थिति जानी। उन्होंने किसानों से फसलों की स्थिति को लेकर चर्चा की। इल्ली से बचाव के लिए पहले से ही दवा का छिड़काव कर रहे किसानों से इसे जारी रखने को कहा। अधिकारियों ने कहा एक हफ्ते तक इसी दवा का छिड़काव करते रहे। इसके बाद भी इल्ली कम नहीं होती है तो हमें बताएं। उन्होंने कुछ दवाओं के नाम भी किसानों को बताए। इस दौरान अशोक पाटील, ज्ञानेश्वर पाटील, भास्कर चौधरी, बलवंत पाटील, शरद पाटील और फिरोज तड़वी सहित अन्य किसानों से चर्चा की।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- किसी विशिष्ट कार्य को पूरा करने में आपकी मेहनत आज कामयाब होगी। समय में सकारात्मक परिवर्तन आ रहा है। घर और समाज में भी आपके योगदान व काम की सराहना होगी। नेगेटिव- किसी नजदीकी संबंधी की वजह स...

    और पढ़ें