कांग्रेस कार्यकर्ता पर आरोप:बायो डीजल पंप संचालक ने लगाए ब्लैकमेलिंग और जान से मारने के आरोप, 20 लाख की मांग भी की थी

बुरहानपुर6 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
बायो डीजल पंप संचालक ने  कांग्रेस कार्यकर्ता पर लगाए ब्लैकमेलिंग के आरोप - Dainik Bhaskar
बायो डीजल पंप संचालक ने कांग्रेस कार्यकर्ता पर लगाए ब्लैकमेलिंग के आरोप

जिले के कांग्रेस अनुसूचित जाति विभाग के जिलाध्यक्ष और आरटीआई कार्यकर्ता विनोद मोरे के खिलाफ निंबोला पुलिस थाने ने ब्लैकमेलिंग का प्रकरण दर्ज किया है। बायो डीजल पंप संचालक मदनलाल चौधरी ने कांग्रेस नेता पर बायो डीजल पंप के नाम पर अवैध रूपए से 20 लाख रूपए मांगने का आरोप लगाते हुए शिकायत की थी। जिसके बाद पुलिस ने उसे उसके इंदिरा कॉलोनी स्थित निवास से गिरफ्तार कर मेडिकल कराकर न्यायालय में पेश किया।

मदनलाल चौधरी ने पुलिस को शिकायत में बताया कि मेरा बायो डीजल पंप झिरी गांव में स्थित है। शासन से नियम अनुसार अनुमति ली गई थी। इसके बाद संचालन किया जा रहा था। एक दिन पहले पेट्रोल पंप पर विनोद आया और 20 लाख रूपए मांगने लगा। मैंने पैसे मांगने का कारण पूछा तो विनोद बोला कि मैं आरटीआई कार्यकर्ता हूं। तुमने पेट्रोल पंप अवैध खोला है। मुझे पैसे देना पड़ेंगे। मना करने पर गालियां, जान से मारने की धमकी दी। पेट्रोल पंप पर मौजूद दोस्त पंकज पलोड ने आकर बीच बचाव किया।

वहीं कांग्रेस नेता और आरटीआई कार्यकर्ता विनोद मोरे ने इसे राजनीतिक हथकंडा बताते हुए कि ऐसा कुछ नहीं है। आरोप निराधार हैं। उसने कहा कि पंकज मेरा दोस्त है। हमारी हंसी मजाक चल रही थी। पैसा नहीं मांगा है। निंबोला थाना प्रभारी जगदीश कुमार झिंझोरे ने कहा कि आरोपी के खिलाफ केस दर्ज किया है। मामले की जांच कर रहे हैं।