पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

जल संकट:सेंटर खुलने पर नहीं थे कर्मचारी, सुबह 11 बजे तक सिर्फ 44 लोगों को लग पाया था टीका

बुरहानपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
महात्मा ज्योतिबा फुले वार्ड के माली मोहल्ले में बिना टोटी के नल से खाली समय पानी बहता रहता है। - Dainik Bhaskar
महात्मा ज्योतिबा फुले वार्ड के माली मोहल्ले में बिना टोटी के नल से खाली समय पानी बहता रहता है।

शाहपुर नगर परिषद क्षेत्र का भू-जल स्तर 200 फीट तक नीचे चला गया है। ऐसे में परिषद ने क्षेत्र में मोटर से पानी खींचने पर रोक लगा दी है। इधर, बिना टोटी सरकारी नलों से अभी भी पानी बह रहा है।

शाहपुर परिषद के 15 वार्डों में 19 हजार की आबादी को सुबह-शाम एक-एक घंटा पानी सप्लाय हो रहा हैं। यहां की पूरी आबादी परिषद के 34 ट्यूबवेल पर निर्भर है। भू-जलस्तर गिरने पर दूसरा कोई स्त्रोत नहीं बचता है। कोरोना कर्फ्यू में प्रतिष्ठान सहित अन्य काम बंद होने से फिलहाल पानी की खपत कम है। फिर भी क्षेत्र में तापमान बढ़ने से भू-जलस्तर 200 फीट तक नीचे गिर चुका है। अब दो ट्यूबवेल जलस्तर कम होने से पानी नहीं दे रहे हैं।

अन्य ट्यूबवेलों से भी पानी का फोर्स कम आने लगा है। ऐसे में परिषद ने पानी बचाने का अभियान शुरू किया है। सुबह कचरा जुटाने वाले वाहनों से अनाउंसमेंट करा रहे। इसमें उन्होंने मोटर से पानी खींचने पर पूरी तरह रोक लगाई है। अभियान से पहले मोटर से पानी खींच रहे सात कनेक्शन काट दिए। अभियान के तहत पानी का दुरुपयोग करने पर कनेक्शन काटे जाएंगे। पिछले चार से अनाउंसमेंट कर नागरिकों को परिषद ताकिद कर रही है।

क्षेत्र में परिषद के 10 नल सरकारी नल कनेक्शन भी नहीं है। इससे दुकानदार और कुछ रहवासी पानी की पूर्ति करते हैं। अधिकांश में टोटी नहीं होने से पानी व्यर्थ बहता रहता है। महात्मा ज्योतिबा फुले वार्ड के माली मोहल्ले में बिना टोटी का नल। जब तक बर्तन रहते हैं, व्यर्थ नहीं जाता। खाली समय नल बहता रहता है।

50 अवैध नल कनेक्शन 2 हजार रु. लेकर कराए वैध
पांच माह पहले अवैध नल कनेक्शन के खिलाफ परिषद ने अभियान चलाया था। इसमें नागरिकों से अवैध को वैध कराने के लिए मुनादी भी कराई गई। अवैध कनेक्शन की राशि जमा कर वैध कराने का आह्वान किया। ऐसे में 50 नल कनेक्शन वैध कराए गए, जिनसे 2 हजार शुल्क जमा कराया गया।

नलों में टोटी लगवाएंगे, लोगों को प्रेरित करेंगे
जल स्तर कम हो रहा है। पानी की किल्लत न हो। इसलिए मोटर से पानी खींचने पर रोक रहे हैं। कुछ कनेक्शन काटे भी है। नहीं माने तक और भी कनेक्शन काटेंगे। जिन नलों में टोटी नहीं, उनमें लगवाएंगे और नागरिकों को प्रेरित करेंगे।
धीरेंद्र सिकरवार, सीएमओ नगर परिषद शाहपुर

परिषद की स्थिति

  • 15 वार्ड परिषद में
  • 19 हजार जनसंख्या
  • 3500 वैध नल कनेक्शन
  • 15 नल अवैध कनेक्शन

अनाउंसमेंट में यह दे रहे हिदायत

  • तापमान बढ़ने से भू-जल स्तर घट रहा है।
  • किसी भी प्रकार से पानी व्यर्थ न बहाए।
  • पानी लेने नलों में मोटर न लगाए।
  • रोड, गाड़ी पर पानी न छिड़के।
  • निर्माण काम में मोटर से पानी न छिड़के।
खबरें और भी हैं...