पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

मजदूरों ने कहा:वनमंत्री शाह नेपा क्षेत्र में कर रहे रोजगार के दावे, उनके ही क्षेत्र से पलायन कर रहे मजदूर

बुरहानपुर8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • केवल चुनाव के समय ही आते हैं हमारे विधायक

नेपानगर विधानसभा उपचुनाव में वनमंत्री विजय शाह बतौर प्रभारी भाजपा की सभाओं में विकास और रोजगार के दावे कर रहे हैं लेकिन उनके ही विधानसभा क्षेत्र से मजदूर रोजगार की तलाश में अन्य प्रदेशों में पलायन कर रहे हैं। मिनी ट्रक सहित अन्य वाहनों में भरकर मजदूर महाराष्ट्र जा रहे हैं। बुधवार सुबह 9 बजे भी एक मिनी ट्रक में भरकर मंत्री के विधानसभा क्षेत्र के खालवा के गांव डाबिया से 40 से अधिक मजदूर देड़तलाई होते हुए महाराष्ट्र की ओर गए। इनमें महिलाएं और बच्चे भी थे। बुधवार को मिनी ट्रक से देड़तलाई पहुंचे मजदूरों से पलायन का कारण पूछा गया तो उन्होंने बताया हम खालवा तहसील के ग्राम डाबिया के रहने वाले हैं। गांव में काम नहीं मिलने के कारण महाराष्ट्र के औरंगाबाद जिले में मजदूरी करने जा रहे हैं। रोजी-रोटी के लिए पिछले 10-15 साल से मजदूरी करने दूसरे राज्यों में जा रहे हैं। इससे ही परिवार के लिए रोटी जुटा पा रहे हैं। यह कहने पर कि आपके विधायक तो प्रदेश सरकार में मंत्री हैं, उन्होंने क्षेत्र में रोजगार की व्यवस्था नहीं की। इस पर मजदूर बोले हमारे विधायक सिर्फ चुनाव के समय आते हैं। बाकी समय हरसूद के ही नेता गांव में घूमकर वोट मांगते हैं लेकिन किसी ने भी आज तक रोजगार की कोई व्यवस्था नहीं की है।

कुछ के पास 5 एकड़ तक खेती लेकिन फसल हुई खराब
महाराष्ट्र पलायन कर रहे मजदूरों में कुछ के पास तो पांच एकड़ तक खेती भी है लेकिन खेत में सिंचाई की कोई व्यवस्था नहीं है। मजदूरों ने बताया सूखे की फसल लेने के बाद हम दूसरे राज्यों में काम करने चले जाते हैं। इस साल सोयाबीन फसल पूरी तरह खराब हो गई। इससे सिर पर कर्ज भी बढ़ गया। इसलिए परिवार सहित औरंगाबाद जा रहे हैं। महाराष्ट्र में मप्र से ज्यादा मजदूरी मिलती है और हर सप्ताह रुपए भी नकद मिल जाते हैं।

खबरें और भी हैं...