पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

एक दशक बाद ऐसी स्थिति:12 साल में दूसरी बार नहीं लगा भगवान बालाजी का वार्षिक मेला

बुरहानपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पिछले साल 11 अक्टूबर को सतियारा घाट पर तीन दिनी मेले की रौनक थी। -फाइल फोटो
  • अक्टूबर 2008 के सांप्रदायिक दंगों के बीच सतियारा घाट पर नहीं लगा था मेला

पिछले 12 सालों में दूसरी बार ऐसी स्थिति बनी है कि सूर्य पुत्री ताप्ती तट के सतियारा घाट पर भगवान श्री बालाजी महाराज का वार्षिक मेला नहीं लग रहा है। नवरात्रि में जिले का यह सबसे बड़ा स्थानीय वार्षिक मेला है। तीन दिनी मेले में हर साल लाखों भक्त जुटते रहे हैं। इस साल सतियारा घाट पर अंधेरा और सन्नाटा पसरा हुआ है। दाते पंचांग अनुसार तिथि मंगलवार को ग्यारस लग रही है। ऐसे में सोमवार को श्रीजी का नियमित अभिषेक किया गया। शाम को भक्त दर्शन-पूजन के लिए पहुंचे।

हालांकि पहले की तरह भीड़ नहीं रही। मंगलवार शाम को ग्यारस पर श्रीजी का ताप्ती जल से अभिषेक करेंगे। सतियारा घाट से ताप्ती जल घड़ों में भरकर महाजनापेठ स्थित मंदिर लाएंगे। ब्राह्मणों की उपस्थिति में सादगीपूर्ण तरीके से जलाभिषेक होगा। यह अभिषेक परंपरा अनुसार नदी किनारे होता है। अनुमति नहीं मिलने से यह अनुष्ठान मंदिर में किया जाएगा। बुधवार को बारस और गुरुवार को तेरस के स्नान भी मंदिर में किए जाएंगे।

परंपरा अनुसार बारस और तेरस को साल में एक बार भक्त श्रीजी को छूकर दर्शन करते हैं। इस साल मंदिर के अंदर ही श्रद्धालु दर्शन के लिए पहुंच सकेंगे। 29 अक्टूबर को तीन दिनी अनुष्ठान की पूर्णाहुति होगी। 30 अक्टूबर को कोजागिरी पूर्णिमा पर दर्शन खुलेंगे। मंदिर परिसर के चांदनी चौक में श्रीजी दर्शन देने आएंगे। बैठा मेला के रूप में यहां सोशल डिस्टेंस में दर्शन होंगे।

दंगे की वजह से 2008 में निरस्त हुआ था मेला, मंदिर में ही किए थे अनुष्ठान

10 अक्टूबर 2008 में शहर के मुख्य बाजार में मामूली विवाद हुआ था। देखते ही देखते मामूली विवाद के बाद शहर की फिजा बिगड़ गई। दूसरे दिन गांधी चौक से भड़का दंगा पूरे शहरभर में फैल गया था। इस दौरान शहर में परंपरा अनुसार बालाजी उत्सव चल रहा था। सांप्रदायिक दंगे की वजह से पूरा उत्सव निरस्त करना पड़ा था। मंदिर के अंदर रहकर ही सारे अनुष्ठान किए गए थे।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- यह समय विवेक और चतुराई से काम लेने का है। आपके पिछले कुछ समय से रुके हुए व अटके हुए काम पूरे होंगे। संतान के करियर और शिक्षा से संबंधित किसी समस्या का भी समाधान निकलेगा। अगर कोई वाहन खरीदने क...

और पढ़ें