पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

कोरोना:भोटा फाटा ‌और लोनी चौकी से आवाजाही की बंद देड़तलाई पर सिर्फ लॉकडाउन में सख्ती के आदेश

बुरहानपुर10 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • देड़तलाई से लगे महाराष्ट्र के अमरावती जिले में 914 व अकोला में 1879 अब तक कुल पॉजिटिव

लगातार बढ़ रहे कोरोना संक्रमण को नियंत्रित करने के लिए जिला प्रशासन ने महाराष्ट्र की ओर से आवागमन पर रोक लगाई है। लेकिन इसमें भी लापरवाही बरती जा रही है। भोटा फाटा और लोनी चौकी से आवाजाही पूरी तरह बंद है। लेकिन देड़तलाई चौकी पर सिर्फ लॉकडाउन में सख्ती बरतने के आदेश हैं। इस रास्ते से महाराष्ट्र के अमरावती और अकोला जिला जुड़ा है। इन जिलों के साथ ही बुरहानपुर जिले के लोग भी यहां से आवाजाही कर रहे हैं। लेकिन यहां रविवार के लॉकडाउन को छोड़कर आवाजाही पर कोई रोक नहीं है। जबकि अमरावती में 914 और अकोला में 1879 कोरोना संक्रमित मिल चुके हैं।

जिले में जुलाई के 13 दिनों में 30 पॉजिटिव मरीज मिल चुके हैं। इन सभी का सीधा संपर्क महाराष्ट्र से रहा है। इसी कारण ये संक्रमित हुए हैं। जिले की सीमा से लगे महाराष्ट्र के जिलों में कोरोना संक्रमण बेकाबू हो गया है। इस कारण प्रशासन यहां से आवाजाही पर रोक लगाने का प्रयास कर रहा है। लेकिन देड़तलाई चौकी पर कोई रोक-टोक नहीं है। जबकि यहां से सीधा संपर्क महाराष्ट्र के अमरावती, अकोला और औरंगाबाद जिले से है। व्यापार-व्यवसाय के लिए भी यहां से लगातार आवागमन हो रहा है। ऐसे में संक्रमण का खतरा और ज्यादा बढ़ सकता है।

यह भी लापरवाही : स्क्रीनिंग छोडि़ए आने-जाने वालों की इंट्री भी नहीं हो रही
इस रास्ते से आवागमन करने और जिले में प्रवेश करने पर न तो स्क्रीनिंग की जा रही है और न हीं आने-जाने वालों की कोई इंट्री की जा रही है। ऐसे में इस रास्ते से संक्रमित क्षेत्रों से भी लोग जिले में पहुंचते हैं तो उनकी जानकारी प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग के पास नहीं होगी।

इसलिए ज्यादा सख्ती नहीं : लॉकडाउन के दिन प्रतिबंध लगाने के आदेश
आरटीओ चौकी प्रभारी राजेश कुमरे ने बताया महाराष्ट्र से आवागमन पर रोक लगाने के लिए उनके पास कोई आदेश नहीं हैं। रविवार को लॉकडाउन के दिन प्रतिबंध के आदेश हैं। लेकिन उसके लिए भी पुलिस बल ही यहां तैनात होगा। इस रविवार पुलिस बल भी नहीं आया, इसलिए ज्यादा सख्ती नहीं थी।

सब्जी-किराना का व्यापार सबसे ज्यादा, व्यापारी भी आते-जाते हैं हर दिन
बुरहानपुर और खंडवा के व्यापारी देड़तलाई रोड से ही सब्जी-किराना का व्यापार करते हैं। व्यापारी भी वाहनों से यहां से आते-जाते हैं। उनका सीधा संपर्क लोगों से होता है। आकोला, बुलढाना और औरंगाबाद में जिले के कई लोगों की रिश्तेदारी है। इस कारण भी यहां से आवाजाही हो रही है। कई लोग धार्मिक स्थलों के दर्शन के लिए जा रहे हैं। लेकिन यहां उन्हें रोकने वाला कोई नहीं है। देड़तलाई और आसपास के क्षेत्र से धारणी, परतवाड़ा, अमरावती, अकोला और आकोट के लिए हर दिन लोग आवाजाही कर रहे हैं।

10 जुलाई को जारी किए प्रतिबंधात्मक आदेश
बढ़ते संक्रमण को देखते हुए कलेक्टर प्रवीण सिंह ने 10 जुलाई को बॉर्डर से बिना अनुमति आवागमन पर प्रतिबंध लगाया है। उनके द्वारा जारी आदेश में जलगांव के अलावा अमरावती, बुलढाना और औरंगाबाद से आवागमन पर रोक लगाने के लिए कहा गया था। इन क्षेत्रों में जाकर लौटने पर 14 दिन क्वारेंटाइन रहने के भी निर्देश हैं। लेकिन देड़तलाई चौकी पर आदेश का पालन नहीं हो रहा है।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव - कुछ समय से चल रही किसी दुविधा और बेचैनी से आज राहत मिलेगी। आध्यात्मिक और धार्मिक गतिविधियों में कुछ समय व्यतीत करना आपको पॉजिटिव बनाएगा। कोई महत्वपूर्ण सूचना मिल सकती है इसीलिए किसी भी फोन क...

    और पढ़ें