• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Khandwa
  • Burhanpur
  • Said Banana Growers Are Not Getting The Benefit Of Prime Minister's Crop Insurance For Two Years In My Parliamentary Constituency Khandwa

संसद में सांसद में उठाया मुद्दा:कहा- मेरे संसदीय क्षेत्र खंडवा में दो साल से केला उत्पादक किसानों को नहीं मिल रहा प्रधानमंत्री फसल बीमा का लाभ

बुरहानपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
सांसद ज्ञानेश्वर पाटिल। - Dainik Bhaskar
सांसद ज्ञानेश्वर पाटिल।

बुरहानपुर के सांसद बनने के बाद मंगलवार को पहली बार सांसद ज्ञानेश्वर पाटिल ने संसद में शीतकालीन सत्र के सातवें दिन अपना संबोधन दिया। लोकसभा अध्यक्ष ओम बिड़ला ने उनका परिचय दिया। इसके बाद ज्ञानेश्वर पाटिल ने कृषि मंत्री की ओर ध्यान आकर्षित करते हुए कहा कि मेरे संसदीय क्षेत्र खंडवा में पिछले दो साल से केला उत्पादक किसानों को प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना का लाभ नहीं मिल पा रहा है। उन्होंने कहा खंडवा संसदीय क्षेत्र में केला, गन्ना, कपास मिर्च सहित अन्य दहलन, तिलहन की फसलें होती हैं।

केला विदेशों में भी निर्यात हो रहा है। परंतु आंधी तूफान की अनेक प्रकार की आपदाएं आने के बाद किसानों को जो फसल बीमा लाभ मिलना चाहिए। वह नहीं मिल रहा है। पीएम को धन्यवाद देते हुए कहा कि आपने इतनी अच्छी योजना चालू की। इसे केले पर भी लागू कर किसानों की समस्या का निराकरण करें।

क्यों नहीं मिला केले पर प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना का लाभ

दरअसल बुरहानपुर जिले के किसानों को साल 2018 से प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना का लाभ मिलन शुरू हुआ था, लेकिन 2020 से केंद्र सरकार की ओर से केले पर प्रीमियम जमा कराने का नोटिफिकेशन जारी नहीं किया गया जो कि जारी करना जरूरी होता है।

इसके बाद ही किसान अपना प्रीमियम जमा कर बीमा का लाभ उठाते हैं, लेकिन नोटिफिकेशन जारी नहीं होने की स्थिति में किसानों ने जो प्रीमियम बैंकों में जमा किया था वह बैंक ने वापस लौटा दिया था। तब से अब तक जिले के किसानों को केले पर प्रधानमंत्री फसल बीमा का फायदा नहीं मिल रहा है।

यह हो रहा नुकसान

बारिश, आंधी में केला फसल खराब होने पर किसानों को प्रधानमंत्री फसल बीमा के तहत बीमा नहीं होने पर राजस्व विभाग के नियम आरबीसी छह चार के मुआवजा दिया जाता है, लेकिन यह मुआवजा पर्याप्त नहीं होता। किसान जितनी राशि फसल को खड़ी करने में लगाते हैं उसकी उतनी लागत भी नहीं निकल पाती।

इसलिए जिले के किसान काफी दिनों से मांग कर रहे हैं कि केले पर प्रधानमंत्री फसल बीमा का लाभ दिया जाए। अब सांसद ने संसद में यह मांग उठाई तो उम्मीद जागी है कि किसानों को इस समस्या से निजात मिलेगी।