मिसाल / रीता के प्रसव के लिए सलमा ने पति-बच्चों को घर भेजा

Salma sent husband and children home for Rita's delivery
X
Salma sent husband and children home for Rita's delivery

  • प्रशासन ने निजी वाहन से घर भेजने की व्यवस्था की, रेलवे अधिकारियों के काम को सराहा
  • लॉकडाउन यादव के लिए कलेक्टर खरीदकर लाए कपड़े, 5000 रुपए दिए

दैनिक भास्कर

May 24, 2020, 05:45 AM IST

बुरहानपुर. श्रमिक एक्सप्रेस में प्रसव पीड़ा होने पर रीता की सहायता के लिए सलमा बानो आगे आईं। प्रसव पीड़ा के कारण जब रीता को बुरहानपुर स्टेशन पर उतरना पड़ा तो सलमा अपने दो साल के बेटे के साथ उतर गई। पति और बच्चों को कहा- आप ट्रेन से घर चले जाओ मैं रीता के साथ आ जाऊंगी।
लॉकडाउन में स्नेह की यह मिसाल बुरहानपुर स्टेशन पर देखने को मिली। शुक्रवार सुबह 5 बजे बुरहानपुर स्टेशन पर रीता पति उदयभान यादव को प्रसव पीड़ा होने पर उतारा गया था। अस्पताल में उन्होंने बेटे को जन्म दिया, जिसका नाम लॉकडाउन यादव रखा गया। उनकी सहायता के लिए सलमा बानो अंसारी भी ट्रेन से उतर गई थीं। सलमा रीता के पड़ोस में ही रहती हैं और उनका काफी पुराना परिचय है। ट्रेन से भी दोनों परिवार एक साथ ही घर लौट रहे थे। रीता को तकलीफ हुई तो सलमा से देखा न गया और वे भी उसकी सहायता के लिए यहीं ठहर गईं। सलमा ने रीता के बेटे का बहन की तरह ध्यान रखा।
कलेक्टर सिंह ने कराई ई-पास और परिवार के लिए वाहन की व्यवस्था
लॉकडाउन यादव के जन्म और परिवार की परेशानी को जानकर जिला प्रशासन उनकी सहायता करने पहुंचा। कलेक्टर प्रवीणसिंह दो दिन के लॉकडाउन यादव के लिए कपड़े खरीदकर लाए। परिवार के घर जाने के लिए उत्तरप्रदेश के आंबेडकर नगर तक ई-पास और गाड़ी की व्यवस्था भी की गई। बच्चे के जन्म प्रमाण पत्र के साथ पांच हजार रुपए नकद सहायता राशि भी दी गई। कलेक्टर ने कहा- श्रमिक परिवार जिले का मेहमान था। इसलिए उनकी पूरी व्यवस्था करना हमारी जिम्मेदारी थी। उन्हें सुरक्षित घर पहुंचाया जाएगा। रेल प्रबंधन और अधिकारियों ने भी सराहनीय कार्य किया और महिला की त्वरित सहायता की।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना