पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

धोखा:सुमित्रा ने धोखा देकर पार्टी के सम्मान को ठेस पहुंचाई, हमें चुनाव को इतिहास बनाना है

बुरहानपुर13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

पूर्व विधायक सुमित्रा कास्डेकर आप सबको, पार्टी और पदाधिकारियों को धोखा देकर भाजपा में शामिल हुई हैं। उन्होंने कांग्रेस के मान-सम्मान को ठेस पहुंचाई है। हमें यह मान-सम्मान वापस लाना है। पार्टी ने मुझ पर भरोसा कर तीसरी बार टिकट दिया है। इस चुनाव को हम सबको इतिहास बनाना है। धुलकोट में हुए कांग्रेस के कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित करते हुए प्रत्याशी रामकिशन पटेल ने यह बात कही। सम्मेलन में पूर्व प्रदेशाध्यक्ष और पूर्व केंद्रीय मंत्री अरुण यादव सहित सभी पदाधिकारी और कई कार्यकर्ता शामिल हुए लेकिन पटेल को प्रत्याशी बनाने का विरोध कर रहे क्षेत्र के आदिवासी नेता अंतरसिंह बर्डे और टिकट के अन्य 17 दावेदार सम्मेलन में नहीं पहुंचे। जिलाध्यक्ष अजयसिंह रघुवंशी ने कहा सुमित्रा कास्डेकर अरुण यादव को भगवान और कांग्रेस पार्टी को मां कहती थीं लेकिन वे मां की हुई न भाई की तो वे आम जनता की क्या होंगी। पैसों के लिए हमारे वोट बेच दिए। धोखेबाज, गद्दार को हराकर रामकिशन पटेल को जिताना है। बिकाऊ नहीं टिकाऊ उम्मीदवार चाहिए।

जो सिंधिया देश के ही नहीं हुए, वो जनता के क्या होंगे
पूर्व केंद्रीय मंत्री अरुण यादव ने कहा ज्योतिरादित्य सिंधिया और उनके साथी विधायकों ने यह धोखा कांग्रेस पार्टी को नहीं पूरे प्रदेश की जनता को दिया है। सिंधिया ने झांसी की रानी को अंग्रेजों के साथ मिलकर प्रताड़ित किया। झांसी पर कब्जा किया। जो सिंधिया देश के नहीं हुए, वो आम जनता के क्या होंगे। हम सुमित्रा कास्डेकर को छोटी बहन और बेटी मानते थे। इतिहास गवाह है जिसने धोखा दिया है, उसे ऊपर वाला भी कभी माफ नहीं करता। सम्मेलन में ग्रामीण अध्यक्ष किशोर महाजन, युवक कांग्रेस जिलाध्यक्ष प्रमोद आमोदे, विधानसभा प्रभारी आरके दोगने, उपाध्यक्ष विजयेता चौहान, इंटक अध्यक्ष संतोष भास्कर, छज्जूलाल महाजन, लालसिंह बारेला, बलिराम घाटे, आजम बेग और शेख अब्दुल सहित अन्य पदाधिकारी और कार्यकर्ता मौजूद थे। आभार मंडल अध्यक्ष चंद्रकांत गंगराड़े ने माना।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- अगर आप कुछ समय से स्थान परिवर्तन की योजना बना रहे हैं या किसी प्रॉपर्टी से संबंधित कार्य करने से पहले उस पर दोबारा विचार विमर्श कर लें। आपको अवश्य ही सफलता प्राप्त होगी। संतान की तरफ से भी को...

और पढ़ें