पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

छत का पानी जमीन में...:50 सरकारी कार्यालयों की छतों का पानी जमीन में उतारा जाएगा, ट्यूबवेल भी किए जाएंगे रिचार्ज

बुरहानपुर10 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • निगम अब तक 18 स्थानों पर लगा चुका वॉटर हार्वेस्टिंग सिस्टम

शहर में 50 से अधिक सरकारी कार्यालयों की छतों का पानी जमीन में उतार कर भू-जल स्तर बढ़ाया जाएगा। इसके लिए निगम द्वारा रेन वॉटर हार्वेस्टिंग सिस्टम लगाया जा रहा है। अब तक 18 स्थानों पर यह सिस्टम लगाया जा चुका है। वहीं 16 वार्डों में 45 बोरवेल रिचार्ज करने के लिए भी यह सिस्टम लगाया जा चुका है। इस काम की शुरुआत मार्च में की गई थी लेकिन लॉकडाउन के कारण काम रुक गया था। इस कारण फिर से काम शुरू कर भू-जल स्तर बढ़ाने के लिए 15 अगस्त तक काम पूरा करने का लक्ष्य रखा है। भवनों की छत का पानी जमीन में उतारने के लिए तेजी से काम किया जाएगा।
पाइप लाइन डालकर लगाया जा रहा फिल्टर
भू-जल स्तर बढ़ाने के लिए भवनों की छत से जमीन तक पाइप लाइन बिछाई जा रही है। इसमें फिल्टर  और वॉल्व लगाकर पानी को जमीन में व्यवस्थित ढंग से उतारा जा रहा है ताकि आस-पास के जल स्रोत रिचार्ज हो सके और गर्मी में लोगों को पीने के पानी की समस्या नहीं हो।
यहां पर लगाया जा चुका है सिस्टम 
नगर निगम कार्यालय, आदिवासी होस्टल, जिला पंचायत, यातायात थाना, न्यायालय परिसर, वन विभाग, शहर की प्राथमिक और हाईस्कूल, जिला उद्योग केंद्र सहित अन्य स्थान।

समय पर कराया जाएगा काम

रेन वॉटर हार्वेस्टिंग सिस्टम लगाने का काम समय पर पूरा कराया जाएगा।  लॉकडाउन के कारण कुछ समय के लिए काम बंद हो गया था। प्रयास कर रहे हैं कि इसी महीने के अंत तक काम पूरा हो जाए।  -संजय शुक्ला, प्रभारी सहायक यंत्री

नागचून तालाब भरने वाली नहरों की सफाई का विधायक ने किया निरीक्षण, गहरीकरण के निर्देश

नागचून तालाब पूरी क्षमता से भर सके, इसके लिए तालाब को भरने वाली नहरों की सफाई का काम किया जा रहा है। मंगलवार को विधायक देवेंद्र वर्मा ने मौके पर पहुंचकर निरीक्षण किया। इस दौरान तालाब में गहरीकरण तथा स्टोन पेविंग कराए जाने के निर्देश भी दिए। इस अवसर पर प्रभारी निगम आयुक्त दिनेश मिश्रा, केएमसी इंजीनियर संजय शुक्ला, प्रभारी सहायक यंत्री एचआर पांडे  भी साथ थे।

स्लो सेंट फिल्टर प्लांट पर कब्जा कर बनाई जा रही मछली पालन की हैचरी

निगम की संपत्ति पर अवैध कब्जा करने के लिए शुरू हो गया काम, जिम्मेदार अफसरों ने कहा नहीं है जानकारी

55 साल पहले बने इस स्लो सेंट फिल्टर प्लांट पर अवैध कब्जा करने के लिए इसमें मोटर पंप से पानी भरा जा रहा है। 

नागचून तालाब के ऐतिहासिक स्लो सेंट फिल्टर प्लांट पर अवैध कब्जा कर मछली पालन की हैचरी बनाई जा रही है। 55 साल पहले 1965 में बनाए गए इस फिल्टर प्लांट का उपयोग निगम ने 1998 तक किया। इसके बाद लाल चौकी क्षेत्र में दूसरा फिल्टर प्लांट बनाए जाने के बाद इसका उपयोग बंद कर दिया गया था। पर्यटन के लिए नागचून जाने वाले लोगों के आकर्षण का केंद्र इस ऐतिहासिक फिल्टर प्लांट पर एक व्यक्ति द्वारा अवैध कब्जा किया जा रहा है। कब्जा करने वाले व्यक्ति द्वारा स्लो सेंट फिल्टर प्लांट के टैंक में मोटर पंप से पानी डालकर इसे भरा जा रहा है। इसके बावजूद निगम के जिम्मेदार अफसर इस मामले में अनभिज्ञता जता रहे हैं। कुछ समय पहले इसी फिल्टर प्लांट के पास स्थित ऐतिहासिक रेस्ट हाउस पर भी एक व्यक्ति द्वारा अवैध रूप से कब्जा किया जा रहा था। बाद में निगम आयुक्त ने कब्जा हटाकर कार्रवाई के निर्देश दिए थे। इसी तरह पानी सप्लाई करने के उद्देश्य से बनाए इस फिल्टर प्लांट पर भी कब्जा करने के प्रयास राजनीतिक हस्तक्षेप से किए जा रहे हैं। 

हमारे विभाग का मामला नहीं  
हमने फिल्टर प्लांट किसी को नहीं दिया है। हमारे विभाग का मामला नहीं है। शायद जल विभाग ने किसी को दिया हो।
-अशोक तारे, प्रभारी बाजार अधिकारी 
दो लोगों ने दिए थे आवेदन 
 नागचून के पुराने फिल्टर प्लांट में निगम किसी तरह का काम नहीं करवा रहा है। इसके लिए शायद दो लोगों ने आवेदन दिए थे, मुझे अधिक जानकारी नहीं है।
-दिनेश मिश्रा, प्रभारी आयुक्त

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज घर के कार्यों को सुव्यवस्थित करने में व्यस्तता बनी रहेगी। परिवार जनों के साथ आर्थिक स्थिति को बेहतर बनाने संबंधी योजनाएं भी बनेंगे। कोई पुश्तैनी जमीन-जायदाद संबंधी कार्य आपसी सहमति द्वारा ...

    और पढ़ें