पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

संक्रमण की चेन तोड़ना जरूरी:एसडीएम ने कहा- सख्ती से कराए कर्फ्यू का पालन, सचिव बोला- पुलिस सहयोग नहीं करती

कालमुखीएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
संक्रमण की चेन तोड़ने के लिए एसडीएम ने ली बैठक। - Dainik Bhaskar
संक्रमण की चेन तोड़ने के लिए एसडीएम ने ली बैठक।
  • कोरोना कर्फ्यू का पालन कराने कालमुखी में बैठक लेने आईं एसडीएम खेड़े
  • एसडीएम ने टीआई को बुलाया, लेकिन 2 घंटे बाद भी नहीं आए, इस पर टीआई बोले- मुझे बैठक की सूचना नहीं थी

जिले में 24 मई तक कोरोना कर्फ्यू बढ़ा दिया गया है। कोरोना कर्फ्यू का कड़ाई से पालन कराने के लिए शनिवार दोपहर एसडीएम ममता खेड़े कालमुखी में ग्रामीणों की बैठक लेने पहुंचीं। यहां उन्होंने सरपंच, सचिव सहित ग्रामीणों से चर्चा की। इस दौरान सरपंच व सहायक सचिव ने कहा कि पुलिस हमारा सहयोग नहीं करती तो कर्फ्यू का पालन कैसे होगा।

यह सुनते ही एसडीएम खेड़े ने मौके से तत्काल धनगांव टीआई एचएस रावत को फोन लगाकर बैठक में आने को कहा, लेकिन टीआई दो घंटे बाद भी यहां नहीं पहुंचे। इस पर भास्कर ने सवाल उठाया कि जब टीआई एसडीएम की नहीं सुन रहे, पंचायत को क्या सहयोग करते होंगे। एसडीएम खेड़े ने जवाब दिया कि मैं एसपी से बात करूंगी। इधर, टीआई ने कहा एसडीएम ने मुझे कोई सूचना नहीं दी थी कि मैं बैठक ले रही हूं। सूचना मिलने के बाद मैं पहुंचा था।

गांव सहित क्षेत्र में कोरोना संक्रमण लगातार फैल रहा है। विगत दिनों जिला अस्पातल में गांव के दो युवाओं की कोरोना से मौत हो चुकी है। यहां सर्दी, खांसी व बुखार के मरीजों की संख्या ज्यादा है। इसको देखते हुए शनिवार दोपहर 3 बजे एसडीएम ममता खेड़े व बीएमओ डॉ. योगेश सोनी ने उप स्वास्थ्य केंद्र पर ग्रामीणों व निजी चिकित्सकों की बैठक ली।

एसडीएम ने सरपंच सुखलाल नंदोरे व रोजगार सहायक हरिराम बघीले से कहा कि आप रविवार से गांव में कोरोना कर्फ्यू का सख्ती से पालन कराए। जो व्यापारी नियमों का पालन नहीं करें उन पर जुर्माने के साथ सील कराने की कार्रवाई करें। इस पर सरपंच नंदोरे ने कहा, मैडम हमने कई बार व्यवसायियों से आग्रह के साथ सख्ती भी की, लेकिन सफलता नहीं मिली।

हमने धनगांव थाना पुलिस को भी स्थिति से अवगत कराया। शिकायत के बाद थाना पुलिस ने सहयोग नहीं किया। फोन लगाने पर भी टीआई फोन नहीं उठाते। इस पर जब एसडीएम ने टीआई को फोन कर कालमुखी आने को कहा, लेकिन इस दौरान टीआई नहीं पहुंचे। करीब 2 घंटे बाद शाम 5.30 बजे टीआई रावत कालमुखी पहुंचे तब तक एसडीएम खंडवा के लिए रवाना हो चुकी थीं। इधर, बैठक में कालमुखी में 6 बेड का कोविड सेंटर बनाने का भी विचार किया गया।

मैंने कालमुखी पहुंचने के बाद दी थी सूचना

मैंने कालमुखी पहुंचने के बाद उन्हें सूचना दी थी। वे कई आउट साइड में थे। मैं वहां से निकलीं जब वह पहुंच चुके थे। मेरी बात हो गई है। टीआई कल से आकर गांव में कर्फ्यू का पालन कराएंगे।
ममता खेड़े, एसडीएम, खंडवा

सरपंच-सचिव कर्फ्यू का पालन करा रहे

सरपंच-सचिव खुद पुलिस के साथ घूमकर कर्फ्यू का पालन करा रहे हैं। इसके बाद भी लोग नहीं मान रहे हैं। एसडीएम ने मीटिंग को लेकर मुझे कोई सूचना नहीं दी थी कि मैं बैठक ले रही हूं। सूचना मिलने के बाद मैं पहुंचा था। एसडीएम जा चुकी थीं। नायब तहसीलदार से मेरी बात हुई है। गांव में नियमों का पालन कराएंगे।
हरेक सिंह रावत, टीआई, धनगांव थाना

खबरें और भी हैं...